The Lallantop
Advertisement

'मोदी का परिवार' वाले बयान पर BJP का पलटवार, दिल्ली में लगाया पोस्टर, अब क्या करेगा विपक्ष?

Jan Vishwas Maharally के दौरान Lalu Yadav ने कहा था कि PM Modi का कोई परिवार नहीं है. BJP के नेता अब जवाब दे रहे हैं.

Advertisement
Modi Ka Parivar
लालू के यादव के बयान पर भाजपा ने पलटवार किया है. (फाइल फोटो: इंडिया टुडे/PTI)
font-size
Small
Medium
Large
5 मार्च 2024 (Updated: 5 मार्च 2024, 16:22 IST)
Updated: 5 मार्च 2024 16:22 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

भाजपा के कई बड़े नेताओं ने सोशल मीडिया पर अपने नाम के आगे ‘मोदी का परिवार’ (Modi Ka Parivar) लिख लिया है. ये तब हुआ जब 4 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) तेलंगाना में बोल रहे थे. PM मोदी ने यहां लालू यादव (Lalu Yadav) के परिवार पर दिए बयान का जवाब दिया. इससे पहले 3 मार्च को बिहार की राजधानी पटना के गांधी मैदान में राजद की ‘जन विश्वास महारैली’ (Jan Vishwas Maharally) हुई थी. इस रैली में लालू यादव ने कहा था कि PM मोदी के पास परिवार नहीं है. यादव के इस बयान पर राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो गई है. 

गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के साथ कई बड़े भाजपा नेताओं ने सोशल मीडिया पर अपने नाम के आगे ‘मोदी का परिवार’ लिखा है. 

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने कहा है, 

"पूरा देश ही मोदी का परिवार है. लालू यादव को अपने परिवार की तरह राज्य के लोगों की परवाह नहीं है. ऐसे लोग क्या कर सकते हैं जिनका आधार भ्रष्टाचार और परिवारवाद पर आधारित है?"

ये भी पढ़ें: लालू यादव ने अपनी रैली में क्या-क्या कहा? पूरा बयान पढ़ें

भाजपा सांसद रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि प्रधानमंत्री का हृदय बहुत बड़ा है, उसमें पूरा देश है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इस पूरे देश को अपना परिवार मानते है.

बिहार के उप मुख्यमंत्री सम्राट चौधरी ने पलटवार करते हुए कहा कि लालू यादव राम विरोधी हैं. चौधरी ने कहा कि BJP एक संपूर्ण परिवार है और इसलिए हमने ‘मोदी का परिवार’ लिखा है.

दिल्ली में लगे पोस्टर्स

इस बीच दिल्ली के ITO, मंडी हाउस और अन्य जगहों पर होर्डिंग्स लगे हैं. जिस पर 'हम भी हैं मोदी का परिवार' लगा है. पोस्टर्स पर BJP दिल्ली उपाध्यक्ष कपिल मिश्रा का नाम लिखा है. पोस्टर पर लिखा है, “140 करोड़ जनता है मोदी का परिवार”. INDIA गठबंधन के नेताओं पर भी निशाना साधा गया है.

 

modi ka parivar posters
दिल्ली में लगा पोस्टर. (तस्वीर साभार: इंडिया टुडे)

वहीं इस मामले में INDIA गठबंधन के नेताओं ने भी बयान दिए हैं. ‘मोदी का परिवार’ नाम को लेकर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने X पर लिखा,

“लगता है मेले में बिछड़ा परिवार मिल गया.”

कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत ने इसे भाजपा का ‘ध्यान भटकाव’ कैंपेन बताया है. उन्होंने कहा है कि कि भाजपा मुद्दों से भटका रही है. मुख्य मुद्दे हैं महंगाई, पेपर लीक और बेरोजगारी. उन्होंने कहा कि PM मोदी को परिवारवाद पर बोलना बंद कर देना चाहिए और उन्हें महंगाई, बेरोजगारी, आर्थिक असमानता, गरीबी और महिलाओं के खिलाफ अपराध पर बोलना शुरू करना चाहिए.

राजद की महारैली में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ लेफ्ट की पार्टियों के नेता भी मौजूद थे. इसी रैली में राजद प्रमुख ने PM मोदी के परिवार पर सवाल उठाया था. कहा था,

"ये नरेंद्र मोदी परिवारवाद पर हमला कर रहे हैं. अरे भाई, तुम बताओ न कि तुमको परिवार में कोई संतान क्यों नहीं हुआ? तुम्हारे पास परिवार नहीं है."

लालू यादव के इस बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा ने अब इसे अपना चुनावी कैंपेन बना लिया है. इससे पहले 2019 में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बयान दिया था कि चौकीदार चोर है. इसके बाद भाजपा ने ‘मैं भी चौकीदार’ कैंपेन चलाया था.

वीडियो: 'PM Modi के हिंदू होने पर सवाल', नीतीश 'पलटूराम', जन विश्वास रैली में जमकर बरसे लालू यादव

thumbnail

Advertisement