Submit your post

Follow Us

कोरोना डायरीज़: लॉकडाउन में फंसे लोगों के लिए जो काम ये लड़की कर रही, फ़ैन हो जाओगे

अनुप्रिया नारायण सिंह
अनुप्रिया नारायण सिंह

नाम- अनुप्रिया सिंह

काम- प्रतियोगी परिक्षाओं की तैयारी

जगह- प्रयागराज

लॉकडाउन से पहले ही मैं घर आ गयी थी. घर वाले भी चैन से थे की मैं घर आ गयी. लेकिन मेरे दिमाग में पहले दिन से ये बात थी कि पहाड़ जैसी दोपहर कटेगी कैसे. शाम-सुबह तो चलो घर का काम करते-करते काट लिया जाएगा. अंतत: सोशल मीडिया का सहारा था. किताबों के बाद हाथ में फोन लेकर पड़ जाते थे. लेकिन इसी सब के बीच कुछ ऐसा हुआ कि अब दिन-रात का समय कम लगने लगा है.

Corona Banner
कोरोना डायरीज़ की और भी ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.

लॉकडाउन के तीसरे दिन मेरे एक फेसबुक फ्रेंड ने एक पोस्ट शेयर किया कि उनके कई दोस्त जो कहीं-कहीं पर फंस गए हैं. उनको हेल्प चाहिए थी. मेरे एक जानने वाले मध्यप्रदेश पुलिस में थे. मैंने उनको कांटेक्ट किया और काम हो गया. इसी बात से मेरे दिमाग में एक आइडिया आया कि हम लोग फेसबुक से ही थर्ड पर्सन को, जिसे जानते भी नहीं है, उसकी हेल्प कर सकते हैं तो क्यों न ऑर्गनाइज़ ढ़ंग से किया जाए. फिर मेरे तो काफी सारे दोस्त हैं, फॉलोवर हैं. इसके बाद हमने एक फेसबुक ग्रुप बनाया. कोरोना वॉरियर्स  नाम से. फिर लोगों को जोड़ना शुरु किया. अभी का आलम ये है कि 8 हज़ार के करीब लोग जुड़ चुके हैं और हम लोगों ने कम से कम 1500 परिवारों, यानी लगभग आठ हज़ार लोगों तक मदद पंहुचा दी है. यह संख्या अब रोज़ बढ़ती ही जा रही है.

अनुप्रिया और उनके दोस्तों के फेसबुक ग्रुप का स्क्रीनशॉट.
अनुप्रिया और उनके दोस्तों के फेसबुक ग्रुप का स्क्रीनशॉट.

ऐसा पहले कभी हमने किया नहीं था. लेकिन लोगों का बेहतर रिस्पांस मिला. मेरे साथ आगरा से सिद्धांत जुड़ गए. बिहार के किसी जिले से वैभव जुड़े. बलिया से अंकिता जुड़ गईं. फिर हमने तय किया कि जिम्मेदारी से इसको डील करना है. तो शुरु में क्या होता था कि, मान लीजिए किसी ने हेल्प के लिए मैसेज डाला. हम अप्रूव कर देते थे. फिर उस इलाके का कोई अगर ग्रुप में होता था तो वह मदद के लिए आगे आता था या फिर किसी अपने जानने वाले को कमेंट में मेंशन करके उसकी मदद करने की कोशिश करता था. तीन चार दिन ऐसा चला फिर ये मालूम हुआ कि इस तरह से लोगों तक कई बार मदद पंहुच जा रही. यानी किसी बड़े शहर का मामला है तो फिर कई बार लोग राशन दे आते या मदद के लिए फोन करते थे. इससे निपटने के लिए हमने तय किया कि अब पहले पर्सनली कॉल करेगें. और फिर एक बार मदद हो जाने के बाद उस पोस्ट को हाइड कर देंगे. यहीं से असली मैनेजमेंट शुरु हुई.

तस्वीर में ग्रुप के एडमिन सिद्धार्थ की तरफ से मदद के लिए डाली गयी एक पोस्ट का स्क्रीनशॉट है.
तस्वीर में ग्रुप के एडमिन सिद्धार्थ की तरफ से मदद के लिए डाली गयी एक पोस्ट का स्क्रीनशॉट है.

हम सब ने फिर मदद के लिए आने वाले नाम नंबर्स पर कॉल करके बात करना शुरु किया. और फिर हमें कई नई बातें पता चलीं. मसलन, लोग अभी राशन होते हुए भी राशन मांग रहे थे. या कहते कि मजदूर हैं. दिल्ली में फंसे हैं. लेकिन ठेकेदार पैसा नहीं दे रहा. और ठेकेदार से बात करने पर बात झूठ निकलती थी. हमने कईयों को तो कॉन्फ्रेंस कॉल पर ले लिया. धीरे-धीर सब मैंनेजमेंट समझ गए. और अब ऐसा है कि मेरा सुबह उठने के साथ और सोने तक बस एक ही काम है. ग्रुप में आये मैसेज वेरिफाई करना. और फिर मदद पंहुचाने में लगना.

# कोट-

मेरे साथ के बाकी लोग कहीं ज्यादा मेहनत कर रहे. दिन भर लगे रहते हैं. लॉकडाउन ऐसा बीतेगा सोचा भी नहीं था. इतनी प्यारी नींद आती है कि क्या कहूं.


कोरोना डायरीज. अलग अलग लोगों की आपबीती. जगबीती. ताकि हम पढ़ें. संवेदनशील और समझदार हों. ये अकेले की लड़ाई नहीं है. इसलिए अनुभव साझा करना जरूरी है. आपका भी कोई खास एक्सपीरियंस है. तस्वीर या वीडियो है. तो हमें भेजें. 

corona.diaries.LT@gmail.com



वीडियो देखें: कोरोना डायरीज़: लखनऊ की ये डॉक्टर आखिर किस बात से इतना डर रही हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

आज कार्टून नेटवर्क का हैपी बड्डे है.

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

आज यानी 28 सितंबर को उनका जन्मदिन होता है. खेलिए क्विज.

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

बेबो वो बेबो. क्विज उसकी खेलो. सवाल हम लिख लाए. गलत जवाब देकर डांट झेलो.

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

17 सितंबर को किसानों के मुद्दे पर बिट्टू ऐसा बोल गए कि सियासत में हलचल मच गई.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

करोड़पति बनने का हुनर चेक कल्लो.

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.