Submit your post

Follow Us

अमित शाह के खास स्वतंत्र देव सिंह की RSS से होते हुए यूपी बीजेपी चीफ बनने की कहानी

स्वतंत्र देव सिंह उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर के रहने वाले हैं. 1984 में अपने भाई श्रीपत सिंह के साथ बुन्देलखण्ड के उरई में आ गए थे. यहीं से उन्होंने अपनी राजनीति की शुरुआत की. सबसे पहले अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के टिकट पर उरई के डीवीसी कॉलेज से चुनाव लड़े. हार का सामना करना पड़ा. विद्यार्थी परिषद से जुड़ाव बना रहा. स्वतंत्र देव सिंह को पहला राजनीतिक ब्रेक मिला मंदिर आंदोलन के समय. उरई में रहते हुए वो स्थानीय अखबार स्वतंत्र भारत में काम भी किया करते थे. इसी अखबार में उन्होंने फायरब्रांड हिंदुत्ववादी नेता विनय कटियार का एक इंटरव्यू छापा. इस तरह कटियार के साथ करीबी बढ़ गई. कटियार के कहने पर 1992 में झांसी चले गए. संगठन का काम देखने के लिए. अब तक इनका नाम कांग्रेस सिंह हुआ करता था. संघ के पदाधिकारियों के कहने पर नाम बदल कर स्वतंत्र देव सिंह रख लिया.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

इलेक्शन कवरेज

जानिए फादर कामिल बुल्के के बारे में जिन्होंने अंग्रेजी से हिंदी डिक्शनरी बनाई, बाइबिल का हिंदी अनुवाद किया

झारखंड के रांची से कामिल बुल्के के ऊपर सबसे दिलचस्प बातचीत.

झारखंड चुनाव यात्रा: हाट बाजार में हंडिया बेचने वाली महिलाओं की सुनिए

ऐसा हाट बाजार जहां जड़ीबूटियाों से हर दर्द के इलाज का दावा होता है.

जमशेदपुर का XLRI बिज़नेस स्कूल जो अपने प्रॉफेसर गौरव बल्लभ की वजह से चर्चा में है

इस बिजनेस स्कूल की खासियत समझिए साथ ही दिक्कतों के बारे में जानिए.

लल्लनटॉप चुनाव यात्रा: रांची के भोला ठेले वाले की लिट्टी, दावा है कि 5 दिन तक खराब नहीं होती

लिट्टी की पूरी जानकारी मिलने के बाद बाद पहली फुरसत में इसे खाने के लिए निकल लेंगे.

झारखंड चुनाव: बिरसा मुंडा के वंशज सुखराम मुंडा ने जो सरकार की राजनीति पर सवाल क्यों किए?

अलग राज्य का सपना तो पूरा हुआ, पर असल सपना पूरा नहीं हो पाया.

झारखंड चुनाव: बिरसा मुंडा की धरती उलीहातु में रहने वाले सरना आदिवासी के बारे में जानिए

उन्होंने भूत-प्रेत के बारे में बड़े पते की बात कही है.

झारखंड चुनाव: रांची में मिली इस महिला ने PM मोदी, राहुल गांधी, BJP और कांग्रेस सबको सुना दिया

शराब, राशन और घर पर जो कहा, वो सुनकर एक बार आप भी सहमत हो सकते हैं.

झारखंड चुनाव: रांची में मिले इन मजदूरों को मोदी और रघुवर सरकार से क्या शिकायत है?

सरकार की स्कीम की पोल खोली, जो कहा, उसे जरूर सुनिए.

झमाझम

कांग्रेस विधायक नवजोत सिंह सिद्धू की पगार क्यों फंस गई, गूगल में सबसे ज्यादा किसे सर्च किया गया

भयंकर वायरल के इस सेगमेंट में तमाम वायरल खबरें एक साथ.

पॉलिटिक्स छोटा रिचार्ज: असम पर पीएम मोदी का ट्वीट, महाराष्ट्र में मंत्रालय बंटे और अयोध्या पर सभी याचिका खारिज

एक वीडियो में राजनीति की तमाम छोटी-बड़ी खबरें.

भयंकर वायरल: छत्तीसगढ़ में सरकारी स्कूल टीचर की नीच हरकत, प्याज़ के बढ़ते दामों ने चलाई दुकान

सरकारी स्कूल टीचर की घटिया हरकत के किस्से.

भयंकर वायरल: जोमैटो पर 91 हजार का फ्रॉड कैसे हुआ, हैंडपंप से पानी की जगह खून और मांस कहां निकल रहा है?

सानिया मिर्जा की वायरल पिक की कहानी.

मनमर्जियां और उड़ता पंजाब के गीतकार शैली के ढेरों झूठे वादे, जिनकी पोल अब खुली

अमित त्रिवेदी के साथ हमेशा इस वजह से इनका झगड़ा होता रहता है.

मनोज मुन्तशिर ने बताया 'तेरी मिट्टी' गाना के बाद कारगिल के जवान ने फोन करके भावुक कर दिया

2001 में ही लिख दिया था 'मैं फिर भी तुमको चाहूंगा', पर इस वजह से रिलीज नहीं हुआ.

जब पंकज उधास ने US में एयरपोर्ट जाने के टैक्सी ली तो उनके साथ मज़ेदार बात हो गई

राजकपूर ने पंकज उधास की तारीफ की, पर वो खुश नहीं हुए, परेशान हो गए.

पॉलिटिक्स छोटा रिचार्ज: हैदराबाद एनकाउंटर पर लोकसभा में क्या हुआ, बाहर क्या बोले नेता?

रेप के आरोपी को BJP सांसद साक्षी महाराज ने जन्मदिन की बधाई दी, अब ट्रोल हो गए.

दी लल्लनटॉप शो

नॉर्थ ईस्ट में नागरिकता संशोधन बिल-एनआरसी पर प्रोटेस्ट जारी, क्या गुवाहाटी में आबे-मोदी समिट होगा?

पूर्वोत्तर की आग आगे और क्या-क्या नुकसान कराने वाली है?

नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में पास कराने के लिए अमित शाह ने क्या किया?|दी लल्लनटॉप शो

नागरिकता संशोधन बिल तो पास हुआ लेकिन देश भर में हो रहे विरोध को कैसे रोकेगी सरकार?

नागरिकता संशोधन बिल से नॉर्थ-ईस्ट के ADC और ILP एरिया बाहर, लेकिन ज़बरदस्त विरोध जारी है

नागरिकता संशोधन बिल पूरे देश के लिए फिर नॉर्थ ईस्ट में इतनी नाराजगी क्यों?

नागरिकता संशोधन बिल को लोकसभा में पास कराने के लिए अमित शाह ने क्या-क्या दलीलें दी?

नागरिकता संशोधन बिल की पूरी ABCD समझिए

हैदराबाद एनकाउंटर: रेप के आरोपी पुलिस फायरिंग में मारे गए, लेकिन ये सवाल पीछे छूट गए!

क्या हैदराबाद एनकाउंटर की भविष्यवाणी 6 दिन पहले ही हो गई थी?

उन्नाव गैंगरेप: भगवान नहीं योगी सरकार को देनी होगी 100 फीसदी गारंटी

गुजरात में क्यों सड़कों पर उतरे हैं छात्र?

मोदी सरकार ने नागरिकता संशोधन बिल 2019 से मुसलमानों को बाहर क्यों रखा है?

पर्सनल डेटा प्रोटेक्शन बिल: क्या सरकार आपके मैसेज पढ़ सकती है?

पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट, भावनगर रो-रो फेरी और पाकयोंग एयरपोर्ट ठप होने पर चुप्पी

जानिए ध्यान सिंह के 'ध्यानचंद' बनने की कहानी.