The Lallantop
Logo
लल्लनटॉप का चैनलJOINकरें

फर्ज़ी हिंदू देश कैलासा वाले नित्यानंद के चक्कर में ये बड़ा अफसर तबाह हुआ, पूरी कहानी जानिए

पराग्वे सरकार के अधिकारी अर्नाल्डो चमोरो ने कथित देश कैलासा के साथ एक एग्रीमेंट पर साइन किए थे. एग्रीमेंट की कॉपी सोशल मीडिया पर वायरल है.

post-main-image
पराग्वे के अधिकारी ने कैलासा के साथ ज्ञापन पर साइन किए (फोटो-X)

दक्षिण अमेरिकी महाद्वीप ब्राजील और अर्जेंटीना के पास पड़ता है एक देश पराग्वे (Paraguay). वहां के एक बड़े अधिकारी को नौकरी से निकाल दिया गया है. कृषि मंत्रालय के चीफ ऑफ स्टाफ अर्नाल्डो चमोरो. उन्होंने कथित देश 'कैलासा' के साथ एक समझौते पर साइन कर दिए थे. भगोड़े नित्यानंद का कल्पनीय देश कैलासा (Kailasa). एग्रीमेंट की कॉपी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

द गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक, अर्नाल्डो चमोरो को 29 नवंबर को नौकरी से निकाल दिया गया. अधिकारी ने दावा किया कि उन्हें कैलासा के बारे में जानकारी नहीं थी. बताया कि उन लोगों ने सिंचाई समेत अलग-अलग मुद्दों पर पराग्वे की मदद करने की पेशकश की और इसी वजह से उन्होंने 'समझौता ज्ञापन' पर हस्ताक्षर कर दिए. सोशल मीडिया पर एग्रीमेंट के दौरान की भी फोटो वायरल है.

एग्रीमेंट में पराग्वे सरकार से कैलासा के साथ राजनयिक संबंधों की स्थापना पर विचार करने की इच्छा व्यक्त की गई है. साथ ही UN जैसे अंतरराष्ट्रीय संगठनों में संप्रभु और स्वतंत्र राज्य के रूप में कैलासा की एंट्री का समर्थन करने की बात भी है.

बता दें, नित्यानंद साल 2019 में भारत छोड़कर भाग गया था. उस पर गुजरात में रेप केस दर्ज है.

क्या है कैलासा?

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत से भागकर नित्यानंद ने इक्वाडोर में जमीन खरीदी और उसे अपना देश घोषित कर दिया. नित्यानंद ने इस कथित देश का नाम 'कैलासा' या ‘यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ कैलासा’ USK रखा और इसे 'हिंदू राष्ट्र' बताया. कैलासा की वेबसाइट के मुताबिक, ये देश दुनियाभर में सताए गए हिंदुओं को सुरक्षा देता है. यहां जाति और लिंग का भेदभाव किए बिना सभी हिंदू शांति से रहते हैं.

ये भी पढ़ें- नित्यानंद का देश 'कैलासा' नक्शे पर कहां हैं?

वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, कैलासा में अंग्रेजी, संस्कृत और तमिल भाषा बोली जाती है. इस कथित देश का राष्ट्रीय पशु 'नंदी' है. राष्ट्रीय ध्वज 'ऋषभ ध्वज' है. झंडे पर नित्यानंद की तस्वीर भी लगी है. देश का राष्ट्रीय फूल 'कमल' और राष्ट्रीय पेड़ 'बरगद' है. इतना ही नहीं, कैलासा का अपना संविधान होने का दावा भी किया गया है.

US के कई शहरों को चूना लगा चुका है

इसी साल मार्च में न्यू जर्सी के नेवार्क शहर के अधिकारियों ने स्वीकार किया कि वो ऐसे ही घोटाले का शिकार हुए. उन्होंने नकली हिंदू राष्ट्र के साथ सिस्टर सिटी नाम के एक एग्रीमेंट पर साइन कर दिए थे. कैलासा की वेबसाइट के मुताबिक, अमेरिका के 30 शहरों के साथ इसकी साझेदारी है. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि उनमें से ज्यादातर शहरों के मेयरों ने इस तरह के सौदों पर साइन करने की बात मानी भी है. हालांकि उन्होंने दावा किया कि ये एग्रीमेंट समर्थन के तौर पर नहीं बल्कि एक अनुरोध के तौर पर साइन किया गया.

वीडियो: दुनियादारी: इजरायल-हमास डील में कौन जीता, नेतन्याहू के मंत्री झगड़े, जंग खत्म होगी?