Submit your post

Follow Us

तिरंगे पर मद्रास हाईकोर्ट के इस फ़ैसले से सचिन तेंदुलकर क्यों खुश हुए होंगे?

2007 में क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने एक ऐसा केक काटा था कि उन्हें कोर्ट ने तलब कर लिया था. असल में उन्होंने एक पार्टी में तिरंगे के रंग का केक काट दिया था. फिर क्या था, जैसे ही इस पार्टी की फोटो सामने आई, मामले ने तूल पकड़ लिया. देश के प्रतीक चिन्ह का अपमान करने का आरोप लगा.  मामला कोर्ट पहुंचा. तेंदुलकर को नोटिस भी जारी हुआ. हालांकि बाद में माफी मांगने पर मामला खत्म हो गया. अब मद्रास हाईकोर्ट का एक फैसला आया है, जिससे सचिन तेंदुलकर जैसे कई लोगों को राहत मिलेगी. मद्रास हाईकोर्ट ने कहा है कि तिरंगे और अशोक चक्र के डिजाइन वाले केक को काटना न तो देशद्रोह है और न ही तिरंगे का अपमान. देखिए वीडियो.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

इलेक्शन कवरेज

बंगाल चुनाव: महिलाओं ने उज्ज्वला और PM आवास योजना के बारे में चौंकाने वाली बात बताई!

रोटी के लिए बीड़ी बनाने का काम करती हैं, पर कमाई निल बटा सन्नाटा.

बंगाल चुनाव: पुरुलिया के लोगों की ममता सरकार से क्या शिकायत है, जो दूर ही नहीं हो रही?

वही गांव है, जहां आसमान से गोला-बारूद की बारिश हुई थी.

तमिलनाडु चुनाव: चेन्नई की वो फेमस इडली, जिसे खाने के लिए CM कामराज खुद को रोक नहीं पाए

नाम है- मुरुगन इडली शॉप.

असम चुनाव: मोदी सपोर्टर CM सोनोवाल के काम गिनाते-गिनाते खुद ही फंस गया!

कांग्रेस की बात करते ही भड़क गया.

असम चुनाव: अमित शाह की रैली में लोगों ने सर्बानंद सोनोवाल को घुसपैठिया क्यों कह दिया?

कन्फ्यूजन ही कन्फ्यूजन है.

असम चुनाव: माजुली में पांच साल पहले हुआ था पुल का वादा, अब तक क्यों नहीं बना?

पुल के न होने से इलाज के लिए लोग अस्पताल नहीं पहुंच पाते और रास्ते में मौत हो जाती है.

असम चुनाव: मुख्यमंत्री की रैली में आईं महिला वोटर्स किसे मुख्यमंत्री देखना चाहती है?

सरकार के सामने डिमांड भी रखी.

असम चुनाव: चाय उगाने वाले 'लोहे' का पानी पीने को क्यों मज़बूर हैं?

किडनी, लीवर सब खराब हो रहे हैं.

दी लल्लनटॉप शो

भारत-पाकिस्तान के बीच ढाई साल बाद बातचीत शुरू करने की असली वजह क्या है?

पर्दे के पीछे क्या हुआ, जान लीजिए!

वैक्सीन के बाद भी कोरोना के केसेज बढ़ते क्यों जा रहे हैं?

क्या कोरोना की ये नई वेव पहले से ज़्यादा खतरनाक है?

योगी आदित्यनाथ अपने 4 सालों के कामों से अगला यूपी इलेक्शन जीत पाएंगे?

चार साल पहले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के नतीजे आए थे.

जानिए LIC IPO आने का इतना विरोध क्यों, जिसका आपकी इंश्योरेंस पॉलिसी से भी कनेक्शन है!

दो खबरों पर विस्तार से बात जिनका सीधा कनेक्शन आपसे है.

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों पर PM मोदी ने किस खतरे की बात मुख्यमंत्रियों से कही?

देश में अब कोरोना को ज़्यादातर लोग हल्के में लेने लगे हैं.

सचिन वाझे की गिरफ्तारी के बाद एंटीलिया केस में NIA को अब क्या नए सबूत मिल गए?

ये मामला महाराष्ट्र सरकार की गले की फांस कैसे बना, जान लीजिए!

बटला हाउस एनकाउंटर में आरिज़ ख़ान को फांसी सुनाने से पहले क्या-क्या हुआ ?

इस एनकाउंटर में दो आतंकी मारे गए थे और एक पुलिस अफसर शहीद हुए थे.

क्या है QUAD, जिसमें PM मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति, ऑस्ट्रेलिया के PM शामिल हुए

क्वाड देशों के शीर्ष नेताओं ने वर्चुअल मीटिंग की.

पॉलिटिकल किस्से

गुलाम नबी आज़ाद के जाबड़ किस्से, जिनके दोस्त हर पार्टी में हैं!

जब वाजपेयी पर हमले कर रहे संजय गांधी का कुर्ता खींच दिया था.

जनसंघ के बलराज मधोक के जाबड़ किस्से, जिनका भविष्य वाजपेयी खा गए!

एक बार तो उन्होंने वाजपेयी को कांग्रेसी कह दिया था.

UP में एक साथ 2 लोग मुख्यमंत्री कैसे बन गए थे?

आज से 23 साल पहले UP की सत्ता में हुए सबसे बड़े परिवर्तन की कहानी

शरद पवार के राइट हैंड प्रफुल्ल पटेल नेता कैसे बने?

विदर्भ से दिल्ली तक का पूरा राजनीतिक सफर.

लोकसभा के कार्यकाल के साथ इंदिरा गांधी ने क्या छेड़छाड़ की थी?

आपातकाल के दौरान लोकसभा का कार्यकाल बढ़ाया गया था.

राम मंदिर का ताला खोलने का आदेश देने वाले जज का बन्दर से क्या संबंध है?

अयोध्या में ताला खुलवाने के आदेश के दिन के ये किस्से आपको चौका देंगे.

इंदिरा गांधी को सबके सामने नचाने का दावा करने वाले नेता की कहानी

बीजू पटनायक को इंडोनेशिया में बहुत इज्ज़त से देखा जाता है.

एन टी रामाराव : वो शख़्स जिसने ऐसी पार्टी बनाई कि इंदिरा गांधी को चुनौती दे डाली!

1983 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के सबसे मजबूत का सूपड़ा साफ कर दिया था.