The Lallantop
Advertisement

"CBI मुझसे कहती थी नरेंद्र मोदी का नाम ले लो छोड़ देंगे"- अमित शाह का आरोप

शाह बोले- “पूछताछ के दौरान 90 फीसदी सवालों में मुझसे पूछा गया कि मैं परेशान क्यों हूं."

Advertisement
Home Minister Amit Shah lashes out at Rahul Gandhi and opposition
अमित शाह ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा (फोटो- इंडिया टुडे)
30 मार्च 2023 (Updated: 30 मार्च 2023, 16:40 IST)
Updated: 30 मार्च 2023 16:40 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि यूपीए सरकार के दौरान जांच एजेंसी CBI उन पर दबाव बना रही थी. शाह ने कहा कि एजेंसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फंसाने के लिए उन पर दबाव डाल रही थी. शाह ने ये बयान न्यूज़ 18 के साथ एक इंटरव्यू में दिया. गृहमंत्री ने इंटरव्यू में कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा.

गृहमंत्री अमित शाह ने विपक्ष के आरोप पर पूछे गए एक सवाल का जबाव देते हुए कहा कि एक कथित फर्जी एनकाउंटर मामले में CBI ने उन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फंसाने का दबाव डाला था. उन्होंने कहा,

“पूछताछ के दौरान 90 फीसदी सवालों में मुझसे पूछा गया कि मैं परेशान क्यों हूं. जांच एजेंसी ने कहा कि अगर मैं नरेंद्र मोदी का नाम लूंगा तो वो मुझे छोड़ देंगे. फिर भी हमने न तो विरोध किया और न ही काले कपड़े पहने. न ही संसद का कामकाज रोका. मोदी के खिलाफ एक SIT का गठन किया गया था. जिेसे सुप्रीम कोर्ट ने खुद ही खारिज कर दिया था.”

राहुल गांधी की सांसदी पर गृहमंत्री

गृहमंत्री अमित शाह ने न्यूज 18 को दिए इंटरव्यू में राहुल गांधी की सांसदी पर बात की. उन्होंने राहुल के घमंड की बात करते हुए कहा,

“राहुल गांधी ने अब तक अपने दोष पर रोक लगाने के लिए अपील तक नहीं की है. ये किस तरह का घमंड है? आप सांसद भी बने रहने चाहते हैं और आप अदालत के सामने भी नहीं जाओगे, ऐसा घमंड कहां से आता है?”

गृहमंत्री ने आगे कहा कि राहुल गांधी पहले नेता नहीं है जिनकी सदस्यता गई है. लालू यादव, जयललिता समेत अब तक 17 नेताओं की सदस्यता गई है. लेकिन किसी ने काले कपड़े नहीं पहने, किसी ने हाय तौबा नहीं की क्योंकि ये देश का कानून है. अमित शाह ने कहा,

“अब इन पर आ गई तो कांग्रेस के नेता कहते हैं कि गांधी परिवार के लिए अलग कानून बनाना चाहिए. मैं देश की जनता से पूछना चाहता हूं कि क्या किसी एक परिवार के लिए अलग कानून बनना चाहिए?”

बंगला खाली करने पर क्या कहा?

संसद की सदस्यता जाने के बाद राहुल गांधी बंगला खाली को कहा गया है. उन्हें 22 अप्रैल तक अपना बंगला खाली करने को कहा गया है. इंटरव्यू में गृहमंत्री अमित शाह से बंगला खाली करने पर सवाल पूछा गया. उनसे सवाल किया गया कि बंगला खाली करवाने में इतनी तेजी क्यों दिखाई जा रही है. इस बात पर शाह ने जवाब दिया,

“इससे फायदा क्या होता? स्पेशल फेवर क्यों मिलना चाहिए? संज्ञान में आते ही तुरंत कदम उठाने का सुप्रीम कोर्ट का निर्देश है. ऑनलाइन जजमेंट भी पहुंच गया और लोकसभा स्पीकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश की अवमानना क्यों करें? क्योंकि वो गांधी परिवार से हैं? हमसे क्यों सवाल पूछा जाता है? उनसे सवाल क्यों नहीं पूछा जाता कि आप कोर्ट में क्यों नहीं गए?”

इस बीच गृहमंत्री अमित शाह ने विपक्षी एकता पर सवाल किया. उन्होंने कहा अगर मुकाबला ‘मोदी बनाम राहुल’ करने की है तो इससे फायदा बीजेपी को ही होगा. 

वीडियो: दी लल्लनटॉप शो: कर्नाटक चुनाव में राहुल गांधी आखिरी उम्मीद या मोदी मैजिक फिर से काम करेगा?

thumbnail

Advertisement