The Lallantop
Advertisement

NBA के अजीबो-गरीब जुर्माने, दर्शकों को मजा न आए तो भी लग जाता है करोड़ों का फाइन

बास्केटबॉल में तमाम सारे नियम हैं. लेकिन NBA लीग में कुछ नियम एक्स्ट्रा जुड़ जाते हैं. इनके चलते जुर्माने भी एक्स्ट्रा लग जाते हैं. इन जुर्मानों की जद में लेब्रॉन जेम्स, जेम्स हार्डन जैसे नामी खिलाड़ी भी आ चुके हैं.

Advertisement
Fines on NBA playersx
जेम्स हार्डन, लेब्रॉन जेम्स समेत कई बड़े खिलाड़ी जुर्माने का शिकार हो चुके हैं (फोटो: आजतक)
3 अप्रैल 2024
Updated: 3 अप्रैल 2024 15:45 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

अमेरिका (America) में बास्केटबॉल की एक लीग खेली जाती है: NBA (National Basketball Association). अमेरिका का बास्केटबॉल IPL कह लीजिए. 30 टीमों का टूर्नामेंट होता है. हर साल खेला जाता है. भयानक क्रेज़ है. खिलाड़ियों की भी और लीग की भी. जितना मैच और खिलाड़ियों की वजह से चर्चा में रहती है, उतनी ही खिलाड़ियों पर लगने वाले जुर्माने की वजह से भी. मैच में कब किस पर करोड़ों रुपए का बट्टा लग जाए, पता नहीं. दर्शक दीर्घा में बैठे लोगों के पास बॉल जाने पर भी फाइन, दर्शकों को मजा न आने पर फाइन, जीत का जश्न मनाने पर भी फाइन. 

बास्केटबॉल में अपने तो तमाम नियम हैं. लेकिन NBA लीग में कुछ नियम एक्स्ट्रा जुड़ जाते हैं. इनके चलते जुर्माने भी एक्स्ट्रा लगते हैं. और, इन जुर्मानों की जद में लेब्रॉन जेम्स, जेम्स हार्डन जैसे बड्डे-बड्डे खिलाड़ी भी आ चुके हैं. आज ऐसी ही पांच मजेदार घटनाओं पर चर्चा करेंगे, जब NBA में ऊल-जुलूल वजहों से तगड़े फाइन लगे थे.

दर्शकों की तरफ गेंद फेंकना जुर्म?

बीती 30 मार्च को NBA में टीम ‘न्यूयॉर्क निक्स’ और ‘सैन एंटोनियो स्पर्स’ के बीच मैच था. सैन एंटोनियो स्पर्स चार पॉइंट से मैच जीत भी गई. लेकिन खेल खत्म होने की घंटी बजने से कुछ मिली सेकंड पहले गेंद 'स्पर्स' के खिलाड़ी विक्टर वेमबानयामा के हाथ में आई. समय खत्म हो रहा था, सो उन्होंने गेंद को जकड़ लिया. ताकी कोई छीन न पाए. गेम मे ये आम बात है. फिर घंटी बजी और उनकी टीम मैच जीत गई. लेकिन यहीं, खुशी के मारे विक्टर गलती कर गए. 

रायटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, जोश-जोश में उन्होंने गेंद दर्शकों की तरफ फेंक दी. जश्न का ये कायदा गेम ऑफीशियल्स (रेफ्री) को पसंद नहीं आया. उन्होंने चुप्पे से विक्टर पर बीस लाख रुपए का जुर्माना लगा दिया.

'झूठा' बोलने पर 83 लाख का जुर्माना!

एक खिलाड़ी हैं, जेम्स हार्डन. तगड़ा खेलते हैं. इतना कि खिलाड़ियों की खरीद-फरोख्त में उनकी कीमत 35 मिलियन डॉलर (लगभग 300 करोड़) रुपए तक पहुंच जाती है. NBA के इस सीजन (2023-24) में हार्डन 'लॉस एंजेलिस क्लिपर्स' के लिए खेल रहे हैं. लेकिन पिछले दो सीजन में वो 'फिलेडेल्फिया 76अर्स' की तरफ से खेले थे. 

स्पोर्ट्समैक्स की रिपोर्ट के मुताबिक, उनपर जुर्माना जिस घटना पर लगा है, वो घटी थी चीन में. तब कोई मैच भी नहीं चल रहा था. दरअसल, 2023 के अगस्त में हार्डन एक प्रमोशनल इवेंट के लिए चीन गए हुए थे. इवेंट के दौरान उन्होंने लोगों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने फिलेडेल्फिया टीम के जनरल मैनेजर डेरेल मोरे के लिए कहा,

'डैरेल मोरे एक झूठा आदमी है. मैं उस संस्था का हिस्सा कभी नहीं रह सकता, जिस संस्था में वो है.'

उन्होंने ये बात एक नहीं, दो बार कही. जोर देकर कर कही. उनकी इस स्पीच की क्लिप इंटरनेट पर भयंकर वायरल हुई. बात पहुंच गई NBA तक. NBA ने इस हरकत के लिए उन पर करीब 83 लाख रुपए का जुर्माना ठोक दिया. ये NBA में  किसी भी खिलाड़ी पर लगाया गया सबसे बड़ा जुर्माना था.

खिलाड़ीयों को न खिलाने पर देने पड़े 2 करोड़

साल 2012 के NBA सीजन की बात है. ‘सैन एंटोनियो स्पर्स’ ने बेहतरीन गेम दिखाया था. टीम फाइनल राउंड तक भी पहुंची थी. फाइनल राउंड से ठीक पहले एक बड़ा मुकाबला होना था, ‘स्पर्स बनाम हीट्स’. हीट्स बोले तो ‘मियामी हीट’. उस दौर की दूसरी सबसे जाबड़ टीम. हीट्स में उस वक्त लेब्रॉन जेम्स, ड्वेन वेड और क्रिस बॉश जैसे एक-से-एक तुर्रम हुआ करते थे. उनका गेम देखने लायक होता था. फैन्स इस तरह के मुकाबलों का खूब खूब इंतजार करते थे. मगर इतने गर्म मैच में स्पर्स टीम के चार बेहतरीन खिलाड़ी थे ही नहीं. 

ESPN की रिपोर्ट के मुताबिक, टीम के जनरल मैनेजर ग्रेग पोपोविच ने बिना किसी को बताए इन चारों खिलाड़ियों को घर भेज दिया था. गेम हीट्स के पाले चला गया, और फैन्स को मजा भी नहीं आया. स्पर्स की इस हरकत के लिए उन पर 2,50,000 डॉलर का जुर्माना लगा था. आज के हिसाब से करीब दो करोड़ रुपए. NBA के तत्कालीन कमिश्नर डेविड स्टर्न ने टीम पर जुर्माना लगाते हुए कहा था, 

'टिम डनकन, टोनी पार्कर, मानू गिनोबिली और डैनी ग्रीन को मियामी हीट के साथ गेम के लिए न ले जाना, लीग और फैन्स के साथ नाइंसाफी है.'

स्पर्स ने इस जुर्माने पर कभी कॉमेंट नहीं किया.

चोट छुपाना पड़ा भारी 

साल 2002 में खिलाड़ी लेटरल स्प्रीवेल पर लगाया गया जुर्माना काफी विवादों में रहा था. स्प्रीवेल 2002 में टीम ‘न्यूयॉर्क निक्स’ की तरफ से खेल रहे थे. एक लड़ाई के दौरान उनके हाथ में चोट लगी थी, उनका हाथ टूट गया था, मगर स्प्रीवेल अपनी चोट के बारे में बिना किसी को बताए कैंप पहुंच गए थे. ESPN में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, टीम मैनेजमेंट को इस बारे में पता चला, तो उन्होंने फौरन उन पर करीब ढाई लाख डॉलर (आज की तारीख में 2 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगा दिया था. उन्हें प्रैक्टिस कैंप से भी तुरंत निकाल दिया गया था. 

ये भी पढ़ें: IPL इतिहास के सबसे सफल कप्तानों की जीत का परसेंटेज जानते हैं आप?

हालांकि, स्प्रीवेल इस बात से इंकार करते आए हैं. इसे लेकर न्यू यॉर्क पोस्ट ने भी उस वक्त एक आर्टिकल छापा था. इसमें लिखा था कि एक नाव पर स्प्रीवेल की किसी से लड़ाई हो गई थी. उनका हाथ टूट गया था. इस आर्टिकल के छपने के बाद स्प्रीवेल ने न्यूयॉर्क पोस्ट के खिलाफ चालीस मिलियन डॉलर का लॉसूट फाइल किया था.

पानी की बोतल पर लात मारना गुनाह

साल 2010. टीम ‘क्लीवलैंड कैवेलियर्स’ औरमिन्नेसोटा टिम्बर वुल्व्स’ का मैच चल रहा था. कैवेलियर्स ये मैच 109-95 के अंतर से जीत जाती है. लेकिन ट्विस्ट मैच के पहले क्वार्टर में है. वो भी तब, जब क्वार्टर खत्म होने में सिर्फ 12.4 सेकंड बाकी हैं. 

क्लीवलैंड.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, गेम में कथित तौर पर एक फाउल हुआ. मगर उस पर कॉल नहीं ली गई. यानी रेफ्री ने कोई एक्शन नहीं लिया. इस वक्त तक लेब्रॉन जेम्स कोर्ट के अंदर मौजूद थे. लेकिन उनसे कॉल न लेने पर कॉल न लेना बर्दाश्तन नहीं हुआ. वो कोर्ट के बाहर से अपील करते हुए अंदर चले आए. तभी उनके कोच उन्हें समझा कर बाहर भेजा. लेब्रॉन गुस्से में थे, तो उन्होंने कोर्ट के बाहर रखी एक पानी को बोतल पर लात मार दी. इस पर मैच ऑफिशियल ने कॉल ले लिया. NBA के एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट स्टू जैक्सन ने जेम्स पर 25 हजार डॉलर (आज की तारीख में करीब 20 लाख रुपये) का जुर्माना ठोक दिया. 

वीडियो: ‘संतुलन बनाकर रखें…’, पर्सनल डिवाइस सीज करने पर CBI से CJI Chandrachud ने क्या कहा दिया?

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement