Submit your post

Follow Us

BSP के 6 और BJP के एक विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-BJP को नारा बदलना पड़ेगा

बसपा के 6 निलंबित और भाजपा के 1 विधायक आज सपा में शामिल हो गए. अखिलेश यादव की मौजूदगी में इन नेताओं ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली. सपा में शामिल होने वाले विधायकों में सीतापुर से बीजेपी के विधायक राकेश राठौर, मढ़िआहुं जौनपुर से विधायक सुषमा पटेल, धौलाना-हापुड़ से विधायक असलम अली, हंडिया-प्रयागराज से विधायक हाकिम लाल बिंद, फूलपुर प्रयागराज से विधायक मुजतबा सिद्दीकी, सिधौली-सीतापुर से विधायक हरगोविंद भार्गव और भिनगा-श्रावस्ती से विधायक मोहम्मद असलम हैं. इसके अलावा कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने सदस्यता ली.

क्या बोले विधायक

इस मौके पर बसपा विधायक असलम राइनी ने कहा कि हम छह विधायकों ने एक वर्ष पहले ही सूंघ लिया था कि आने वाला समय समाजवादी पार्टी का है. हम छह विधायकों के आने से समाजवादी पार्टी की सूनामी चलेगी. उत्तर प्रदेश की 403 सीटों में यह सातों विधायक सबसे ऊपर रहेंगे. हमको इतना सम्मान किसी ने नहीं दिया जितना अखिलेश यादव ने दिया.

वहीं समाजवादी पार्टी में शामिल होने वाली सुषमा पटेल ने कहा कि हमको बिना कुछ सोचे समझे बसपा से निलंबित किया गया. अखिलेश यादव को प्रदेश की सबसे ऊपर की कुर्सी पर बैठाने के हम संकलिप्त हैं. हापुड़ से विधायक असलम अली ने कहा कि प्रदेश की जरूरत अखिलेश यादव हैं. उन्होंने हमेशा ही युवा, मजदूर व किसान का दर्द समझा है.

अखिलेश यादव ने क्या कहा?

इस मौके पर अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के विधायक के सपा में शामिल होने का बाद हो सकता है मुख्यमंत्री जी अपना नारा बदल दें. ‘मेरा परिवार भाजपा परिवार’ की जगह कर दें ‘मेरा परिवार भागता परिवार’. बहुत लोग आना चाहते हैं अपनी अपनी गोल के साथ. जनता इतनी दुखी है कि आने वाले चुनाव में बीजेपी का सफाया होगा. भाजपा परिवार भागता परिवार ही दिखाई देगा.

अखिलेश ने कहा कि बीजेपी कह रही है कि उसने संकल्पपत्र के 90 प्रतिशत वादे पूरे कर दिए और बाकी बचे दो महीने में पूरा कर देंगे. लेकिन बीजेपी अपना ही मेनिफेस्टो भूल गई. सरकार ने कोई काम नहीं किया.

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने 2017 में लोक कल्याण संकल्प पत्र बनाकर कूड़े में फेंक दिया. भाजपा पन्ना प्रभारी तो बनाती है, लेकिन अपने ही बनाए पन्ने को नहीं पढ़ती. अखिलेश ने कहा कि सरकार बताए किसानों और खेती के कौन सा अच्छा काम किया. बुंदेलखंड के लोगो ने सबसे ज्यादा भाजपा पर भरोसा किया, लेकिन जितना ज्यादा भरोसा जनता ने किया, उतना बड़ा धोखा भाजपा ने दिया. शिक्षण संस्थानों को चौपट कर दिया गया है. एक सोच विशेष के लोगो को बैठा दिया गया ताकि सालों तक उसी सोच के लोग आते रहें.


नेता नगरी: UP विधानसभा चुनाव में ओवैसी, योगी, शाह और अखिलेश का ये प्लान कितना काम करेगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.