Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

आजादी मांगने तुम्हारे बच्चे क्यों नहीं जाते, इस सवाल पर कश्मीर का गुंडा यासीन नंगा हुआ

पाकिस्तान के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को अगर पुलिस एक थप्पड़ धर दे तो जमीन पर लोट जाएंगे. पर पुलिस ऐसा करती नहीं है. क्योंकि जनतंत्र इसकी इजाजत नहीं देता. पर यासीन के लिए जनतंत्र कोई मायने नहीं रखता. वो पत्रकारों के साथ धक्का-मुक्की कर सकते हैं, हमला कर सकते हैं, उनका फोन तोड़ सकते हैं. वो पता नहीं क्या हासिल करना चाहते हैं, क्योंकि उन्हें बिल्कुल इस बात का अंदाजा नहीं रहता कि इतने बड़े देश में उनकी बात सिर्फ इसलिए सुनी जाती है क्योंकि जनतंत्र है और पत्रकार उनकी बात सब तक पहुंचाते हैं.

यासीन ने आज सुबह आठ बजे के करीब इंडिया टुडे की पत्रकार कमलजीत संधू के साथ बदसलूकी की. इंडिया टुडे के वीडियो जर्नलिस्ट विनोद के साथ भी धक्का-मुक्की की गई.

संधू ‘हुर्रियत ट्रुथ टेप्स’ पर यासीन की प्रतिक्रिया लेने गई थीं. इंडिया टुडे ने मंगलवार को एक स्टिंग जारी किया था, जिसमें सामने आया था कि कश्मीर घाटी में अस्थिरता फैलाने के लिए पाकिस्तान सरकार और वहां के कई संगठन किस तरह से काम करते हैं, हवाला के ज़रिए कैसे पैसा पहुंचाते हैं. ‘हुर्रियत ट्रुथ टेप्स’ में सामने आया था कि यासीन मलिक को घाटी में अस्थिरता फैलाने के लिए जमात उद दवा के चीफ हाफिज़ सईद से पैसा आता है. ‘हुर्रियत ट्रुथ टेप्स’ में आया सबसे बड़ा नाम हुर्रियत के प्रोविंशियल प्रेसिडेंट नईम खान का. नईम फिलहाल अंडरग्राउंड  हो गए हैं. 

हुर्रियत ट्रुथ टेप्स की पूरी पड़ताल यहां क्लिक कर के पढ़ें.

इस वी़डियो में देखें यासीन मलिक की पूरी कारस्तानी, कमलजीत संधू बता रही हैं:

 

संधू ने पहले यासीन मलिक को फोन किया. जब उन्होंने फोन नहीं उठाया, तो वो अपनी टीम के साथ श्रीनगर में यासीन के घर पहुंचीं. वहां उन्हें यासीन की बहन मिलीं, जिन्होंने उन्हें दूसरी मंज़िल पर चलने को कहा. वहां यासीन मलिक मिले. संधू ने अपना परिचय देकर यासीन से सवाल किया कि क्यों हुर्रियत नईम खान को बचाने सामने नहीं आ रही और क्यों घाटी में होने वाले प्रदर्शनों में अलगाववादियों के अपने बच्चे शामिल नहीं होते. इतना पूछने पर यासीन संधू पर चिल्लाने लगे. इसके बाद यासीन ने कमलजीत के बैग का सामान निकालकर देखना शुरू कर दिया. संधू ने उन्हें रोकने की कोशिश की, तो यासीन ने उनका फोन छीन लिया और तोड़ दिया.

 

संधू अपना टूटा हुआ फोन दिखाते हुए
संधू अपना टूटा हुआ फोन दिखाते हुए

 

इसके बाद संधू और उनकी टीम को धक्के मार कर यासीन के घर से निकाला गया. उनके साथ गए वीडियो जर्नलिस्ट विनोद को इस धक्का-मुक्की में चोट भी लग गई.

 

धक्का-मुक्की में विनोद को चोट पहुंची
धक्का-मुक्की में विनोद को चोट पहुंची

 

जब से ‘हुर्रियत ट्रुथ टेप्स’ सामने आए हैं,  तब से लगातार इंडिया टुडे अलगाववादियों के निशाने पर है. अंडरग्राउंड होने के पहले नईम खान इंडिया टुडे के दफ्तर आए थे और वहां के स्टाफ को धमकी देकर गए थे.

नज़र डालिए यासीन के अपराधियों वाले रिकॉर्ड पर

यासीन मलिक आज लाख ताव देकर आज़ादी की बात कर रहे हों, लेकिन उनका अपना रिकॉर्ड गुनाहों पर गुनाहों से भरा हुआ है. वो यासीन के लोग ही थे जिन्होंने 8 दिसंबर 1989 को तब के केंद्रीय गृह मंत्री मुफ्ती मुहम्मद सईद की बेटी रुबैय्या सईद को किडनैप कर लिया था. इसके बदले में JKLF के पांच आतंकवादियों को छोड़ना पड़ा था. फारुख अब्दुल्ला ने उस वक्त कहा था कि फ्लडगेट खोल दिये गये हैं. ये बात सही भी थी. आतंकवादियों ने इसके बाद हाई प्रोफाइल किडनैपिंग को अपनी मांगें मनवाने का एक नया तरीका मान लिया था.

बाद में यासीन ने कहा कि वे बंदूक छोड़ रहे हैं, राजनीति करेंगे. लेकिन गुंडई नहीं छोड़ी. 2014 में कश्मीर में अब तक की सबसे भयानक बाढ़ आई. हर शख्स अपनी ओर से जितना बन पड़ रहा था, मदद कर रहा था. लेकिन यासीन नहीं सुधरे. इनका ध्यान तब भी इसी बात में लगा था कि कैसे फुटेज खाएं. तो फौज की बोट से मदद का सामान लूट कर खुद बांटने लगे. ताकि ढोंग कर सकें कि लोगों की कितनी मदद कर रहे हैं.

यासीन मलिक
यासीन मलिक

जम्मू कश्मीर के अलगाववादी संगठनों की अक्सर शिकायत रहती है कि भारत का मीडिया उनका ‘सच’ लोगों को नहीं बताता. वे इल्ज़ाम लगाते हैं कि भारतीय मीडिया सरकार के एजेंट की तरह रिपोर्टिंग करता है. लेकिन आज के वाकये से मालूम चलता है कि यासीन जैसे अलगाववादी नेता मीडिया को लेकर किस तरह के पूर्वाग्रह से भरे हैं. संधू ने यासीन को एक मौका दिया था ‘हुर्रियत ट्रुथ टेप्स’ पर अपना पक्ष रखने का. वो चाहते तो अपनी बात देश-दुनिया तक पहुंचा सकते थे. कोई बात उन्हें गलत लगी थी, तो उसका खंडन कर सकते थे. लेकिन नहीं, उनका सारा ध्यान संधू के क्रू को अपने घर से धकिया कर बाहर करने में था.

हुर्रियत और जेकेएलएफ के नेता कहते हैं कि वो कश्मीर की आज़ादी के लिए लड़ रहे हैं. लेकिन एक मीडिया क्रू पर हमला कर के उन्होंने बता दिया कि आज़ादी की पहली शर्त एक बेखौफ मीडिया को लेकर उनके विचार क्या हैं. अंग्रेज़ी में एक मुहावरा है, ‘Why shoot the messenger’. इसका मतलब यूं निकलता है कि आप से कही गई बात से नफरत हो तो भी उसे आप तक पहुंचाने वाले माध्यम को दोषी ठहराना गलत होता है. संधू यहां ‘messenger’ हैं. हो सकता है कि संधू की बात यासीन को पसंद न आई हो. लेकिन उन्हें याद रखना चाहिए था कि मुश्किल सवाल पूछना संधू का पेशा है. चिढ़कर एक महिला पत्रकार से बदतमीज़ी करना, उनका सामान तोड़ देना कहां तक सही है, इसका जवाब यासीन को देना चाहिए.


ये भी पढ़ेंः

कश्मीर में पत्थर फिंकवाने वालों का सबसे बड़ा स्टिंग ऑपरेशन

जुमे के दिन फौज पर पत्थर फेंकने के 300 रुपए एक्सट्रा मिलते हैं

कौन है वो आदमी, शरीफ के मुताबिक जिसके जरिए भारत पाकिस्तान से चोरी-छिपे बात कर रहा है!

क्या है OBOR, जिसमें भारत को छोड़कर साउथ एशिया के सभी देश शामिल हो चुके हैं?

जिस मेजर ने गाड़ी के बोनट पर कश्मीरी को बांधा था, उसके साथ आर्मी ने क्या किया?

 

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

30 साल बाद भारत में फौज के लिए नई तोप आई है

जानिए BAE Systems की M777A2 को.

ये इंडियन रेस्टोरेंट इंसानों का मांस खिलाने की फर्जी खबर के बाद बंद हो गया!

सोचिए, यहां खाने वालों का क्या हाल हुआ होगा.

लड़की विदेशी है, शराब-गांजा पीती है, तो किसी के भी साथ सो लेगी, है न?

और जब उसने मना किया तो रेप कर बियर बोतल से पीटा.

इस ऐप पर आपका अकाउंट है तो आपकी जानकारी लीक हो सकती है

इतिहास का सबसे बड़ा साइबर खतरा टला नहीं है.

भाजपा के मंत्री कच्छा-बनियान पहन कर अफ़सरों से मीटिंग करने पहुंच गए

गर्मी से इतने परेशान है कि कपड़े पहनना जरूरी नहीं समझा

पिता ने बताया, रेप के बाद बेटी डस्टबिन में मिली, शरीर पर कीड़े लगे थे

इतना वीभत्स रेप, कि पढ़कर उल्टी आ जाए, रोना आ जाए.

हजरात, बाहुबली का 'प्रीक्वेल' आ रहा है!

क्योंकि बाहुबली के पहले आती है कहानी शिवगामी की.

कश्मीर में पत्थर फिंकवाने वालों का सबसे बड़ा स्टिंग ऑपरेशन

300-400 करोड़ रुपये में अगले तीन महीने अशांति खींची जा सकती है.

अगर ये सुपारी हत्यारे किसी इस्लामिक देश में होते, तो अमेरिका अब तक हमला कर चुका होता

दो हिटमेन ने खोला वो राज, जो इस प्रेसिडेंट को जेल भेज सकते हैं.

'777888999' नंबर से फोन उठाने पर क्या सच में ब्लास्ट हो रहा है?

लोग सोशल मीडिया पर तस्वीरें शेयर कर रहे हैं.

पाकी टॉकी

क्या पाकिस्तान से कुलभूषण जाधव की मौत की खबर आने वाली है?

पाकिस्तान की हरकतें इसी तरफ इशारा कर रही हैं.

पाकिस्तान में रमज़ान को लेकर ऐसा कानून बनाया गया है जो बेहूदा है

'पाकिस्तान में आतंकी घूम सकते हैं, लेकिन रोजेदार के सामने कुछ खाया तो जेल में होगा.'

'द गॉडफादर' ने इस्लामिक पाकिस्तान की राजनीति में बवाल मचा दिया

पाक पीएम नवाज़ शरीफ के लिए ये नई मुसीबत है.

आज जिसको पहला पाकिस्तानी बताया जा रहा है, वो बैल की चमड़ी में सिलकर सीरिया भेजा गया था

पाक के मुताबिक मुहम्मद अली जिन्ना नहीं थे पहले पाकिस्तानी.

भीड़ इस आदमी को मार डालती, अगर मौलवी और एक जवान उसे नहीं बचाता

वीडियो में उन्मादी भीड़ देखकर खौफ आता है. कौन सी दुनिया रच रहे हैं ये लोग.

इमाम के कहने पर बुर्कापोश तीन बहनों ने 'कथित ईशनिंदा' करने वाले को मार डाला

जिसे मारा, पहले उसके बाप से आशीर्वाद लिया. फिर सामने ही उनके बेटे को गोलियों से भून दिया.

जब आप भीड़ बनते हैं, तब आपके अंदर का राक्षस जल्दी बाहर आता है

पाकिस्तान में ईशनिंदा के शक़ में छात्र को पीट-पीट कर मार डाला गया.

यहां गलती मर्द करे, हर्जाना औरत या बच्ची को शादी करके चुकाना पड़ता है

क्या है ये 'वानी' रस्म, जिसमें अपनी घर की लड़की या बच्ची को दुश्मन के हवाले कर दिया जाता है

ये पाकिस्तानी बंदा कुलभूषण को फांसी के खिलाफ है और गाली खा रहा है

कहीं आप भी इस बंदे का मजाक तो नहीं उड़ाते थे?

पेट दर्द का बहाना लेकर देश से भाग जाने की फ़िराक में है पाकिस्तानी पीएम!

क्या सच में शरीफ बहाना ले रहे हैं.

भौंचक

ये सद्दाम हुसैन लादेन के लिए आधार कार्ड बनाने चले थे

कि कहीं वो ज़िंदा हुआ तो उसे जियो की सिम लेने में तकलीफ न हो.

एक दिन में सबसे ज़्यादा रन तब मारे गए थे, जब फटाफट क्रिकेट का नामोनिशान भी नहीं था

ये काम करना क्रिस गेल, वॉर्नर जैसे बल्लेबाज़ों के भी बस का नहीं. आज ही के दिन हुआ था ये कारनामा.

गायकवाड़ पार्ट 2ः शिवसेना पार्षद ने विधायक 'बन' कर किसानों की सभा ले ली

शिवसेना हमशक्लों वाली पार्टी बनती जा रही है.

सेल्फी खींच लो, कहीं आग बुझ ना जाए

उन्हें लगा होगा कि आग-वाग तो बुझती रहेगी, लेकिन ऐसा मौका कहां मिलता है? तुरंत जेब से फोन निकाला और चट्ट से सेल्फी खींच ली.

'फैन' पिक्चर देखी है? ये उसकी रियल लाइफ कहानी है

भारी पड़ गया एक लड़के को इस मशहूर व्यक्ति जैसा दिखना.

नाक की गूजी खाएंगे तो सेहत अच्छी रहेगी, सच में

गाली देने के पहले खबर पढ़ लेना.

जस्टिन बीबर ने इंडिया में शो के लिए जो डिमांड रखी है, जान लोगे तो तड़प जाओगे

जस्टिन बीबर नहीं ये दूसरी ईस्ट इंडिया कंपनी है जो फिर से इंडिया को लूटने आ रहा है.

सोशल मीडिया पर इस अफवाह के साथ जागा था ब्रिटेन

खबर जंगल में आग की तरह फैली कि क्या रॉयल पैलेस में कोई मर गया है?