The Lallantop
Advertisement

यूपी में RO-ARO की भी परीक्षा रद्द, जानिए दोबारा कब होगी

UP RO ARO Exam: यूपी के CM Yogi Adityanath ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि RO-ARO परीक्षा अब 6 महीने के अंदर फिर आयोजित करवाई जाएगी.

Advertisement
RO/ARO exam cancelled amid allegations
RO-ARO परीक्षा 6 महीने के अंदर फिर आयोजित करवाई जाएगी ( फोटो- आज तक )
2 मार्च 2024
Updated: 2 मार्च 2024 22:04 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तर प्रदेश में 11 फरवरी 2024 को हुई RO-ARO परीक्षा को रद्द कर दिया गया है. अब ये परीक्षा 6 महीने में दोबारा कराई जाएगी. इस परीक्षा का पेपर लीक होने के आरोप बार-बार लग रहे थे, अभ्यर्थी लगातार परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे थे और जांच भी बैठाई गई थी. अब 2 मार्च को सूबे के CM योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके जानकारी दी कि परीक्षा रद्द कर दी गई है.

CM ने ट्वीट में लिखा कि उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग को निर्देश दे दिए गए हैं. साथ ही CM ने पेपर लीक के आरोपियों पर सख्त कार्रवाई कराए जाने की बात भी कही है. इससे पहले हाल ही में उत्तर प्रदेश सिपाही भर्ती परीक्षा को भी रद्द कर दिया गया था. इस परीक्षा का भी पेपर लीक हो गया था.

इस फैसले पर प्रतियोगी परीक्षा के अभ्यर्थियों और शिक्षकों ने मिलीजुली प्रतिक्रिया शेयर की है.

प्रवीण कुमार ने लिखा कि दोषियों पर बुलडोजर कब चलेगा.

डॉ सुनील नाम के यूजर ने सरकार से परीक्षा में सेंधमारी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है. उन्होंने लिखा,

देवेंद्र कुमार मिश्रा ने योगी सरकार पर रोष जताते हुए लिखा,

11 फरवरी को यूपीपीएससी (UPPSC) ने RO-ARO की परीक्षा आयोजित कराई थी. परीक्षा के दिन ऐसी खबरें आईं कि एग्जाम से पहले ही पेपर लीक हो गया. सोशल मीडिया पर प्रश्न पत्र वायरल होने लगा. इसके बाद से ही अभ्यर्थी राज्य सरकार से परीक्षा रद्द करने और इसे दोबारा आयोजित कराने की मांग कर रहे थे.

ये भी पढ़ें-  Prayagraj में छात्रों ने RO-ARO भर्ती का सारा सच बता दिया

इस भर्ती परीक्षा में 10,69, 725 उम्मीदवारों ने आवेदन किया था. परीक्षा राज्य के 58 जिलों के 2387 केंद्रों पर आयोजित कराई गई थी. बात RO/ARO भर्ती परीक्षा की करें तो इसमें दो पेपर होते हैं- पहला सामान्य अध्ययन (ऑब्जेक्टिव टाइप), जो कुल 140 अंकों के लिए दो घंटे का एग्जाम होता है. वहीं दूसरा पेपर सामान्य हिंदी (प्रारंभिक परीक्षा) का होता है. इसमें ऑब्जेक्टिव टाइप 60 सवाल होते हैं. जिसके लिए 1 घंटा मिलता है.  कुल मिलाकर दोनों पेपर में 200 सवाल होते है. हर सवाल 1 मार्क्स का होता है. और ये एग्जाम कुल मिलाकर तीन घंटे का होता है. 

इस बीच उत्तर प्रदेश में 12वीं की बोर्ड परीक्षा में भी पेपर लीक के आरोप लग रहे हैं. 2 फरवरी को यूपी बोर्ड का इंटर का बायो और मैथ्स का पेपर था. दोपहर 2 बजे से पेपर शुरू होना था लेकिन आरोप है कि इसके एक घंटे में ही आगरा में अलग-अलग वॉट्सएप ग्रुप्स पर पेपर घूमने लगे. लल्लनटॉप से बात करते हुए आगरा के ADCP केशव कुमार चौधरी के ऑफिस ने जानकारी दी कि मामले में FIR दर्ज कर 2 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है और सभी आरोपों की जांच की जा रही है.

वीडियो: पेपर लीक पर इन छात्रों की बात भी सुननी चाहिए

thumbnail

Advertisement