The Lallantop
Advertisement

टीचर्स डे 2022: इन 46 टीचर्स को आज राष्ट्रपति से मिलेगा नेशनल अवॉर्ड

नेशनल अवार्ड टू टीचर्स में हर टीचर को एक मेरिट सर्टिफिकेट, 50 हजार रुपये का कैश अवार्ड और एक सिल्वर मेडल दिया जाता है.

Advertisement
Teachers Day 2022
हर साल टीचर्स डे के दिन राष्ट्रपति की ओर से टीचर को सम्मानित किया जाता है. (फोटो- PIB)
5 सितंबर 2022 (Updated: 5 सितंबर 2022, 12:56 IST)
Updated: 5 सितंबर 2022 12:56 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

5 सितंबर को भारत में नेशनल टीचर्स डे (National Teachers Day) सेलिब्रेट किया जाता है. ये दिन देश में सभी टीचर्स के काम को पहचान देने और सम्मान देने के लिये मनाया जाता है.  इस दिन शिक्षा के क्षेत्र में बेहतरीन काम करने वाले टीचर्स को राष्ट्रपति की ओर से सम्मानित किया जाता है. इसे नेशनल अवॉर्ड टू टीचर्स (NAT) कहा जाता है. इस साल अवॉर्ड पाने वाले टीचर्स की लिस्ट 23 अगस्त को जारी की गई थी. शिक्षा मंत्रलाय द्वारा ये लिस्ट जारी की जाती है.

नेशनल अवार्ड टू टीचर्स (NAT) में हर टीचर को एक मेरिट सर्टिफिकेट, 50 हजार रुपये का कैश अवॉर्ड और एक सिल्वर मेडल दिया जाता है. साल 2022 के नेशनल टीचर्स अवार्ड के लिये कुल 46 टीचर्स को सेलेक्ट किया गया है. देखिये इन टीचर्स की लिस्ट -

सीरियल नंबरटीचर का नामस्कूलराज्य
1.अंजू दहिया सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल, सोनीपतहरियाणा
2.युधवीरजीपी स्कूल, चंबाहिमाचल प्रदेश
3.विरेंद्र कुमार GSSS धरोगरा, शिमलाहिमाचल प्रदेश
4.हरप्रीत सिंहप्राइमरी स्मार्ट स्कूल, बरनालापंजाब
5. अरुण कुमार गर्गGMSS, मनसापंजाब
6.रजनी शर्मानिगम प्रतिभा विद्यालय, नॉर्थ वेस्ट दिल्लीदिल्ली
7.कौस्तुभ जोशीएसडीएस जीआईसी, नैनीतालउत्तराखंड
8.सीमा रानीसरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल, धनासछत्तीसगढ़
9.सुनीताGSSS बधीर, बीकानेरराजस्थान
10.दुर्गा राम मुवालसरकारी अपर प्राइमरी स्कूल, उदयपुरराजस्थान
11. मारिया मुरैना मिरांडासरकारी हाई स्कूल, साउथ गोवागोवा
12.उमेश भरतभाई वलासेंट मैरी स्कूल, राजकोटगुजरात
13.नीरज सक्सेनासरकारी प्राइमरी स्कूल, रायसेनमध्य प्रदेश
14.ओम प्रकाश पाटिदारगवर्नमेंट एक्सिलेंस हायर सेकेंडरी स्कूल, शाजापुरमध्य प्रदेश
15.ममता अहारसरकारी प्राइमरी स्कूल, रायपुरछत्तीसगढ़
16.कविता सांघवीचतुर्भुज नार्सी मेमोरियल स्कूल, मुंम्बई महाराष्ट्र
17.ईश्वर चंद्र नायकसरकारी प्राइमरी स्कूल, पुरीओडिशा
18. बुद्धदेव दत्ता जॉयपुर प्राईमरी स्कूल, बांकुरापश्चिम बंगाल
19.मोहम्मद जाबिरगवर्नमेंट मिडिल स्कूल, कारगिललद्दाख
20. जावेद अहमद राठेरगवर्नमेंट हायर सेकेंडरी स्कूल, बारामुलाजम्मू कश्मीर
21.खुर्शीद अहमदकंपोजिट स्कूल सहावा, देवरियाउत्तर प्रदेश
22.सौरभ सुमनललित नारायण लक्ष्मी नारायण गर्ल्स हाई स्कूल, सुपौलबिहार
23.निशी कुमारीमहादेव हायर सेकेंडरी स्कूल, पटनाबिहार
24.अमित कुमारजवाहर नवोदय विद्यालय, शिमलाहिमाचल प्रदेश
25. सिद्धार्थ योनजोनएकलव्य मॉडल रेजिडेंशियल स्कूल, ग्यालशिंगसिक्किम
26.जानियस जेकबकेंद्रीय विद्यालय, त्रिसूरकेरल
27.जी पोनसंकारीकेंद्रीय विद्यालय, तुमाकुरूकर्नाटक
28.उमेश टीपीजीएलपीएस अमृतपुरा, चित्रदुर्गकर्नाटक
29.मिमि योशीजीएमएस ऑफिसर्स हिल, कोहिमानागालैंड
30.नोंगमैथेम गौतम सिंहईस्टर्न आइडियल हाई स्कूल, इंफालमणिपुर
31.माला जिगदल डोर्जीमॉडर्न सीनियर सेकेंडरी स्कूल, गैंगटॉकसिक्किम
32.गामची तिमरेएडुसियर हायर सेकेंडरी स्कूल, ईस्ट गारो हिल्समेघालय
33.संतोष नाथसाउथ मिर्जापुर हाई स्कूल, साउथ त्रिपुरात्रिपुरा
34.मिनाक्षी गोस्वामीसीएनएस हायर सेकेंडरी स्कूल, सोनितपुरअसम
35.शिप्राटाटा वर्कर्स हाई स्कूल कडमा, ईस्ट सिंहभूमझारखंड
36.डॉ रवि अरुणाअसनरा जिलापरिषद हाई स्कूल, कृष्णाआंध्र प्रदेश
37.टीएन श्रीधरजिला परिषद हाई स्कूलतेलंगाना
38.कंडाला रम्मैयाहाई स्कूल, मुलुगूतेलंगाना
39.सुनीथा राओडीपीएस, मलकागिरीतेलंगाना
40.वंदना शाहीबीसीएम स्कूल, लुधियानापंजाब
41.रामचंद्रन के पंचायत यूनियन प्राइमरी स्कूलतमिलनाडु
42.शशिकांत कुल्ठेजिला परिषद प्राइमरी स्कूल, बीडमहाराष्ट्र
43.सोमनाथ वमन वल्केजिला परिषद प्राइमरी स्कूल, जोगेश्वरीमहाराष्ट्र
44.अरविंदराज डीगवर्नमेंट हाई स्कूल, पांडिचेरीपांडिचेरी
45.प्रदीप नेगीगवर्नमेंट इंटर कॉलेज, हरिद्वारउत्तराखंड
46.रंजन कुमार बिश्वासजीएसएसएस बंबूफ्लैटअंडमान निकोबार
अवॉर्ड के लिए कैसे चुने जाते हैं टीचर?  

सबसे पहले तो शिक्षकों को अपने काम को दिखाते हुए शिक्षा मंत्रालय के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होता है. इसके लिए सरकारी और प्राइवेट दोनों स्कूलों के शिक्षक अप्लाई कर सकते हैं. इसके बाद अप्लिकेशन फॉर्म्स को शॉर्ट लिस्ट कर कैंडिडेट्स को चुना जाता है. शिक्षा मंत्रालय के अनुसार शिक्षकों को चुनने के लिए तीन चरण की प्रक्रिया होती है. इसमें टीचर ने समाज सुधार के लिए क्या किया, कितनी छुट्टियां ली, 5 साल में उनका कितना काम पब्लिश हुआ, छात्रों को पढ़ाने के लिए उन्होंने कितने इनोवेटिव तरीके अपनाए जैसे पैमानों का ध्यान रखा जाता है.

क्या है एलिजिबिलिटी?

ये अवॉर्ड प्राइमरी, मिडिल और हाईस्कूल में पढ़ाने वाले टीचर्स और हेड टीचर्स माने हेड मास्टर्स के लिए है. ये टीचर्स प्रदेश द्वारा संचालित सरकारी स्कूलों से, CBSE, CISCE एफिलिएटिड स्कूलों से या फिर नवोदय और केंद्रीय विद्यालय से भी हो सकते हैं. पर शर्त ये है कि टीचर स्कूल के बाहर प्राइवेट ट्यूशन ना लेते हों.  इस अवॉर्ड के लिए टीचर या हेड मास्टर की अप्लाय कर सकते हैं ये अस्थायी शिक्षकों और शिक्षा मित्रों को नहीं दिया जा सकता.

क्यों दिया जाता है ये अवॉर्ड?

शिक्षा मंत्रालय के अनुसार शिक्षकों को राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित करने का उद्देश्य देश के कुछ बेहतरीन शिक्षकों के अद्वितीय योगदान को सेलिब्रेट करना है. इसके साथ ही उन शिक्षकों को सम्मानित करना है जिन्होंने अपनी महनत और प्रतिबद्धता से अपने क्षेत्र में शिक्षा के स्तर को सुधारा है और अपने छात्रों के जीवन को समृद्ध किया है.

रंगरूट. दी लल्लनटॉप की एक नई पहल. जहां आपको खबर मिलेगी पढ़ाई-लिखाई, कॉलेज-यूनिवर्सिटी, कैंपस से लेकर प्लेसमेंट और करियर तक की. सरकारी भर्तियों का हाल भी और स्टार्ट अप्स की कहानियां भी यहीं मिलेंगी. अपने सुझाव और सवाल हमें लिखिए rangroot@lallantop.com पर. रंगरूट से जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें.फेसबुकयूट्यूबट्विटर

thumbnail

Advertisement

Advertisement