Submit your post

Follow Us

दंगों में होने वाले नुकसान की भरपाई किस तरह किए जाने का नियम है?

हाल में बेंगलुरु में हुए हिंसा के मामले में कर्नाटक सरकार उत्तर प्रदेश सरकार का फ़ॉर्मूला अपनाने जा रही है. इसके तहत हिंसा में शामिल दोषियों से ही संपत्ति की भरपाई की जाएगी. इसको लेकर सीएम बी.एस. येदियुरप्पा ने ट्वीट किया-

सरकार ने केजी हल्ली और डीजी हल्ली में हुई हिंसक घटनाओं में सार्वजनिक और निजी संपत्ति को हुए नुकसान का आकलन करने और दोषियों से लागत वसूलने का फैसला किया है. हम सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के मुताबिक़, क्लेम कमिश्नर की नियुक्ति के लिए हाई कोर्ट जाएंगे.

येदियुरप्पा ने यह फैसला गृहमंत्री बासवराज बोम्मई के साथ राज्य सरकार के कई अधिकारियों और सेक्रेटरी के साथ बातचीत के बाद किया है.

पहले जानिए, क्या हुआ था बेंगलुरु में

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में 11 अगस्त की देर रात उपद्रवियों ने कांग्रेस विधायक श्रीनिवास मूर्ति के घर को निशाना बनाया था. इस हिंसा में श्रीनिवास के घर को भी नुकसान पहुंचा था. इसके बाद पुलिस स्टेशन पर भी हमला किया गया. कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया. इस पूरी हिंसा में तीन लोगों की मौत हो गई. करीब 60 पुलिसकर्मी घायल हुए थे. यह सब इसलिए हुआ था, क्योंकि श्रीनिवास के रिश्तेदार ने सोशल मीडिया पर कथित भड़काऊ पोस्ट किया था.

ऐसे मामलों को लेकर सुप्रीम कोर्ट का आदेश क्या है

सुप्रीम कोर्ट ने भीड़ द्वारा हिंसा के मामलों में संपत्ति के नुकसान की भरपाई कैसे हो, इसे लेकर आदेश पारित किया था. 2009 में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि अगर भीड़ द्वारा हिंसा की जाती है, तो इसके लिए सम्बद्ध राज्य का हाई कोर्ट नुकसान का आकलन करेगा और आरोपियों से नुकसान की भरपाई करेगा.

ये भी कहा कि अगर भीड़ द्वारा की जा रही हिंसा का राज्य सरकार संज्ञान नहीं ले पा रही है, तो इस पर हाई कोर्ट संज्ञान ले और राज्य की संपत्ति को हुए नुकसान की भरपाई के साथ-साथ कंपनसेशन की भी व्यवस्था करे.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ऐसा करने के लिए हाई कोर्ट के पास दो रास्ते हैं-

पहला रास्ता, अगर राज्य सरकार संज्ञान लेने और कार्य करने में विफल रहे, तो हाई कोर्ट ये काम स्वयं करे.

दूसरा रास्ता, राज्य सरकार राज्य की संपत्ति को हुए नुकसान की रिपोर्ट एक याचिका के रूप में हाई कोर्ट में दाखिल करे. इसके लिए हाई कोर्ट के सीटिंग या रिटायर्ड जज या सेशन कोर्ट के जज को ‘क्लेम कमिश्नर’ बनाया जा सकता है. यानी साफ है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक, राज्य की संपत्ति को पहुंचाए गए नुकसान की भरपाई हाई कोर्ट के जरिए करने की बात कही गई है.

पुलिस क्या कारवाई कर रही है

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने बताया कि बेंगलुरु हिंसा मामले में किसी को भी बिना सबूत के  गिरफ़्तार नहीं किया गया है. अभी तक इस मामले में 300 से अधिक लोगों को गिरफ़्तार किया गया है. अभी जांच जारी है, ऐसे में गिरफ्तार लोगों की कुल संख्या बताना संभव नहीं है.

जिस कांग्रेस विधायक का घर तबाह किया गया, वो क्या कह रहे हैं

अखंड श्रीनिवास मूर्ति ने मामले की CBI जांच की मांग की है. उन्होंने कहा-

मैंने कभी नफ़रत की राजनीति नहीं की है. मैं बस इस मामले की पूरी जांच चाहता हूं, जिसमें मुझे तीन करोड़ रुपये का नुकसान हुआ.


वीडियो- बेंगलुरु: सोशल मीडिया पोस्ट से भीड़ शहर जलाने निकली, युवकों ने मंदिर बचा लिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.