The Lallantop
Advertisement

Google Maps पर नज़र आ रहे फर्जी पते, बस इतना करने भर से उड़ जाएंगे

Google Maps पर फर्जी बिजनेस, गलत जगह से लेकर स्पैम और बेकार कॉन्टेन्ट का नजर आना कोई बड़ी बात नहीं है. अच्छी बात ये है कि ऐसी जानकारी या कॉन्टेन्ट को रिपोर्ट किया जा सकता है. रिपोर्ट सही हुई तो गूगल ऐसी जानकारी को हटाने में देरी नहीं करता.

Advertisement
Google Maps allows users to report offensive, fake, spam, or inappropriate content, including fraudulent listings.
गूगल मैप्स से हटेगी फर्जी जानकारी
22 जनवरी 2024 (Updated: 22 जनवरी 2024, 16:15 IST)
Updated: 22 जनवरी 2024 16:15 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

मैं सुबह ऑफिस आने के लिए और शाम को घर जाने के लिए Google Maps का इस्तेमाल करता हूं. वजह ये नहीं कि मुझे रास्ता याद नहीं, बल्कि सहूलियत है. मैप के सहारे रास्ता अख्तियार करने के कई फायदे हैं. टाइम का अंदाजा लग जाता तो सबसे कम ट्रैफ़िक वाले रूट की जानकारी भी मिल जाती है. गाड़ी का पेट्रोल और मेरा टाइम, दोनों बच जाते हैं. ये बताने का मकसद बस इतना कि गूगल मैप कितने काम की चीज है. लेकिन तब क्या, जब इस मैप पर कोई गलत जानकारी दिख रही हो. ऐसी फर्जी जानकारी को हटाने का तरीका हम बता देते हैं.

ये भी पढें: अब Google Maps बचाएगा आपका पेट्रोल, गाड़ी की माइलेज भी करेगा बेहतर, जानें कैसे?

गूगल मैप्स पर फर्जी बिजनेस, गलत जगह से लेकर स्पैम और बेकार कॉन्टेन्ट का नजर आना कोई बड़ी बात नहीं है. अच्छी बात ये है कि ऐसी जानकारी या कॉन्टेन्ट को रिपोर्ट किया जा सकता है. रिपोर्ट सही हुई तो गूगल ऐसी जानकारी को हटाने में देरी नहीं करता. ऐसा कैसे होता है, उसकी प्रोसेस हम आपको बताते हैं मगर पहले गूगल मैप्स पर जानकारी पोस्ट कैसे होती है, वो समझ लेते हैं.

गूगल मैप्स एक ओपन सोर्स प्लेटफॉर्म है. गूगल जहां सैटेलाइट और स्मार्टफोन्स से लोकेशन और दूसरी जानकारी जुटाता है, तो पब्लिक भी इसका बहुत बड़ा सोर्स है. कहने का मतलब एक शहर के बड़े रास्तों, प्रसिद्ध स्थानों की लिस्टिंग तो गूगल की टीम कर ही देती है लेकिन मोहल्ले की किराना दुकान और कोने के गैराज की लिस्टिंग पब्लिक ही करती है. मैप के अंदर सेटिंग में ‘Add a missing place’ और ‘Add your business’ के ऑप्शन मिल जाते हैं. वैसे मैप में किसी जगह को ऐड करने में गूगल की एल्गोरिदम भी काम करती है. अगर किसी जगह पर लोग बहुत ज्यादा जाते हैं, तो गूगल बाबा इसको पढ़ते हैं और फिर वो जगह मैप पर नजर आने लगती है. ये तो बात हो गई जानकारी पोस्ट होने की. अब कोई गलत जानकारी पोस्ट हो रखी तो क्या करें?

गूगल मैप्स 

# गलत जानकारी दो तरह की हो सकती है. एक ये कि उस जगह पर अब वो दुकान, मकान, होटल, संस्थान हो ही नहीं. मतलब हो सकता है वो बंद हो चुके हैं. दूसरा ऐसे कोई गलत जानकारी जानबूझकर डाली गई हो. फ्रॉड करने वाले तो बहुत कुछ करते हैं.

# हालांकि गलत जानकारी पता करने का कोई आधिकारिक तरीका तो नहीं है मगर इसको अपने अनुभव से लेकर दूसरों के अनुभव से जान सकते हैं. जैसे आप मैप के सहारे किसी जगह गए और वो है ही नहीं. या फिर आपके दोस्त जिस बिजनेस को ढूंढते-ढूंढते पहुंचे, वो फर्जी निकला.

# अगर ऐसा कुछ मैप पर दिखे तो उसको रिपोर्ट कर दीजिए और जिस जगह को रिपोर्ट करना है, उस पर लॉन्ग प्रेस कीजिए.

गूगल मैप्स

# स्क्रीन पर कई सारे ऑप्शन में ‘Suggest an edit’ भी दिखेगा. पहला ऑप्शन ‘Change name or other details’ का दिखेगा.

# ये ऑप्शन उस जगह में नई जानकारी जोड़ने में काम आता है. इसके बाद दूसरा ऑप्शन ‘Close or Remove’ का दिखेगा.

# इसके अंदर मिलेंगे भतेरे ऑप्शन. रिपोर्ट कीजिए. 

एक बात का ध्यान रखें. अगर किसी बिजनेस या संस्थान को रिपोर्ट कर रहे हैं, तो ज्यादा जानकारी दें. मसलन फ़ोटो से लेकर कागज-पत्री तक. गूगल आपकी रिपोर्ट पर संज्ञान लेगा और सब सही हुआ तो उस जगह को मैप से हटा देगा.

ये भी पढें: बार-बार लोकेशन टाइप करने का झंझट खत्म, अब एक क्लिक में लोकेशन सेट

वीडियो: गूगल मैप्स ने ऐसा क्या किया कि सबकी पर्सनल जानकारी बड़े ख़तरे में आ गई?

thumbnail

Advertisement