The Lallantop
Advertisement

श्रेयस, ईशान मामले पर BCCI को मिला पाकिस्तानी खिलाड़ी का सपोर्ट!

श्रेयस अय्यर, ईशान किशन मामले में BCCI की तारीफ कर रहे हैं पूर्व पाकिस्तानी प्लेयर. इनका कहना है कि BCCI ने ईशान और श्रेयस के साथ बिल्कुल ठीक किया.

Advertisement
Indian Cricket Players Ishan Kishan and Shreyas Iyer
श्रेयस अय्यर और ईशान किशन (फोटो - AP)
3 मार्च 2024 (Updated: 3 मार्च 2024, 18:16 IST)
Updated: 3 मार्च 2024 18:16 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

श्रेयस अय्यर और ईशान किशन. BCCI सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट खोने वाले दो प्लेयर्स. इन दो पर खूब चर्चा हो रही है. और अब ये चर्चा पाकिस्तान तक पहुंच गई हैं. पूर्व पाकिस्तानी प्लेयर कामरान अकमल का कहना है कि BCCI ने दोनों प्लेयर्स के साथ सही किया. कामरान ने कहा कि बोर्ड के ऑर्डर को फॉलो ना करने के लिए सज़ा के रूप में ये एक्शन जरूरी था.

अपने यूट्यूब चैनल पर BCCI को सराहते हुए कामरान बोले,

'श्रेयस अय्यर ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ के पहले दो टेस्ट खेले. अगर आप उस फॉर्मेट वाले क्रिकेट की वेल्यू नहीं करेंगे, जिसकी वजह से आप नेशनल टीम में पहुंचे तो इससे यंगस्टर्स तक क्या संदेश पहुंचेगा?

BCCI ने नुकसान को कंट्रोल करने के लिए शुरुआत में ही इतनी सख्त कार्रवाई करके सही फैसला लिया. अगर उन्होंने प्लेयर्स पर फाइन लगाया होता और उनको सेंट्रल कॉन्ट्रेक्ट दिए होते, तो भविष्य में बहुत से प्लेयर्स अपनी शर्तों पर खेलना शुरू कर देते. इंडिया ने अपने खिलाड़ियों को यह सुनिश्चित करने का संदेश दिया है कि कोई अगली बार ऐसा कुछ करने के बारे में सोचे भी नहीं. ये अच्छे मैनेजमेंट का प्रूफ है. कोई भी गेम से बड़ा नहीं है.'

ये भी पढ़ें- गावस्कर ने ध्रुव जुरेल को बताया था अगला धोनी, क्या हुआ जो अब अपने कहे पर सफाई देने लगे?

कामरान के अलावा कई पूर्व इंडियन प्लेयर्स भी BCCI के इस फैसले से सहमत है. वहीं, कई फैसले से नाखुश भी हैं. पूर्व BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने भी इस मुद्दे पर बात की. टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा,

'BCCI सेक्रेटरी जय शाह, प्रेसिडेंट रोजर बिन्नी और सेलेक्टर्स को ईशान किशन से बात करनी चाहिए. अभी तक उन्होंने रणजी खेली है, और उसके बाद वाइट बॉल क्रिकेट भी. क्या इसने उनको खराब प्लेयर बनाया? नहीं.

दिल्ली कैपिटल्स में जो भी खिलाड़ी पिक हुए हैं, उन्होंने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी, विजय हजारे ट्रॉफी और रणजी ट्रॉफी खेला है. यहां तक कि ईशांत शर्मा ने भी रणजी ट्रॉफी खेला है. खलील अहमद ने बहुत समय बाद पूरा सीज़न खेला. हमने ऑफ सीज़न में उनके साथ काम किया था और रणजी खेलने के लिए उनको फिट किया. सिर्फ एक या दो ही ऐसे खिलाड़ी हैं, जिनसे बात करने की जरूरत है.'

बताते चलें, इस झमेले के बीच श्रेयस अय्यर रणजी खेलने लौट आए हैं. हालांकि उनकी वापसी बहुत अच्छी नहीं रही. मुंबई के लिए तमिलनाडु के खिलाफ पहली पारी में वो कुल तीन रन बनाकर आउट हो गए. इनसे पहले ईशान किशन डीवाई पाटिल T20 टूर्नामेंट में RBI के लिए मैदान पर उतरे थे.

वीडियो: DRS पर रोए माइकल वॉन को हॉक आई बनाने वाले अंग्रेज ने जबरदस्त हौंक दिया!

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement