The Lallantop
Advertisement

टिकट कटने पर PM मोदी के लिए ऐसा कहा था, अब बयान से क्यों 'पलटीं' प्रज्ञा ठाकुर?

Pragya Singh Thakur ने टिकट कटने के बाद दिए गए बयान को तोड़- मरोड़कर पेश करने का आरोप लगाया. जिसमें कहा गया था कि उनके शब्द शायद PM मोदी को पसंद नहीं आए होंगे, इसलिए उनको टिकट नहीं मिला होगा.

Advertisement
Pragya Singh Thakur, BJP, Lok sabha 2024
प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने मीडिया पर लगाया बयान को तोड़-मरोड़कर पेश करने का आरोप (PTI)
5 मार्च 2024 (Updated: 5 मार्च 2024, 09:02 IST)
Updated: 5 मार्च 2024 09:02 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

भारतीय जनता पार्टी की नेता और भोपाल से सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) को लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Elections 2024) के लिए पार्टी ने टिकट नहीं दिया. जिसके बाद उनकी प्रतिक्रिया सामने आई थी. जिसमें कहा गया कि उनके शब्द शायद PM मोदी को पसंद नहीं आए होंगे, इसलिए उनको टिकट नहीं मिला होगा. अब प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने मीडिया पर अपने इस बयान को तोड़- मरोड़कर पेश करने का आरोप लगाया है.

टिकट कटने के बाद वाले बयान पर कुछ मीडियाकर्मी 4 मार्च, 2024 को उनका रिएक्शन लेने पहुंचे थे. लेकिन इस बारे में उन्होंने सवालों का जवाब देने से एकदम साफ मना कर दिया. न्यूज एजेंसी PTI की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा,

“हम जो कुछ भी बोलते हैं, आप लोग उसे तोड़-मरोड़कर दिखाते हैं. मुझे ऐसी बातें पसंद नहीं हैं, न पहले और न आज. आज के बाद मैं मीडिया से बात नहीं करूंगी, क्योंकि आप लोग अपनी ‘टेलीविजन रेटिंग प्वाइंट’ (TRP) बढ़ाने के लिए मुझे पिछले 5 सालों से बदनाम कर रहे हैं. मैंने मूल वीडियो अपने फेसबुक हैंडल पर पोस्ट किया है. मुझे बदनाम करके आप कुछ हासिल नहीं कर पाएंगे.”

BJP सांसद ने आगे कहा कि आज से वह पत्रकारों से बात नहीं करेंगी. प्रज्ञा सिंह ठाकुर के मुताबिक उन्हें अब जो कुछ भी बताना होगा, उसके लिए ‘खुद के मीडिया’ का इस्तेमाल करेंगी.

ये भी पढ़ें: प्रज्ञा ठाकुर, प्रवेश वर्मा, मीनाक्षी लेखी...BJP ने और किसका-किसका टिकट काटा?

पहले क्या कहा था?

दरअसल, प्रज्ञा सिंह ठाकुर का टिकट बंटवारे के बाद बयान सामने आया था. जिसमें उनका कहना था कि उनके शब्द शायद पीएम मोदी को पसंद नहीं आए होंगे, इसलिए उनका टिकट कटा होगा. उन्होंने कहा था,

“यह संगठन का निर्णय है, इसमें यह नहीं सोचना चाहिए कि क्यों टिकट कटा, कैसे कटा. मैंने पहले भी टिकट नहीं मांगा था और अब भी नहीं मांगा है. हो सकता है मैंने कुछ ऐसे शब्दों का इस्तेमाल कर लिया जो मोदी जी को शायद पसंद नहीं आए. उन्होंने कहा था कि मुझे माफ नहीं करेंगे, लेकिन मैंने उसके लिए पहले ही माफी मांग ली थी.”

साल 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान नाथूराम गोडसे पर दिए प्रज्ञा ठाकुर के बयान ने बैठे-बिठाए BJP के लिए एक विवाद खड़ा कर दिया था. प्रज्ञा ठाकुर ने महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था. प्रज्ञा के इस बयान के बाद पीएम मोदी को भी प्रतिक्रिया देनी पड़ी थी. पीएम मोदी ने उनके इस बयान की आलोचना करते हुए कहा था कि वो उन्हें मन से कभी माफ नहीं कर पाएंगे.

Pragya Thakur का अब क्या कहना है?

उस बयान को लेकर जब प्रज्ञा सिंह ठाकुर से सवाल किया गया तो उन्होंने अब भी अपने उस बयान को सही करार दिया. प्रज्ञा ठाकुर ने कहा,

“मैंने जो भी कहा सत्य कहा लेकिन मीडिया ने उसे विवादित बयान कहकर मुद्दे को हवा दी. मेरा सत्य बोलना विरोधियों और कांग्रेस के लोगों को खटकता है और मेरी आड़ लेकर वो मोदी जी पर प्रहार करते हैं.”

बताते चलें कि प्रज्ञा 2019 में कांग्रेस के कद्दावर नेता दिग्विजय सिंह को 3.64 लाख वोटों से हराकर मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से सांसद बनीं थी. हालांकि इस बार उनका टिकट कट गया. भोपाल सीट से इस बार आलोक शर्मा को टिकट दिया गया है. आलोक शर्मा 1994 में भोपाल नगर निगम में पार्षद चुने गए थे. पिछले साल विधानसभा चुनाव में BJP ने उनको उत्तर क्षेत्र से भी मौका दिया था. हालांकि, तब उनको हार का सामना करना पड़ा था.

वीडियो: BJP सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने जिस लड़की को दी करेला स्टोरी दिखाई, उसने ऐसा क्या कर दिया?

thumbnail

Advertisement