The Lallantop
Advertisement

'UPSC टाइम वेस्ट' वाले कॉमेंट पर संजीव सान्याल की मौज ली गई, जवाब क्या आया?

Sanjeev Sanyal ने कहा था UPSC एग्जाम देने के बारे में केवल उन लोगों को सोचना चाहिए जो वाकई में एडमिनिस्ट्रेटर बनने में दिलचस्पी रखते हैं.

Advertisement
sanjeev sanyal son varun sanyal upsc civil services mma fighter
संजीव सान्याल के बेटे वरुण सान्याल एक MMA फाइटर हैं. (फोटो- इंस्टाग्राम)
1 अप्रैल 2024 (Updated: 1 अप्रैल 2024, 20:07 IST)
Updated: 1 अप्रैल 2024 20:07 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

26 मार्च को पीएम मोदी की आर्थिक सलाहकार परिषद (EAC-PM) के सदस्य संजीव सान्याल ने UPSC परीक्षा पर एक बात कही. सान्याल ने कहा कि UPSC की तैयारी युवा ऊर्जा की बर्बादी है. जिसके बाद से सोशल मीडिया पर कई तरह की बातें होने लगीं. आज 1 अप्रैल है. कई लोग आज ‘April Fools Day’ भी मनाते हैं. संजीव सान्याल और UPSC (Sanjeev Sanyal UPSC comment) की बात कर एक शख्स ने सान्याल के साथ खेल कर दिया. माने सान्याल को April Fool बना दिया. लगभग.

April Fool बनाने का ये पूरा बगीचा सजा सोशल मीडिया वेबसाइट X पर. अब कई लोगों का ‘Ex’ यूपीएससी की तैयारी रहा/ रही होगी. ऐसे ही लोगों का दिल 26 मार्च के दिन फिर से टूटा होगा. संजीव सान्याल की UPSC पर टिप्पणी के बाद. उन्होंने क्या कहा था, ये आपको आगे बताते हैं. पहले जानते हैं 1 अप्रैल को सान्याल के साथ क्या प्रैंक हुआ.

दरअसल, UPSC पर दिए गए बयान के बाद से संजीव सान्याल काफी चर्चा में हैं. ऋषिकेश टकसाले नाम के एक शख्स ने X पर एक पोस्ट किया. टकसाले ने सान्याल की फोटो के साथ उनके बेटे को जोड़ते हुए लिखा,

संजीव सान्याल ने स्वीकार किया कि उन्होंने कॉप्टीशन कम करने के लिए ही UPSC की आलोचना की. ताकि Vision IAS नाम की कोचिंग में पढ़ रहा उनका बेटा इस साल UPSC एग्जाम पास कर सके.

इतना ही नहीं टकसाले ने इस थ्रेड में एक और पोस्ट जोड़ा. उसमें लिखा कि जिन लोगों के पास थोड़ा भी IQ है, वो इस पोस्ट की सच्चाई जानते हैं. अब सच्चाई क्या थी, ये सभी तो नहीं जानते. क्या संजीव के बेटे वरुण सान्याल वाकई UPSC की तैयारी कर रहे हैं? क्या वो भी IAS-YAS बनना चाहते हैं?

इस पोस्ट पर संजीव सान्याल का भी कमेंट आया. उन्होंने लिखा,

आपको जानना चाहिए कि वरुण सान्याल वास्तव में क्या करते हैं…

संभवतः टकसाले को लगा कि सान्याल उनके पोस्ट का मर्म समझ नहीं पाए. तो टकसाले ने कमेंट करके उन्हें समझाया. लिखा,

आशा करता हूं कि आप इसे दिल से नहीं लेंगे. मैं बस ‘April Fools Day’ के ट्रेंड को फॉलो कर रहा था.

संजीव सान्याल ने टकसाले की इस बात को माना और कहा कि उन्होंने कमेंट्स पढ़े और उनका कमेंट भी मज़ाकिया था. पर संजीव के साथ ‘April Fools Day’ वाला खेल हो चुका था. लोगों ने भी मौज लेना शुरू कर दिया. रजत नाम के एक सज्जन ने लिखा,

 ‘राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा.’

यहीं नहीं. लोगों ने संजीव के बेटे वरुण को लेकर भी मौजीले कमेंट्स किए. एक अकाउंट से लिखा गया,

संजीव का बेटा ऐसा शख्स नहीं जिसके साथ मैं मज़ाक करना चाहूंगा.

क्यों? इसके लिए आपको ट्वीट में नत्थी वरुण की तस्वीर देखनी होगी.

MMA फाइटर वरुण

यहां ये भी बताते चलें कि संजीव सान्याल के बेटे वरुण सान्याल एक MMA फाइटर हैं. वो भारत की तरफ से International Mixed Martial Arts Federation World Championship 2023 में खेल चुके हैं. इस टूर्नामेंट में वरुण ने दो मैच जीते थे और एक मैच में उन्हें हार मिली थी. वो इंडियन नेशनल चैंपियन बने थे. टूर्नामेंट में उन्होंने IMMAF African Champion को हराया था. वो आगे आने वाले टूर्नामेंट्स के लिए भी तैयारी में जुटे हैं.            

UPSC समय बर्बादी!

संजीव सान्याल 'द नियॉन शो' नाम के पॉडकास्ट में सिद्धार्थ अहलूवालिया से बातचीत कर रहे थे. उनसे पूछा गया कि UPSC की कठिन परीक्षा की तैयारी करना प्रयास के लायक है या नहीं? जवाब में उन्होंने कहा कि दशकों से पश्चिम बंगाल और बिहार जैसे क्षेत्रों में लोगों की आकांक्षाएं सीमित थीं. वे सिर्फ बुद्धिजीवी, नेता या स्थानीय राजनेता जैसी भूमिकाओं के बारे में सोचते थे. सान्याल ने आगे कहा,

यह सिमटी हुई सोच अक्सर लोगों को अलग-अलग तरह के अवसरों के बजाय एकमात्र विकल्प के रूप में सिविल सेवा में करियर बनाने की ओर ले जाती है. UPSC एग्जाम देने के बारे में केवल उन लोगों को सोचना चाहिए जो वाकई में एडमिनिस्ट्रेटर बनने में दिलचस्पी रखते हैं.

सान्याल ने भारत के युवाओं से अपील की कि उन्हें अन्य क्षेत्रों में भी अपने जुनून और संभावित योगदान के बारे में विचार करना चाहिए. उन्होंने कहा कि जोखिम लेने और उद्यमिता के प्रति सामाजिक नजरिए को बदलने की जरूरत है. चर्चित इकॉनमिस्ट ने मध्यमवर्गीय लोगों की मानसिकता में सकारात्मक बदलाव दिखने की बात कही जिसमें ज्यादातर लोग जोखिम लेने और वेंचर शुरू करने के इच्छुक हैं.

वीडियो: इकोनॉमिक एडवाइजर संजीव सान्याल ने बताया लॉकडाउन को लेकर मोदी सरकार का क्या प्लान है?

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement