The Lallantop
Advertisement

राहुल गांधी ने कुत्ते वाला बिस्किट 'कांग्रेस कार्यकर्ता' को देने के आरोप पर जवाब दिया है

बीजेपी के कुछ नेता एक वीडियो को शेयर कर रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी ने वही बिस्किट कुत्ते के मालिक को दे दिया, जो कुत्ते ने खाने से इनकार कर दिया. हिमंता बिस्वा सरमा ने तो कुत्ते और बिस्किट से जुड़ी एक पुरानी कहानी याद दिला दी.

Advertisement
Rahul Gandhi feeding dog video
बीजेपी नेताओं के आरोपों पर राहुल ने जवाब दिया है (फोटो- वीडियो स्क्रीनशॉट/कांग्रेस)
6 फ़रवरी 2024
Updated: 6 फ़रवरी 2024 17:55 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा और एक कुत्ता. अगर आप राजनीति के किस्सों में दिलचस्पी लेते हैं तो इन तीनों किरदारों की एक पुरानी कहानी जरूर जानते होंगे. कांग्रेस छोड़ने पर हिमंता ने सबके सामने राहुल गांधी और उनके कुत्ते पिडी का एक किस्सा सुनाया था. नहीं जानते तो वो किस्सा भी बताएंगे, लेकिन पहले जानिए कि अब नया क्या हुआ है.

राहुल गांधी की 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' फिलहाल झारखंड में है. 4 फरवरी को राहुल गांधी का एक वीडियो सामने आया था. इसमें वो एक कुत्ते को बिस्किट खिला रहे हैं. इसी पर बीजेपी नेताओं ने उन्हें घेर लिया है. और मामला हिमंता बिस्वा सरमा तक भी पहुंच गया. एक-एक कर सब बताते हैं.

राहुल गांधी, हिमंता बिस्वा सरमा और कुत्ता

'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' के सोशल मीडिया हैंडल से 4 फरवरी को वीडियो शेयर किया गया. इसमें राहुल गांधी एक कुत्ते को बिस्किट खिला रहे हैं. फिर बीजेपी के कुछ नेता इसी वीडियो से जुड़ी एक क्लिप को शेयर करने लगे. दावा किया कि राहुल गांधी ने वही बिस्किट कुत्ते के मालिक को दे दिया, जो कुत्ते ने खाने से इनकार कर दिया.

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने भी इस वीडियो को शेयर किया. वीडियो पोस्ट कर उन्होंने X पर लिखा, 

"कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए कोई 'न्याय' नहीं है? राहुल गांधी ने वो बिस्किट कार्यकर्ताओं को खिला दिया जो कुत्ते ने खाने से इनकार कर दिया. ये उनके परिवार की सामंती परिवार और प्रथम परिवार की संभ्रांत मानसिकता है."

खुद को मुंबई बीजेपी आईटी सेल का को-कन्वेनर बताने वाली पल्लवी सीटी ने भी वीडियो को शेयर किया. राहुल का वीडियो शेयर कर वो लिखती हैं, 

"कितना शर्मनाक है. पहले राहुल गांधी ने हिमंता बिस्वा सरमा जी को उसी प्लेट से बिस्किट खिलाया, जिसमें उनका पालतू कुत्ता पिडी खा रहा था. फिर कांग्रेस अध्यक्ष खरगे जी ने पार्टी कार्यकर्ताओं की तुलना कुत्तों से की. और अब शहजादे (राहुल) ने कुत्ते का छोड़ा बिस्किट एक पार्टी कार्यकर्ता को दे दिया. अपने पार्टी कार्यकर्ताओं, समर्थकों और वोटर्स के लिए उनका यही सम्मान है?"

पल्लवी सीटी के इसी पोस्ट को हिमंता बिस्वा सरमा ने रीशेयर कर जवाब दिया. सरमा ने लिखा, 

"पल्लवी जी, सिर्फ राहुल गांधी नहीं बल्कि उनका पूरा परिवार मुझे वो बिस्किट नहीं खिला पाया. मैं एक गर्व से भरा असमिया और भारतीय हूं. मैंने खाने (बिस्किट) से इनकार कर दिया था और कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया."

जब वीडियो वायरल हुआ तो राहुल गांधी से इस पर पत्रकारों ने सवाल भी पूछ लिया. झारखंड के गुमला में 6 फरवरी को राहुल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसी वार्ता में उनसे वीडियो से जुड़ा सवाल पूछा गया. राहुल ने जवाब दिया, 

"मैंने कुत्ते और उसके मालिक को बुलाया था. क्योंकि वो बहुत घबराया हुआ था और कांप रहा था. जब मैंने उसे बिस्किट दिया तो वो डर गया. तो मैंने उसके मालिक को दिया कि आप दे दो, आपके हाथ से खा लेगा. और मालिक ने उसको दिया तो वो खा गया. तो इसमें मुद्दा क्या है?"

आरोप लगा कि कुत्ते का मालिक कांग्रेस का कार्यकर्ता था. इस पर राहुल गांधी ने जवाब दिया कि नहीं वो कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं हैं. कहा,

"मुझे नहीं पता कि वे (बीजेपी) कुत्तों के पीछे क्यों पड़े हैं. नहीं सचमुच, उनका कुत्तों ने क्या बिगाड़ा है?"

अब जानिए पुराना किस्सा

ये कोई पहली बार नहीं है जब राहुल गांधी और हिमंता के बीच कुत्ते को लेकर ये अदावत हुई हो. हिमंता बिस्वा सरमा अगस्त 2015 में बीजेपी में शामिल हुए थे. इससे सालभर पहले जुलाई 2014 में उन्होंने कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था. इस्तीफे की अलग-अलग वजहें बताई गईं. फिर साल 2016 में सरमा ने एक बयान दिया था, जिसकी चर्चा आज तक होती है.

हिमंता ने कांग्रेस छोड़ने से पहले राहुल गांधी से दिल्ली में हुई एक मुलाकात का जिक्र किया. कहा कि वे असम से जुड़े एक गंभीर मुद्दे पर राहुल से चर्चा करने गए थे. दावा किया कि बैठक में शामिल कांग्रेस के कुछ नेताओं ने उसी थाली में बिस्कुट खाया, जिसमें राहुल का कुत्ता पिडी भी बिस्कुट खा रहा था. सरमा का आरोप था कि राहुल गांधी नेताओं से बात करने के बदले अपने कुत्तों के साथ खेलना अधिक पसंद करते हैं. हिमंता ने तब कहा था इस बैठक के बाद ही उन्होंने बीजेपी नेता राम माधव को फोन किया था. उनको ये वाकया सुनाया. दोनों हंसे. इसी के बाद सरमा बीजेपी में शामिल हो गए.

हिमंता के इस बयान के एक साल बाद यानी 2017 में राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया. इसमें उन्होंने लोगों को अपने कुत्ते पिडी से मिलवाया था. 

हिमंता इस पोस्ट पर अपने आप को रोक नहीं पाए थे. उन्होंने रीपोस्ट करते हुए तब लिखा था, 

"राहुल सर, इसे मुझसे बेहतर कौन जानता है. अब भी याद है कि आप उन्हें बिस्किट खिलाने में व्यस्त थे, जबकि हम असम के जरूरी मुद्दों पर चर्चा करना चाहते थे."

इस पूरे विवाद पर हिमंता के दावे अपनी जगह हैं. राहुल गांधी ने इन आरोपों पर आज तक कोई जवाब नहीं दिया है.

वीडियो: राहुल गांधी-हिमंत बिस्वा सरमा की लड़ाई सालों पुरानी, पत्रकार ने पूरी कहानी बता दी

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement