The Lallantop
Advertisement

"सिर्फ क्रिकेट में ही अच्छे नहीं"- उत्तराखंड टनल रेस्क्यू एक्सपर्ट अर्नोल्ड ऐसा क्यों कहा?

उत्तरकाशी सुरंग हादसे में मजदूरों को बचाने के लिए चलाए जा रहे ऑपरेशन में अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ Arnold Dix ने मुख्य भूमिका निभाई है. ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले अर्नोल्ड 12 नवंबर से इस ऑपरेशन में शामिल हैं.

Advertisement
International tunnelling expert Arnold Dix said Australia is not only good in Cricket but does other things too.
ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले अर्नोल्ड डिक्स जिनेवा के अंतरराष्ट्रीय टनलिंग एंड अंडरग्राउंड स्पेस एसोसिएशन के प्रमुख हैं. (फोटो क्रेडिट- पीटीआई)
font-size
Small
Medium
Large
29 नवंबर 2023 (Updated: 29 नवंबर 2023, 13:52 IST)
Updated: 29 नवंबर 2023 13:52 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तरकाशी में सिल्क्यारा सुरंग हादसे (Uttarkashi Tunnel Collapse Rescue) में फंसे सभी 41 मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. इस ऑपरेशन में कई अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों ने भी अपनी भूमिका निभाई. इसमें से एक नाम फिलहाल सभी की जुबान पर चढ़ा हुआ है- अर्नोल्ड डिक्स (Arnold Dix).

अर्नोल्ड डिक्स मूल रूप से ऑस्ट्रेलिया के रहने वाले हैं. वे फिलहाल जेनेवा के अंतरराष्ट्रीय टनलिंग एंड अंडरग्राउंड स्पेस एसोसिएशन के प्रमुख हैं. अर्नोल्ड 12 नवंबर से उत्तरकाशी सुरंग हादसे में फंसे मजदूरों को बचाने के लिए काम कर रहे हैं. मजदूरों के बाहर आने पर उन्होंने कहा,

"साफ मन और गर्मजोशी के साथ कुछ भी किया जा सकता है. असंभव को भी संभव बनाया जा सकता है. यहां हमने यही किया."

Arnold Dix ने मंदिर में टेका माथा

सिल्क्यारा सुरंग में फंसे मजदूरों के बाहर आने पर अर्नोल्ड ने सुरंग के बाहर बने स्थानीय देवता के मंदिर में माथा टेका. 

सिल्क्यारा सुरंग के मुहाने पर बाबा बोखनाग देवता का मंदिर बनाया गया था. मंदिर में पूजा करने के बाद अर्नोल्ड ने कहा,

"मैंने अपने लिए कुछ भी नहीं मांगा. मैंने सुरंग के अंदर मौजूद 41 लोगों के लिए प्रार्थना की. उनके लिए भी प्रार्थना की जिन्होंने फंसे हुए मजदूरों को बाहर निकालने में मदद की. हमने बिना किसी को चोट पहुंचाए सबको बचा लिया."

ये भी पढ़ें- उत्तरकाशी सुरंग में फंसे सभी मजदूरों को कैसे बचाया गया? 

क्रिकेट को लेकर क्या बोले Arnold Dix?

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीज ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट कर अर्नोल्ड को बधाई दी. उन्होंने लिखा,

"भारतीय अधिकारियों को बेहतरीन सफलता मिली. हमें गर्व है कि ऑस्ट्रेलियाई प्रोफेसर अर्नोल्ड डिक्स ने ग्राउंड पर रहकर इस ऑपरेशन में अपनी भूमिका निभाई."

अर्नोल्ड डिक्स ने अपने प्रधानमंत्री को धन्यवाद देते हुए कहा,

"ये दिखाना मेरे लिए सौभाग्य और खुशी की बात है कि हम केवल क्रिकेट में ही शानदार नहीं हैं. बल्कि हम सुरंग में फंसे लोगों को निकालने का काम भी करते हैं. सभी 41 लोगों को बाहर निकाल लिया गया है. वे सभी सुरक्षित हैं. सब एकदम सही है."

ये भी पढ़ें- उत्तराखंड सुरंग बचाव अभियान के पीछे की पूरी कहानी

अर्नोल्ड डिक्स ने भारतीय इंजीनियर्स की तारीफ की और इस ऑपरेशन का हिस्सा बनने पर खुशी भी जाहिर की. उन्होंने कहा कि उन सबने मिलकर एक बेहतरीन टीम की तरह काम किया. उन्होंने ये भी बताया कि सिल्क्यारा सुरंग में फंसे मजदूरों की मदद कर पाना उनके लिए सम्मान की बात है.

वीडियो: दी लल्लनटॉप शो: उत्तरकाशी सुरंग से जिंदा लौटे मजदूर, आखिरी पलों में क्या हुआ?

thumbnail

Advertisement