The Lallantop
Advertisement

IPL में स्पीडोमीटर तोड़ रहे मयंक यादव की मां ने उनके बारे में क्या कहा?

मयंक यादव की मां ममता यादव ने बताया है कि उनके पिता प्रभु यादव एक वक्त सड़क पर खड़े होकर मैच देखा करते थे. उन्होंने ही बेटे को क्रिकेट एकेडमी में एडमिशन दिलाया था.

Advertisement
mayank yadav ipl 2024 mother reveals secret behind pace and bowling
मयंक की मां ने बताया कि उनके बेटे भगवान कृष्ण के भक्त हैं. वो 2 साल पहले ही वेजिटेरियन बने हैं. (फोटो- ट्विटर और आजतक)
4 अप्रैल 2024 (Updated: 4 अप्रैल 2024, 21:28 IST)
Updated: 4 अप्रैल 2024 21:28 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

वर्ल्ड क्रिकेट के नए सेंसेशन मयंक यादव (Mayank Yadav bowling IPL 2024) ने अपनी बोलिंग से सभी को प्रभावित कर रखा है. भारत हो या विदेश के खिलाड़ी, सभी मयंक की सटीक लाइन-लेंथ से खासा इम्प्रेस हुए हैं. इस बीच मयंक की मां ने उनकी बोलिंग, मेहनत और संघर्ष के बारे में कई बातें बताई हैं.

मयंक यादव की मां ममता यादव ने बताया है कि उनके पिता प्रभु यादव एक वक्त सड़क पर खड़े होकर मैच देखा करते थे. उन्होंने ही बेटे को क्रिकेट एकेडमी में एडमिशन दिलाया था. आजतक को दिए इंटरव्यू में ममता यादव ने बताया कि उनके बेटे भगवान कृष्ण के भक्त हैं. वो 2 साल पहले ही वेजिटेरियन बने हैं. मां ने कहा,

हम बेहद खुश हैं कि वो अच्छा कर रहा है और लोग उसके बारे में बात कर रहे हैं. वो एक टैलेंटेड क्रिकेटर है और लोगों को उसका और तगड़ा प्रदर्शन देखने को मिलेगा. वो 2 साल पहले ही वेजिटेरियन बन गया था, क्योंकि वो भगवान कृष्ण को बहुत ज्यादा मानता है.

मयंक की मां ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि मयंक एक दिन भारतीय टीम के लिए जरूर खेलेगा. 

वहीं मयंक के पिता प्रभु यादव ने बताया,

मयंक ने 7 साल की उम्र से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था. इसके बाद मैंने उनसे क्रिकेट एकेडमी में शामिल होने के लिए कहा और तब से उसके इस सफर की शुरुआत हो गई.

प्रभु ने कहा कि ये मयंक का सपना था जिसे अब वो जी रहा है. पिता बोले,

मुझे याद है मैं सड़कों पर खड़े होकर मैच देखा करता था. उसने काफी ज्यादा मेहनत की है. मुझे पूरी उम्मीद है कि वो आगे भी ऐसे ही मेहनत करता जाएगा और टीम इंडिया की जर्सी में नजर आएगा.

155+ स्पीड का बादशाह

मयंक यादव का IPL डेब्यू महज़ छह दिन पहले हुआ था. यानी 30 मार्च को. 2 अप्रैल तक उन्होंने IPL के इतिहास में सबसे ज्यादा बार 155 mph से ज्यादा की स्पीड वाली गेंदें डाल दीं. मयंक के नाम IPL में 155 से ज्यादा स्पीड वाली तीन गेंदें हैं. इस मामले में ब्रेट ली, शॉन टेट, शोएब अख्तर, डेल स्टेन जैसे दिग्गज भी उनसे पीछे हैं. मयंक समेत कुल पांच ही बोलर इस लीग में 155 से ज्यादा तेज गेंदें फेंक पाए हैं.

शॉन टेट के नाम इस लीग में सबसे तेज गेंद का रिकॉर्ड है. उन्होंने 157.71 की स्पीड से सबसे तेज गेंद डाली थी. लिस्ट में उमरान मलिक, लॉकी फ़र्ग्युसन, अनरिख नॉर्क्या और उमरान मलिक भी शामिल हैं. लेकिन कोई भी बोलर 155 mph से ऊपर तीन गेंदें नहीं फेंक पाया है. मयंक ने अभी तक 156.7, 155.8 और 155.3 की स्पीड से गेंदें डाली हैं. मयंक का रिकॉर्ड इसलिए भी खास है, क्योंकि इन बोलर्स ने सैकड़ों गेंदें फेंक रखी हैं और मयंक ने अभी सिर्फ 48 गेंदें डाली हैं.

वीडियो: IPL 2024 में सबसे तेज गेंद फेंकने वाले मयंक की कहानी, जिसने स्पीडोमीटर तोड़ दिया है

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement