The Lallantop
Advertisement

गोगामेड़ी मर्डर: चंडीगढ़ से पकड़े गए तीन आरोपी, देर रात चले ऑपरेशन में क्या-क्या हुआ?

पुलिस ने बताया कि हत्या के बाद आरोपी हथियार छिपाकर राजस्थान से हरियाणा के हिसार पहुंचे और फिर वहां से हिमाचल प्रदेश के मनाली चले गए थे.

Advertisement
gogamedia murder update two shooters an associate arrested late night operation
आरोपी नितिन फौज, रोहित राठौड़ और उधम (फोटो- इंडिया टुडे)
pic
हिमांशु मिश्रा
font-size
Small
Medium
Large
10 दिसंबर 2023
Updated: 10 दिसंबर 2023 10:22 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना प्रमुख सुखदेव सिंह गोगामेड़ी (Sukhdev Singh Gogamedi) की हत्या से जुड़े तीन आरोपी पकड़े गए हैं. उनमें दो शूटर हैं और एक सहयोगी, जो उनकी पुलिस से छिपने में मदद कर रहा था. 9 दिसंबर की देर रात को दिल्ली क्राइम ब्रांच और राजस्थान पुलिस ने संयुक्त ऑपरेशन के दौरान तीनों को चंडीगढ़ से पकड़ा.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, पकड़े गए शूटरों के नाम रोहित राठौड़ और नितिन फौजी हैं. तीसरे सहयोगी का नाम उधम बताया जा रहा है. पुलिस जांच कर रही है कि उधम का गोगामेड़ी की हत्या में हाथ है या नहीं. रोहित और उधम को दिल्ली लाया गया है. वहीं, नितिन फौजी राजस्थान पुलिस की हिरासत में है.

कैसे पकड़े गए?

पुलिस के मुताबिक, हत्या के बाद आरोपी अपने हथियार छिपाकर राजस्थान से हरियाणा के हिसार पहुंचे और फिर वो हिमाचल प्रदेश के मनाली गए. फिर वो चंडीगढ़ में छिप गए. पुलिस ने मोबाइल फोन की लोकेशन के ज़रिए आरोपी शूटरों का पता लगाया.

SIT प्रमुख ADG दिनेश MN ने इंडिया टुडे को ऑपरेशन की जानकारी दी,

सभी आरोपियों की गिरफ्तारी रविवार को दर्ज की जाएगी. उनसे पूछताछ शुरू हो चुकी है. सोमवार को उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा.

इंडियन एक्सप्रेस ने पुलिस सूत्र ने हवाले से लिखा कि क्राइम ब्रांच के DCP अमित गोयल की देखरेख में और SP उमेश बर्थवाल के नेतृत्व में एक टीम चंडीगढ़ के लिए रवाना हुई. उन्होंने राजस्थान पुलिस के साथ जानकारी साझा की और चंडीगढ़ के सेक्टर 22 में छापेमारी की. इस दौरान उन्होंने दो शूटरों और उनके एक सहयोगी को पकड़ा. 

बता दें, पहले पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी में मदद करने वालों को 5 लाख रुपये के नकद इनाम की घोषणा भी की थी.

ये भी पढ़ें- गोगामेड़ी और गैंगस्टर गोदारा की हुई थी फोन पर बात, फिर क्या हुआ जो शूटर्स ने गोलियां मार दीं?

बता दें, जयपुर में 5 दिसंबर को सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की गोली मारकर हत्या कर दी गई.दिनदहाड़े कुछ बदमाश गोगामेड़ी पर गोलियां चलाकर भाग गए. क्रॉस फायरिंग में नवीन सिंह शेखावत नाम के एक हमलावर की मौत हो गई. बाकी दो हमलावर स्कूटी से फरार हो गए थे. हमले की जिम्मेदारी गैंगस्टर रोहित गोदारा ने ली. वो लॉरेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ा हुआ है. कुछ महीने पहले गोदारा ने अपने दुबई के नंबर से गोगामेड़ी को धमकी भी दी थी. गोदारा फिलहाल देश से फरार है. उसके खिलाफ NIA की जांच भी चल रही है.

वीडियो: सुखदेव गोगामेड़ी मर्डर के बाद रोहित गोदारा के भाई ने रोते हुए वीडियो जारी किया?

thumbnail

Advertisement