The Lallantop
Advertisement

संदेशखाली विवाद के बीच बंगाल से भाजपा नेता गिरफ्तार, आरोप सुनकर चौंक जाएंगे आप...

Sabyasachi Ghosh को 7 दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है. BJP ने इस घटना को लेकर TMC पर ध्यान भटकाने का आरोप लगाया है.

Advertisement
Sabyasachi Ghosh
भाजपा नेता पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगा है. (तस्वीर: इंडिया टुडे)
pic
इंद्रजीत कुंडू
font-size
Small
Medium
Large
23 फ़रवरी 2024 (Updated: 23 फ़रवरी 2024, 14:41 IST)
Updated: 23 फ़रवरी 2024 14:41 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

संदेशखाली (Sandeshkhali) विवाद के बीच पुलिस ने पश्चिम बंगाल के एक भाजपा नेता को गिरफ्तार किया है. भाजपा नेता सब्यसाची घोष (BJP leader Sabyasachi Ghosh) को सेक्स रैकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने उन्हें तब गिरफ्तार किया है जब भाजपा संदेशखाली को लेकर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर लगातार हमले बोल रही है.

इंडिया टुडे से जुड़े इंद्रजीत कुंडू की रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा नेता पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप है. पश्चिम बंगाल पुलिस ने बताया कि उन्हें इस बारे में गुप्त सूचना मिली थी. जिसके बाद धूलागढ़ में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 116 के पास एक होटल पर छापा मारा गया था. जिसके बाद 11 लोगों की गिरफ्तारी हुई. इनमें होटल मालिक सब्यसाची घोष भी शामिल हैं. उनपर आरोप लगा है कि वो अपने सहयोगियों के साथ मिलकर होटल में नाबालिग लड़कियों से जबरन सेक्स वर्क करवा रहे थे. जिसके बाद उनके खिलाफ POCSO एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है.

गिरफ्तार आरोपियों को POCSO कोर्ट में पेश किया गया. होटल मालिक सब्यसाची घोष को 7 दिनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है.

ये भी पढ़ें: संदेशखाली केस: ‘मणिपुर से तुलना ना करें’, सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच की मांग खारिज की

तृणमूल कांग्रेस ने सोशल मीडिया X (ट्विटर) पर इस बारे में एक पोस्ट किया है. 

वहीं भारतीय जनता पार्टी ने इस घटना को लेकर TMC पर ध्यान भटकाने का आरोप लगाया है. कहा है कि TMC संदेशखाली मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए साजिश रच रही है.

संदेशखाली में क्या चल रहा है?

संदेशखाली की महिलाओं ने TMC नेता शेख शाहजहां और उनके कुछ सहयोगियों के खिलाफ जमीन हड़पने और सालों तक यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया था. शेख शाहजहां अभी भी पुलिस की गिरफ्त से फरार चल रहा है. 

इससे पहले 5 जनवरी को प्रवर्तन निदेशालय (ED) की एक टीम राशन घोटाले के सिलसिले में TMC नेता शाहजहां शेख से पूछताछ करने के लिए संदेशखाली पहुंची थी. आरोप है कि शाहजहां शेख के समर्थकों ने ED की टीम पर हमला कर दिया. शाहजहां शेख तभी से फरार है. इसी घटना के बाद वहां की महिलाओं ने शाहजहां पर गंभीर आरोप लगाए थे.

वीडियो: ‘मणिपुर से तुलना ना करें’, संदेशखाली केस में सुप्रीम कोर्ट ने CBI जांच से किया इंकार.

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement