The Lallantop
Advertisement

'मैदान तुम चुनो, कार्यकर्ता हम देंगे'- स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को अब क्यों चुनौती दे दी?

Smriti Irani ने Rahul Gandhi को बहस के लिए चुनौती दी है. उन्होंने 26/11 और राम मंदिर के मुद्दे पर भी Congress को घेरा है.

Advertisement
Smriti Irani and Rahul Gandhi
स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को बहस की चुनौती दी है. (फाइल फोटो: इंडिया टुडे)
font-size
Small
Medium
Large
5 मार्च 2024 (Updated: 5 मार्च 2024, 13:44 IST)
Updated: 5 मार्च 2024 13:44 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और कांग्रेस (Congress) पर निशाना साधा है. UPA और भाजपा के 10 सालों के कार्यकाल में किए कामों पर बहस के लिए उन्होंने कांग्रेस नेता को चुनौती दी है. न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक उन्होनें कहा,

"राहुल गांधी तक मेरी आवाज पहुंचे तो मेरी बात कान खोलकर सुन लो. मैदान तुम चुनो, कार्यकर्ता हम देंगे. आओ तुम्हारे 10 साल और मोदी के 10 साल में क्या फर्क है, इस पर चर्चा हो जाए."

उन्होंने आगे कहा,

“इसकी गारंटी देती हूं कि युवा मोर्चा का कोई भी साधारण कार्यकर्ता जाकर राहुल गांधी के सामने बोलने लगे तो राहुल गांधी में इतना दम नहीं कि उनके सामने टिक पाए.”

ये भी पढ़ें: 'मोदी का परिवार' वाले बयान पर BJP का पलटवार, दिल्ली में लगाया पोस्टर, अब क्या करेगा विपक्ष?

केंद्रीय मंत्री ने 26/11 की भी बात की. उन्होंने कहा,

"26/11 का आतंक हम सबने अपनी आंखों से देखा. पाकिस्तान से आतंकवादी आए और मुंबई की सड़कों को लहूलुहान कर दिया. और दिल्ली में सोनिया मैडम की सरकार चुपचाप तमाशा देखती रही. उस शाम जब मुबंई लहूलुहान हो रही थी तब मीडिया के माध्यम से पता चला कि कांग्रेस के युवराज किसी जश्न में व्यस्त थे."

स्मृति ईरानी नागपुर में भाजपा के 'नमो युवा महासम्मेलन' कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं. इस दौरान उन्होंने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर भी राहुल गांधी पर निशाना साधा. कहा,

“जब रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हुई थी, तब राहुल गांधी को आमंत्रित किया गया था. लेकिन अहंकार देखिए उन्होंने आमंत्रण को ठुकरा दिया.”

अमेठी से सांसद हैं Smriti Irani

पिछले दिनों भाजपा ने लोकसभा चुनाव 2024 के लिए अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी की. भाजपा ने स्मृति ईरानी को उनकी पुरानी सीट अमेठी से उनको फिर से उम्मीदवार बनाया है. 2019 में इस सीट पर केंद्रीय मंत्री ने राहुल गांधी को हराया था. हालांकि, गांधी केरल की वायनाड सीट से चुनाव जीत गए थे. इससे पहले 2004, 2009 और 2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी को इस सीट पर जीत मिली थी. 

वीडियो: राहुल गांधी की न्याय यात्रा में क्या बोले अखिलेश यादव?

thumbnail

Advertisement