Submit your post

Follow Us

वो लौट चुके हैं जिन्होंने वीराना फिल्म की जैस्मिन को अमर कर दिया था

रामसे ब्रदर्स का नाम किसने नहीं सुना है? वो वापस लौट चुके हैं.

किसी को भूत-प्रेत पर यकीन हो या न हो, लेकिन ये तो है कि लगभग सभी को भूतिया फिल्में पसंद आती हैं. 1972 में बॉलीवुड की पहली हॉरर फिल्म आई थी “दो गज़ ज़मीन के नीचे”. इस फिल्म के निर्माता थे रामसे ब्रदर्स. इन्होंने इसके साथ ही वीराना, पुरानी हवेली, पुराना मंदिर, दरवाज़ा, बंद दरवाज़ा और अंधेरा जैसी हॉरर फिल्में बनाई हैं. रामसे ब्रदर्स में से एक हैं श्याम रामसे, जिनकी बेटी साशा रामसे अपने परिवार की इस विरासत को आगे बढ़ा रही हैं.

Do_Gaz_Zameen_Ke_Neeche

रामसे ब्रदर्स की फिल्मों में ड़र तो कम लगता है, लेकिन एंटरटेनमेंट पूरा होता है. भूत बनने के बाद आदमी के दांत अचानक बड़े हो जाते हैं. दिन में उसको सामने आने में कुछ दिक्कत रहती है. साथ ही हीरो-हीरोइन को सेड्यूस होते हुए दिखाया जाता है. आइटम नंबर्स भी होते हैं. इसी को साशा रामसे आगे बढ़ा रही हैं. यूट्यूब चैनल 101 पर उनकी ‘फिर से रामसे’ की सीरीज़ चलती है, जिसमें लगभग 7-8 मिनट के हॉरर वीडियो डाले जाते हैं. इनके भी नाम बड़े दिलचस्प हैं: बेसब्र कब्र, शीशा बार, खून की प्यास, वो फिर आएगी, मरना मना है. साशा का कॉन्सेप्ट वही है. इन वीडियोज़ में आपको चुड़ैल, ड्रैकुला और पिशाच मिलेंगे, लेकिन डर नहीं लगेगा.

श्याम रामसे बताते हैं कि उपनी फिल्मों में वो सेक्स अपील इसलिए रखते हैं ताकि लोग रिलैक्स फ़ील करें. 1980 के समय की रामसे ब्रदर्स की सारी फिल्मों में लगभग एक सी स्टोरी होती थी. खाली हवेली, मरे हुए लोग कब्र से उठ कर चले आ रहे हैं और हां सेडक्टिव चुड़ैलें भी थीं. ये फिल्में तभी सही लगती थीं, जब इंडिया में लोगों के पास हॉलीवुड फिल्में देखने का आसान तरीका नहीं था. अब लोग नेटफ्लिक्स और हॉटस्टार पर हॉलीवुड की हॉरर फिल्में देख लेते हैं.

जिप

रामसे ब्रदर्स की पहली फिल्म ‘दो गज ज़मीन के नीचे’ में भूत के साथ सारा बॉलीवुड मसाला था. एक लड़की पैसे के लिए लड़के को फंसाती है. अपने प्रेमी के साथ मिलकर उसे मौत के घाट उतार देती है. और फिर भूत आता है दो गज ज़मीन के नीचे से अपने खूनियों को परेशान करने.

अचानक से मौत के बाद लड़का भूत बन कर काफी हट्टा-कट्टा हो जाता है.

ऐसी ही इनकी एक फिल्म थी ‘वीराना’. जिसमें एक बहुत सुंदर लड़की को भूत अपने वश में कर लेता है. कम से कम आज की फिल्मों में भूत सामने से हट भी जाता है, इनकी फिल्मों में तो भूत वहीं खड़ा रहेगा, चुप-चाप. लड़की को फिल्म आगे बढ़ाने के लिए, खुद ही बेहोश होना पड़ता था. वीराना फिल्म में हीरोइन जैस्मिन के पापा बहुत परेशान हुए थे. लड़कों को पता है कि बंदी में भूत है, फिर भी उसके लिए अपनी ऐसी-तैसी करा रहे हैं.

veerana

रामसे ब्रदर्स का प्लॉट लगभग एक जैसा ही रहता था. इनके पापा फ़तेहचंद रामसे 1947 में पार्टीशन के टाइम पर कराची से भारत आए थे. यहां आकर उन्होंने रेडियो इंजीनियर का काम शुरू किया. अंग्रेज़ों के कहने पर अपना सरनेम रामसिंह से रामसे कर लिया. जब उनकी इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी चलनी बंद हो गई तो उन्होंने फिल्में बनाने का काम शुरू किया. उनकी पहली फिल्म 1954 में आई थी. जहां इन्होंने शहीद-ऐ-आज़म और भगत सिंह जैसी फिल्में बनाई, वहीं इनके बेटों ने हॉलीवुड की कॉपी करते हुए इंडियन मसाला ऐड करके भूतिया फिल्में बनानी शुरू की.

‘दो गज़ ज़मीन के नीचे’ को हिट करने के लिए पैंतरा भी आज़माया गया था. इस फिल्म को अकेले देखने वाले को इनाम में 1000 रुपये दिए जाने की बात कही गई थी. कुछ हिट हॉरर फिल्में देने के बाद 1990 में उन्होंने छोटे परदे की तरफ रुख किया. जिस तरह से वो पहली बॉलीवुड फिल्म लेकर आए थे, उसी तरह टीवी पर भी पहला भूत का सीरियल यही लेकर आए. ये शो पूरे 8 साल चला था. इनकी आखिरी फिल्म 2014 में आई थी ‘नेबर्स- दे आर वैम्पायर्स’.


ये भी पढ़ें:

वीराना की हीरोइन जैस्मिन के साथ जो हुआ, किसी के साथ न हो

साल 2016 की ये खौफनाक फिल्म आपको बहुत कुछ याद दिला देगी

बॉलीवुड में आज तक एक ही हॉरर फिल्म बनी है: राज़

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.