Submit your post

Follow Us

'वर्क फ्रॉम होम' में जिस ज़ूम ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं, उसके ‘सुपरमैन’ की कहानी जान लीजिए

हॉन्गकॉन्ग के एक चतुर आदमी ने ‘बिज़नेस के नास्त्रेदमस’ टाइप काम किया है. नाम- ली का शिंग. पइसे वाले बिज़नेसमैन हैं. इन्होंने 2015 में एक इन्वेस्टमेंट किया था. 30 मिलियन डॉलर यानी करीब 227 करोड़ रुपए का. 2019 तक ये इन्वेस्टमेंट ज्यों का त्यों पड़ा रहा. लेकिन पिछले छह महीने में ली के उस इन्वेस्टमेंट में ऐसा गज़ब का बूम आया कि रकम बढ़कर 22.7 हजार करोड़ रुपए हो गई. यानी 100 गुना ज़्यादा.

इन्वेस्टमेंट किया किसमें था?

एक ऐप में. वही ऐप, जो लॉकडाउन में ‘वर्क फ्रॉम’ होम के चलते तगड़े से हिट हुआ है. यानी ज़ूम मीटिंग ऐप. इसके जरिए वीडियो कॉल पर मीटिंग की जा सकती है. लेकिन वीडियो कॉल पर तो वॉट्सऐप से भी बात की जा सकती है, तो ज़ूम क्यों? क्योंकि वॉट्सऐप वीडियो कॉल में एक बार में केवल चार लोग ही मीटिंग कर सकते हैं. ज़ूम में एक बार में कम से कम 40 और ज़्यादा से ज़्यादा 100 लोग तक जुड़ सकते हैं. इसलिए ज़ूम का इस्तेमाल काफी बढ़ रहा है.

जूम ऐप 2011 में तैयार किया गया था. फाउंडर हैं चीनी बिज़नेसमैन एरिक युआन. चार साल बाद इसमें ली का शिंग, याहू के पूर्व CEO जेरी यांग समेत पांच से ज़्यादा लोगों ने इन्वेस्टमेंट किया. ली का शिंग के कंपनी में 10 फीसदी से ज़्यादा शेयर हैं.

सिंगापुर के सुपरमैन- ली का शिंग

ली का शिंग हॉन्ग कॉन्ग के सबसे अमीर आदमी हैं. वहां उनको ‘सुपरमैन’ कहा जाता है. दौलत की वजह से नहीं, बिज़नेस को लेकर उनके विज़न की वजह से. हाई स्कूल ड्रॉपआउट ली शिंग का बड़ा बिज़नेस हमेशा से रियल एस्टेट का रहा है. इसी के दम पर सबसे अमीर बने. फोर्ब्स के मुताबिक, उनकी निजी संपत्ति करीब 1.9 लाख करोड़ रुपए है.

2015 में पहली बार उन्होंने किसी टेक्नोलॉजी में इन्वेस्ट किया. ज़ूम ऐप में. उस वक्त इसे घाटे का सौदा माना जा रहा था. कहा गया कि ली शिंग का ये एक्सपेरिमेंट फेल होगा, लेकिन नतीज़ा उल्टा रहा. वो एक्सपेरिमेंट अब पांच साल बाद नतीज़ा दे रहा है.

‘वर्क फ्रॉम होम’ के दौरान ऑफिस की मीटिंग के अलावा, घर से दूर रह रहे लोग इसका इस्तेमाल पूरे परिवार से बात करने के लिए भी कर रहे हैं. स्कूल-कॉलेज बंद हैं, ऐसे में टीचर्स ज़ूम पर ही लेक्चर भी ले रहे हैं.  बीते दिनों वीडियो कॉल पर निकाह की खबर भी आई थी, जिसमें सारे मेहमान वीडियो कॉल के जरिये शादी में शामिल हुए थे.

ऐप से डेटा लीक का ख़तरा सामने आया

साइबर सिक्योरिटी के लिए भारत में एक नेशनल नोडल एजेंसी है. CERT-IN यानी कम्प्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम ऑफ इंडिया. इस एजेंसी ने चेतावनी देते हुए कहा कि ऐप का सावधानी से इस्तेमाल न करने पर ये साइबर अटैक का जरिया बन सकता है. साथ इसे यूज करने वालों का सेंसटिव इन्फॉर्मेशन भी लीक होकर साइबर क्रिमिनल्स के पास जा सकता है. CERT-IN ने 30 मार्च को जारी किए एडवाइजरी में कहा,

“कई ऑर्गनाइजेशन ने अपने स्टाफ को घर से काम करने के लिए कहा है, ताकि कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके. लोग मीटिंग के लिए ज़ूम, माइक्रोसॉफ्ट टीम, स्लैक जैसे ऑनलाइन कम्यूनिकेशन प्लेटफॉर्म यूज कर रहे हैं. इन प्लेटफॉर्म का असुरक्षित उपयोग साइबर क्रिमिनल्स को आपका सेंसेटिव डेटा चुराने का मौका दे सकता है. जैसे कि मीटिंग डिटेल्स और वहां होने वाली बातचीत.”

रक्षा मंत्री के ज़ूम मीटिंग पर उठे थे सवाल

6 अप्रैल को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ज़ूम मीटिंग के जरिए तीनों सेनाओं के प्रमुखों और CDS जनरल बिपिन रावत से मीटिंग की थी. इसकी फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई. सवाल ये भी उठा कि एक तरफ सरकारी एजेंसी इस ऐप के उपयोग को प्राइवेसी के लिए खतरा बता रही है, दूसरी तरफ खुद रक्षा मंत्री इस ऐप का यूज कर रहे हैं.

कंपनी का कहना है कि वो ‘एंड टु एंड’ एन्क्रिप्शन देती है. लेकिन बाद में पता चला कि ये ‘एंड टु एंड’ एन्क्रिप्शन सिर्फ ज़ूम पर किए गए टेक्स्ट चैट के लिए है, जबकि ज्यादातर लोग इस ऐप पर वीडियो कॉलिंग करते हैं. वीडियो कॉलिंग के लिए ये कंपनी एंड टु एंड एन्क्रिप्शन नहीं देती है.


ज़ूम वीडियो कॉलिंग ऐप के इस्तेमाल पर नेशनल साइबर सिक्योरिटी एजेंसी ने उठाए सवाल

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.