The Lallantop
Advertisement

हल्द्वानी में मदरसे को बुलडोजर से गिराने पर भयंकर बवाल, भीड़ ने पुलिस की गाड़ी फूंकी

लोगों ने बनभूलपुरा थाने को चारों तरफ से घेर लिया. रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तराखंड पुलिस ने हिंसा करने वालों को देखते ही गोली मारने का आदेश दिया है.

Advertisement
Haldwani vivad
लोगों ने थाने को पूरी तरह घेर लिया (फोटो- वीडियो स्क्रीनशॉट/इंडिया टुडे)
8 फ़रवरी 2024 (Updated: 8 फ़रवरी 2024, 20:50 IST)
Updated: 8 फ़रवरी 2024 20:50 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तराखंड के हल्द्वानी (Haldwani) में 8 फरवरी का दिन तनाव भरा रहा. यहां बनभूलपुरा इलाके में नगर निगम ने कथित रूप से अवैध मदरसे को बुलडोजर से गिरा दिया. इसके बाद स्थानीय लोगों के साथ पुलिस की झड़प हो गई. पुलिस फोर्स पर पत्थरबाजी होने लगी. लोगों ने बनभूलपुरा थाने को चारों तरफ से घेर लिया. हालात ऐसे हो गए कि भीड़ ने पुलिस की गाड़ियों में आग भी लगा दी. हालात बिगड़ने के बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई है. रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तराखंड पुलिस ने हिंसा करने वालों को देखते ही गोली मारने का आदेश भी दिया है.

इंडिया टुडे से जुड़े राहुल धरमवाल की रिपोर्ट, हल्द्वानी नगर निगम ने ये कार्रवाई 'मलिक का बगीचा' इलाके में की है. नगर निगम का कहना है कि मदरसा और नमाज स्थल अवैध तरीके से बना हुआ था. इसलिए कार्रवाई हुई. 8 फरवरी को नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह, सहित कई अधिकारी मदरसे को गिराने के लिए भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे थे. लेकिन कार्रवाई के दौरान घरों से पत्थरबाजी शुरू हो गई.

महिलाएं भिड़ गईं

रिपोर्ट के अनुसार, इस पत्थरबाजी में कई पुलिसवाले और पत्रकार भी घायल हुए हैं. पुलिस ने जवाब में हवाई फायरिंग की और आंसू गैस के गोलेे तक छोड़े. इसके बाद भीड़ भी उग्र हो गई. घटनास्थल से कई वीडियो सामने आए हैं. एक वीडियो में दिख रहा है कि स्थानीय महिलाओं और पुलिस वालों के बीच बहस हो रही है. वहीं एक वीडियो में पुलिस वाले भीड़ पर लाठी चलाते नजर आ रहे हैं.

खबर है कि लोगों ने ट्रांसफॉर्मर में भी आग लगा दी, जिसके कारण इलाके में बिजली चली गई है. वहां प्रशासन के अधिकारी और पत्रकार भी फंसे हुए हैं. पुलिस ने कहा है कि पत्थरबाजी और आगजनी में शामिल लोगों की पहचान की जा रही है. जिलाधिकारी ने वनभूलपुरा में कर्फ्यू लगा दिया है.

रिपोर्ट बताती है कि चार दिन पहले भी हल्द्वानी नगर निगम ने मदरसे को 'अतिक्रमण' से हटाने की कोशिश की थी. लेकिन लोगों के विरोध के बाद फैसला वापस ले लिया गया. दोनों इमारतों को सील कर दिया गया था. नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय की माने तो मदरसा और नमाज वाली जगह पूरी तरह अवैध है. पास की तीन एकड़ जमीन पर नगर निगम ने वापस कब्जा कर लिया था.

घटना के बाद मुख्यमंत्री धामी ने राज्य के मुख्य सचिव, डीजीपी, इंटेलिजेंस के अधिकारियों के साथ बैठक की. सीएम ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है. बिगड़े हालात को देखते हुए 9 फरवरी को हल्द्वानी के सभी स्कूल बंद रहेंगे. 

बनभूलपुरा उसी इलाके में आता है जहां पिछले साल रेलवे ने अतिक्रमण हटाने को लेकर नोटिस भेजा गया था. रेलवे की जमीन पर बने घरों को एक हफ्ते के भीतर खाली करने का आदेश था. लेकिन मामला कोर्ट में जाने के बाद इस पर रोक लगी थी.

वीडियो: दी लल्लनटॉप शो: उत्तराखंड में UCC आने की पूरी कहानी क्या है?

thumbnail

Advertisement

Advertisement

Advertisement