The Lallantop
Advertisement

खबरदार! FASTag KYC नहीं कराया है, तो मुसीबत आने वाली है

अगर KYC नहीं कराया है, तो इस तारीख के बाद हो जाएगा FASTag डिएक्टिवेट. जानें क्या करना होगा. FASTag KYC को ऑनलाइन और ऑफ़लाइन अपडेट किया जा सकता है. ऑनलाइन FASTag KYC करने का प्रोसेस काफी आसान है.

Advertisement
The NHAI has announced that all FASTags with incomplete KYC will be deactivated or blacklisted by the issuing banks after January 31 even if having enough balance. The initiative aims to discourage the use of a single FASTag for several vehicles or linking multiple FASTags to a single vehicle
FASTag से जुड़ा जरूरी नियम
17 जनवरी 2024 (Updated: 19 जनवरी 2024, 13:39 IST)
Updated: 19 जनवरी 2024 13:39 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

31 जनवरी 2024 से पहले आपको एक जरूरी काम करना होगा, वरना छोटी सी दिक्कत हो सकती है. आप कहोगे दिक्कत तो दिक्कत होती है. छोटी या बड़ी कैसे होगी! बंधु, हम सच्ची कह रहे. छोटी दिक्कत ही है. बात हो रही है फास्टैग (FASTag) से जुड़े एक नियम की. दरअसल 31 जनवरी 2024 के बाद अधूरे (KYC) केवाईसी वाले फास्टैग ब्लैकलिस्ट हो जाएंगे. मतलब अगर आपके पास कार है और उसमें फास्टैग है और उसकी केवाईसी नहीं हुई है तो दिक्कत होगी. वरना मौजा ही मौजा. 

Image

इसलिए अगर ऐसा है तो करना क्या है वो हम बता देते हैं. लेकिन पहले जरा KYC समझ लेते हैं. KYC मतलब Know Your Customer. कस्टमर आप बैंक के हो सकते हैं. टेलिकॉम कंपनी के या फिर बीमा कंपनी के. आसान भाषा में कहें तो कंपनियों से लेकर एजेंसियों का आपको जानने का तरीका. बात करें कि ये होती कैसे है, तो आजकल इसके लिए आमतौर पर आधार कार्ड का इस्तेमाल होता है. आधार कार्ड इसलिए क्योंकि इसमें आपकी बेसिक डिटेल्स तो होती ही हैं, जैसे नाम, जन्म तारीख, लिंग, और पता. इसके साथ ये बैंक अकाउंट से भी जुड़ा होता है. इसलिए आधार कार्ड का नंबर, मोबाइल पर आई OTP और आपकी पुरी जन्म कुंडली संबंधित एजेंसी के पास. यही जन्म कुंडली अब आपको फास्टैग के लिए भी देनी होगी. ऑनलाइन और ऑफ़लाइन तरीका हम बता देते हैं लेकिन उसके पहले एक और जरूरी बात. 

फास्टैग को बैंक तो इशू करते ही हैं, कई बैंकिंग सर्विस वाली एजेंसी भी ऐसा करती हैं. मसलन Paytm, PhonePe, Google Pay, Airtel आदि. इसलिए पहले चेक कर लीजिए कि आपका फास्टैग कहां से बना है. सीधे उस बैंक के ऐप या कस्टमर केयर को फोन घुमा दीजिए. पता चल जाएगा कि KYC अपडेट है या नहीं. अगर आपका फास्टैग NETC (National Electronic Toll Collection) के ऐप या वेबसाइट से बना है तो फिर नीचे बताई प्रोसेस को फॉलो कीजिए.   

ऑनलाइन  

# सबसे पहले IHMCL की वेबसाइट fastag.ihmcl.com पर जाएं और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के जरिये लॉग-इन करें. 

# ओटीपी और कैप्चा कोड सबमिट करने के बाद एक नई विंडो खुल जाएगी

# अब आपको My Profile पर क्लिक करना है

# इसके बाद आप FASTag केवाईसी स्टेटस देख पाएंगे

# अगर अपडेट नहीं है तो जरूरी डॉक्यूमेंट्स के साथ डिटेल्स भरें

# ये प्रोसेस पूरा करने के बाद आपका FAStag अपडेट हो जाएगा

पूरी प्रोसेस के लिए आपका फोन रजिस्टर्ड होना चाहिए. अगर नहीं तो साइन-इन करने का ऑप्शन स्क्रीन पर दिखेगा. नहीं दिखता तो कस्टमर केयर नंबर 1033 पर बात कीजिए. 

ऑफ़लाइन

अगर आप ऑफलाइन FAStag अपडेट करना चाहते हैं, तो आप FASTag जारी करने वाले बैंक से संपर्क कर सकते हैं. बैंक में जाकर KYC फॉर्म डिटेल्स के साथ भरकर जमा करना होगा. इसके बाद आपके फास्टैग अकाउंट का केवाईसी पूरा हो जाएगा.

एक बात का ध्यान रखें. ये सरकार का वन व्हीकल, वन फास्टैग ( One Vehicle One FASTag) प्रोग्राम है. इसलिए उसी फास्टैग को अपडेट करें, जिसका इस्तेमाल करना हो.

thumbnail

Advertisement