The Lallantop
Advertisement

'अच्छा हुआ केएल राहुल बाहर थे... वर्ना करियर ख़त्म...'

ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 9 विकेट से हराया.

Advertisement
KL Rahul career would have ended, happy he did not play says Kris Srikanth
इंदौर पिच और केएल राहुल (Twitter/PTI)
4 मार्च 2023 (Updated: 4 मार्च 2023, 19:59 IST)
Updated: 4 मार्च 2023 19:59 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

भारत के पूर्व ओपनर कृष्णमाचारी श्रीकांत ने कहा कि वो केएल राहुल के लिए खुश है. श्रीकांत को इस बात की खुशी है कि राहुल इंदौर टेस्ट में नहीं खेल रहे थे. श्रीकांत ने कहा कि ऐसी पिच पर किसी भी बल्लेबाज़ के लिए रन बनाना मुश्किल है. श्रीकांत ने ये भी कहा कि अगर राहुल इंदौर में खेलते तो उनके कॉन्फिडेंस को और झटका लगता.

भारत के कप्तान रह चुके श्रीकांत ने इंदौर की पिच की क्वालिटी पर भी सवाल खड़े गए और उस पर निराशा व्यक्त की. ICC ने होलकर स्टेडियम की पिच को 'पुअर' रेट किया है. ICC ने यह रेटिंग मैच रेफरी की रिपोर्ट के आधार पर दी. यह रिपोर्ट दोनों कप्तानों से चर्चा के बाद तैयार की जाती है. यह रिपोर्ट मैच ख़त्म होने के कुछ घंटों के बाद आई. ICC की इस रेटिंग के बाद होलकर स्टेडियम की पिच को तीन डिमेरिट पॉइंट भी मिले हैं.

श्रीकांत ने पहले दो टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाजी पर सवाल खड़े किए थे. इंदौर टेस्ट पर बात करते हुए उन्होंने कहा है कि ऐसी पिच पर बल्लेबाज़ों का फेल होना तय है. अपने यूट्यूब शो पर बात करते हुए श्रीकांत ने कहा -

सबसे पहली बात... मैं केएल राहुल के लिए खुश हूं. अच्छा हुआ वो नहीं खेले. अगर वो ऐसी पिच पर खेलते, और अगले दो टेस्ट में रन्स नहीं बना पाते... उनका करियर ख़त्म हो जाता... अच्छा ही हुआ, वो नहीं खेले. मैं फ्रैंकली बोल रहा हूं. ऐसी पिच पर बैटिंग करना बहुत मुश्किल है. कोई भी बैटिंग कर रहा हो, मुश्किल होता है. कोई भी हो, चाहे विराट कोहली हो, ऐसी पिच पर कोई रन नहीं बना सकता. अगर आप देखे, मैथ्यू कुनेमान पहली पारी में ही बॉल को बहुत ज्यादा टर्न करवा रहे थे. ऐसे पिच पर विकेट लेना कोई बड़ी बात नहीं है. अगर मैं बॉलिंग करता, तो मैं भी विकेट लेता. ये सब हकीकत है, हमे ये मान लेना चाहिए.

श्रीकांत ने आगे ये भी कहा कि ऐसी पिच टेस्ट क्रिकेट के लिए अच्छी नहीं है. उन्होंने कहा कि भारत को होम कंडीशन्स का फायदा उठाना हो, तो भी अच्छी पिच बनानी चाहिए. उन्होंने कहा -

ये टेस्ट क्रिकेट के लिए अच्छा विज्ञापन नहीं है. ये लोग गलती कर रहे हैं. अगर आप 2008 की ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ को याद करें. पिच में इतना टर्न नहीं था पर भारत ने वो सीरीज़ 2-0 से जीती थी. पर यहां, बॉल पहले ही दिन से बहुत ज्यादा टर्न कर रही थी. ये टेस्ट क्रिकेट के लिए अच्छा नहीं है. होम एडवांटेज़ होने में कुछ गलत नहीं है. पर आपको ठीकठाक विकेट्स बनाने होंगे.

तीसरे टेस्ट के बाद भारत और ऑस्ट्रेलिया, दोनों तरफ के फै़न्स की नज़रें अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम की पिच पर टिकी रहेगी. इस मैदान पर सीरीज़ का चौथा और आखिरी टेस्ट 9 मार्च से खेला जाना है.

 

वीडियो: स्पोर्ट्स टॉप: विराट कोहली आखिर टीम में क्यों, जब KL राहुल, रहाणे सबको निकाल दिया!

thumbnail

Advertisement

Advertisement