Submit your post

Follow Us

UP चुनाव: हमीरपुर के इस गांव में लोग बोले- जब तक ये काम नहीं होगा, तब तक कोई वोट नहीं डालेगा?

2022 में होने वाले UP विधानसभा चुनाव से पहले ‘दी लल्लनटॉप’ जानने निकला UP का हाल. “क्या हाल है UP” की इस सीरिज़ में हम आपको बताएंगे, सुनाएंगे और रूबरू कराएंगे UP के तमाम जिलों की परेशानी, दिक्कतें और वहां के मुद्दे. इस कड़ी में टीम पहुंची हमीरपुर. यहां यमुना नदी के किनारे पर बसे मेरापुर गांव में हमारे संपादक सौरभ द्विवेदी ने लोगों से बात की. गांव की क्या समस्याएं हैं? लोगों ने क्यों कहा कि ये काम नहीं हुआ तो वोट नहीं डालेंगे? देखें वीडियो.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

झमाझम

खराब फोन को ठीक करने की जिम्मेदारी आपकी, एप्पल, गूगल की ये तैयारी चलेगी?

इसी मुहिम के चलते ये कंपनियां स्मार्टफोन खराब होने पर DIY का ऑप्शन दे रही हैं.

फोन का 'ऑटो ब्राइटनेस' दिक्कत कर रहा है तो ये तराजू वाली टेक्निक काम की है

आपके स्मार्टफोन चलाने के तरीके को समझकर भी एडेप्टिव ब्राइटनेस कम या ज्यादा होती है.

स्मार्टफोन में फोकट परेशान करने वाले नोटिफिकेशन्स की घंटी बंद करा देंगे ये तरीके

ये तो बात हुई फायदे की लेकिन नुकसान भी कम नहीं है.

इंस्टा ID से लेकर वॉट्सऐप बिजनेस तक, क्यूआर कोड के इतने फ़ायदे जानकर हैरान रह जाएंगे

क्यूआर कोड से कई सारे काम किए जा सकते हैं.

Geekbench score है क्यों इतना ज़रूरी कि सैमसंग और शाओमी को भी चाहिए अच्छे नंबर?

Geekbench Score भी एक मानक है प्रोसेसर की परफॉरमेंस मापने का.

रोज़ के काम से जुड़े ये ऐप्स विंडोज़ 11 पर काम करने में आपकी मदद करेंगे!

विंडोज का संसार तो असीमित है तो फीचर्स की बात तो आगे भी चलती रहेगी.

स्मार्टफोन में मौजूद नेटवर्क सेटिंग के बारे में ये ज़रूरी बात बहुत कम लोग जानते हैं

कई बार स्मार्टफोन की कुछ सेटिंग्स बदलने पर भी इंटरनेट सरपट दौड़ने लगता है.

गाजियाबाद में नवरात्र पर मीट बैन का आदेश, लेकिन बवाल इस बात पर मच गया

शहर में कच्चा मीट बेचने पर 2 अप्रैल से लेकर 10 अप्रैल तक रोक.

दी लल्लनटॉप शो

दी लल्लनटॉप शो: कर्नाटक के हुबली में फर्जी तस्वीर के चक्कर में पत्थरबाजों ने बहुत बड़ी गलती की है!

बिना अनुमति के हथियारों लैस यात्रा कैसे निकल जाती है?

दी लल्लनटॉप शो: जहांगीरपुरी हिंसा में क्या-क्या हुआ? लल्लनटॉप की ग्राउंड रिपोर्ट में क्या दिखा?

आशीष मिश्रा की बेल रद्द करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने क्या टिप्पणी की?

दी लल्लनटॉप शो: सरकार महंगाई को लेकर अपनी ही नीति का पालन क्यों नहीं कर पा रही?

यूक्रेन का बहाना कब तक?

दी लल्लनटॉप शो: हेट स्पीच लॉ की सिफारिश 5 साल से लंबित, कानून बनाने में कहां दिक्कत आ रही है?

ओवैसी जूनियर को लेकर अदालत ने क्या फैसला दिया?

दी लल्लनटॉप शो: खरगोन में रामनवमी हिंसा पर नरोत्तम मिश्रा की कार्रवाई क्या सही है?

धार्मिक दंगे भारतवर्ष का पीछा कब छोड़ेंगे?

दी लल्लनटॉप शो: PM मोदी- जो बाइडन की बातचीत से रूस-यूक्रेन में सुलह होगी?

मुश्किल वक्त में भारत की विदेश नीति किस तरह आकार ले रही है?

दी लल्लनटॉप शो: निर्वस्त्र कर बंद किया, पैर चैन से बांधा, सीधी, बलिया, बालासोर में पुलिस बर्बरता क्यों हुई?

महंगाई को लेकर RBI गवर्नर ने क्या चिंता जताई है?

दी लल्लनटॉप शो: कैग रिपोर्ट में सामने आया, आधार, रेलवे और ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में क्या गड़बड़ी?

संसद में बजट सत्र के आखिरी दिन क्या हुआ?

पॉलिटिकल किस्से

अरूसा आलम और कैप्टन अमरिंदर सिंह के संबंधों पर सियासत क्यों हो रही है?

अरूसा को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI से भी जोड़ा जा रहा है.

एंटी CAA-NRC प्रोटेस्ट में गोली चलाने वाले गोपाल की महापंचायत में बोली बातें क्यों वायरल हुईं?

हरियाणा के पटौदी में हुई जनसभा में उसके भाषण का एक वीडियो वायरल हो रहा है.

उत्तर प्रदेश के नेता जितिन प्रसाद, जो दो दशक से कांग्रेसी रहे और अब BJP में शामिल हो गए

2019 के बाद से ही जितिन प्रसाद की भाजपा से नजदीकियां बढ़ रही थीं.

असम का वो नेता, जिसके साथ हुई ग़लती को ख़ुद अमित शाह ने सुधारा था

अब वो राज्य का मुख्यमंत्री बन गया है.

कैसे मुलायम सिंह ने अजित सिंह से यूपी के मुख्यमंत्री की कुर्सी छीन ली?

अजित सिंह के लोकदल अध्यक्ष बनने की प्रक्रिया काफी विवादित रही थी.

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री बनने जा रहे एमके स्टालिन की कहानी फिल्म से कम नहीं

मद्रास शहर की थाउजेंड लाइट्स विधानसभा सीट से स्टालिन पहली बार चुनाव में उतरे.

केरल चुनाव में जीत के साथ पी विजयन ने 64 बरस पुराना कौन सा मिथक तोड़ दिया?

विजयन महज़ 26 साल की उम्र में पहली बार विधायक बने थे.

अखिल गोगोई की कहानी, जिन्हें हाईकोर्ट ने जमानत देते वक्त कहा- सिविल नाफरमानी अपराध नहीं

नेतागिरी से दूर भागने वाले अखिल गोगोई जेल से ही चुनाव लड़ने पर मजबूर हुए.