Submit your post

Follow Us

धर्मेंद्र ने राज़ खोला कि क्यूं वो आशा पारेख के सामने रोज़ प्याज़ खाकर शूटिंग के लिए पहुंचते थे

धर्मेंद्र ने. अपने ज़माने के सिने सितारे धर्मेंद्र. और ये मज़ेदार क़िस्सा ख़ुद धर्मेंद्र ने सुनाया. सोनी पर टेलीकास्ट होने वाले एक रियलिटी शो में धर्मेंद्र और आशा पारेख आए. आशा पारेख भी तब नौजवानों की धड़कन हुआ करती थीं.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

इलेक्शन कवरेज

इन महिलाओं को मिली है मोदी कैबिनेट में जगह

नए मंत्रिंंडल में 24 कैबिनेट मंत्री हैं. इनमें केवल तीन महिलाएं हैं.

सुषमा स्वराज की जगह जिसने ली, उन्होंने कभी चुनाव नहीं लड़ा है

पहली बार है जब किसी ब्यूरोक्रेट को सीधे कैबिनेट मिनिस्टर बना दिया गया हो.

मोदी सरकार 2.0 में इन सांसदों को इनाम दिया गया है

कुछ का प्रमोशन हुआ है और कुछ नए आए हैं.

वो 4 पूर्व मुख्यमंत्री जिन्हें मोदी 2.0 कैबिनेट में मिली जगह

खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सीएम रह चुके हैं.

साइंस को ज्योतिष के सामने बौना बताने वाले कवि 'निशंक' बने मोदी के मंत्री

रमेश पोखरियाल ने 2014 में विधायकी छोड़कर हरिद्वार से लोक सभा चुनाव लड़ा था.

यूपी में करारी हार के बाद मुलायम सिंह ने अखिलेश यादव को क्या-क्या सुनाया?

सपा की हार पर मंथन को मीटिंग हुई, मुलायम ने अखिलेश को झाड़ के रख दिया.

शिवसेना के खिलाफ खड़े थे शिवाजी महाराज के वंशज, हारे या जीते?

उदयनराजे छत्रपति शिवाजी महाराज की तेरहवीं पीढ़ी से हैं.

जिन्हें दबी ज़ुबान में पीएम पद का कैंडिडेट कहा जाता था, वो गडकरी जीते या नहीं?

कहा जा रहा था नितिन गडकरी पीएम बनेंगे.

झमाझम

चालान से भड़के आदमी ने अपनी बाइक में आग लगा दी

बाइक में लगी आग बुझाने के लिए दमकल को भी मौके पर बुलाया गया.

इन 10 तरीकों से आप ट्रैफिक के भारी चालान से बच सकते हैं

काम न आए तो भगवान करे हमारा चालान कट जाए.

ये सही हुआ! पुलिसवाले ट्रैफिक नियम तोड़ेंगे तो उनको डबल जुर्माना देना पड़ेगा

पुलिस, पुलिस के नियमों में कोई तालमेल अक्सर नहीं दिखता है.

टिक-टॉक की ही वजह से टिक-टॉक स्टार को पुलिस ने धर लिया

बेचारा टिकटॉक पर बेहतर कवालिटी का वीडियो बनाने के चक्कर में फंस गया

'गाड़ी वाला आया, घर से कचरा निकाल' ये गाना यहां से आया

देख-देख-देख तू यहां वहां न फेंक, देख फैलेगी बीमारी होगा सबका बुरा हाल…

मैडम तुसाद में श्रीदेवी का पुतला देखकर जाह्नवी कपूर ने ये किया?

पर्दा हटाते ही पूरा परिवार इमोशनल हो गया.

अई शाबाश! एक गाड़ी, दस नियम तोड़े, ट्रैफिक पुलिस ने 59 हज़ार रुपए का चालान काट दिया

उन गलतियों पर भी नज़र दौड़ा लिजिए जिनके लिए 59 हज़ार भरने पड़े हैं.

बर्थडे केक वाले वीडियो ने चार लोगों की नौकरी खा ली

ऐसा क्या हुआ कि बर्थडे की खुशियां कुछ लोगों पर भारी पड़ गईं?

दी लल्लनटॉप शो

चंद्रयान 2: लॉन्चिंग से लेकर अब तक की पूरी कहानी। दी लल्लनटॉप शो|Episode 297

दादी-नानी की समझ आएगी चांद तक पहुंचने की कहानी.

मोदी की रूस यात्रा के दौरान ईस्टर्न इकॉनमिक फोरम में हुई घोषणाओं से क्या फायदा?। दी लल्लनटॉप शो|Episode 296

नितिन गडकरी ने ऑटो सेक्टर को क्या भरोसा दिया?

ऑटो सेक्टर क्राइसिस, महंगा सोना, शेयर मार्केट, मुद्रा लोन के आंकड़े सरकार के लिए ठीक संकेत नहीं। दी लल्लनटॉप शो|Episode 295

मंदी के संकेत, जिनसे सबको सबको डरना चाहिए 

मोहम्मद शमी के खिलाफ अरेस्ट वॉरंट और हसीन जहां के आरोपों की पूरी कहानी। दी लल्लनटॉप शो| Episode 294

शमी ने कैसे की थी एक्सिडेंट के बाद करियर में वापसी?

कुलभूषण को कॉन्सुलर एक्सेस लेकिन भारतीय डिप्लोमैट से मीटिंग में पाकिस्तान का अड़ंगा। दी लल्लनटॉप शो|Episode 293

आसमान से आईं भारत के लिए दो अच्छी खबरें.

क्या है S-400 मिसाइल सिस्टम, जिसे रूस से खरीदने के लिए भारत ने अमेरिका को ठेंगा दिखा दिया है। दी लल्लनटॉप शो|Episode 292

भारत को गज़नवी का इलाज मिल गया है.

गज़नवी मिसाइल का टेस्ट क्या पाकिस्तान के इंडियन एयरस्पेस क्लोज़र की धमकियों से जुड़ा है?|दी लल्लनटॉप शो|Episode 291

कच्छ की खाड़ी से घुसपैठ रोकने का इंतज़ाम हो गया है!

कश्मीर में पैलेट गन चल रही है फिर हालात सामान्य कैसे? ज़्यादती के आरोप सच हैं क्या?|दी लल्लनटॉप शो|Episode 290

जम्मू-कश्मीर से आईं इंसानियत की कहानियां.

पॉलिटिकल किस्से

अमित शाह के खास स्वतंत्र देव सिंह की RSS से होते हुए यूपी बीजेपी चीफ बनने की कहानी

जानिए एक पत्रकार रहे कांग्रेस सिंह कैसे बने यूपी बीजेपी चीफ स्वतंत्र देव सिंह.

अटल के मंत्री जसवंत सिंह को परवेज मुशर्रफ ने कैसे धोखा दिया?

भारत के इस विदेश मंत्री पर अमेरिका का पिट्ठू होने का आरोप क्यों लगा?

नरेंद्र मोदी ने भारत रत्न से पहले प्रणब मुखर्जी से क्या अफसोस जताया?

भारत रत्न के ऐलान से पहले प्रणब मुखर्जी और नरेंद्र मोदी में ये बात हुई.

नरेंद्र मोदी के सरकारी बंगले की सुरंग कहां जाती है?

आखिरी में सुरंग का दूसरा दरवाजा भी खुल जाएगा.

राजीव और सोनिया के करीबी बूटा सिंह, जिनके कृपाण से चीफ मिनिस्टर्स डरते थे

वो नेता जो देश का राष्ट्रपति बनते-बनते रह गए.

कहानी MQM के अल्ताफ हुसैन की, जिसे सपोर्ट करने का आरोप भारत पर लगता था

पाकिस्तान की हुकुमत का एक ऐसा दुश्मन, जिससे पड़ोसी मुल्क के हुक्मरान सख्त नफरत करते हैं.

इंदिरा गांधी का वो मंत्री जिसने संजय गांधी को कहा- मैं तुम्हारी मां का मंत्री हूं

जिसे टॉर्चर किया गया, जिसके फेफड़े गल गए और जो ज़्यादा दिन ज़िंदा न रह सकी.

घनश्याम तिवारी और वसुंधरा की अदावत की असल कहानी

तिवारी जब तक पार्टी में रहे वसुंधरा से भिड़ते रहे, लेकिन हर बार वसुंधरा ही भारी पड़ीं.