The Lallantop
Advertisement

मयंक यादव ने सिर्फ़ 48 गेंदों में बदल डाला इंडियन प्रीमियर लीग का इतिहास!

Mayank Yadav. इस बंदे का नाम ही काफ़ी है. लोग खुद समझ जाते हैं कि फ़ास्ट बोलिंग की बात हो रही है. मयंक ने ये जलवा महज 48 गेंदों में बना लिया है. उन्होंने सिर्फ़ दो IPL मैच खेल दिग्गजों के रिकॉर्ड तोड़ डाले.

Advertisement
Mayank Yadav
मयंक यादव कमाल कर रहे हैं (PTI)
2 अप्रैल 2024 (Updated: 3 अप्रैल 2024, 07:02 IST)
Updated: 3 अप्रैल 2024 07:02 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

48 गेंदें. सिर्फ़ 48 गेंदें लगीं दिल्ली के एक बच्चे को वर्ल्ड क्रिकेट में छा जाने को. सिर्फ़ 48 गेंदें लगीं 21 साल के मयंक को IPL का रिकॉर्ड तोड़ जाने को. सिर्फ़ 48 गेंदों में मयंक ने उस कंपटिशन का इतिहास बदल दिया, जो उनके जन्म के सिर्फ़ छह साल बाद शुरू हुआ था. मयंक यादव. नाम याद कर लीजिएगा, ऐसे सूरज भारत छोड़िए, विश्व क्रिकेट में भी रोज-रोज नहीं उगते.

मयंक यादव ने 30 मार्च को IPL डेब्यू किया था. और 2 अप्रैल तक उन्होंने इस टूर्नामेंट के इतिहास में सबसे ज्यादा बार 155KMPH से ज्यादा की स्पीड वाली गेंदें डाल दी. अब मयंक के नाम IPL में 155 से ज्यादा स्पीड वाली तीन गेंदें हैं. उन्होंने ब्रेट ली, शॉन टेट, शोएब अख्तर, डेल स्टेन जैसे दिग्गजों को पीछे छोड़ दिया है. मयंक समेत कुल पांच ही बोलर इस लीग में 155 से ज्यादा तेज गेंदें फेंक पाए हैं.

शॉन टेट के नाम इस लीग में सबसे तेज गेंद का रिकॉर्ड है. उन्होंने 157.71 की स्पीड वाली गेंद डाल रखी है. इस लिस्ट में उमरान मलिक, लॉकी फ़र्ग्युसन, अनरिख नॉर्क्या और उमरान मलिक भी शामिल हैं. लेकिन कोई भी बोलर 155 से ऊपर तीन गेंदें नहीं फेंक पाया है. मयंक ने अभी तक 156.7, 155.8 और 155.3 की स्पीड वाली गेंदें डाली हैं. मयंक का रिकॉर्ड इसलिए भी खास है, क्योंकि इन बोलर्स ने सैकड़ों गेंदें फेंक रखी हैं और मयंक अभी तक 50 गेंदें भी नहीं डाल पाए हैं.

मयंक ने इसके साथ ही IPL2024 की सबसे तेज गेंद का अपना ही रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है. उन्होंने कैमरन ग्रीन को 156.7 की स्पीड वाली गेंद डाली. पिछले रिकॉर्ड में इन्होंने पंजाब किंग्स के खिलाफ़ 155.8 की स्पीड वाली गेंद डाली थी. इस लिस्ट में इनके बाद नांद्रे बर्गर, जेराल्ड कोएट्ज़ी, अल्ज़ारी जोसेफ और मतीशा पतिराना हैं. बेंगलुरु के खिलाफ़ करियर का दूसरा IPL प्लेयर ऑफ़ द मैच अवॉर्ड जीतने के बाद मयंक ने अपने भविष्य के लक्ष्य पर बात की. वह बोले,

'दो प्लेयर ऑफ़ द मैच अवॉर्ड जीतने के बाद मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा है. लेकिन मैं इस बात के लिए ज्यादा खुश हूं कि हमने दोनों मैच जीते. मेरा लक्ष्य भारत के लिए ज्यादा से ज्यादा खेलने का है. इसलिए मैं सोचता हूं कि ये बस शुरुआत है और मैंने अपने मुख्य लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करके रखा है.

इस मैच में मेरा पसंदीदा विकेट कैमरन ग्रीन का था. मैं सोचता हूं कि इस स्पीड पर बोलिंग करने के लिए बहुत सारी चीजें महत्वपूर्ण हैं. डाइट, सोना और ट्रेनिंग. अगर आप तेज बोलिंग करते हैं, आपको बहुत सी चीजों में परफ़ेक्ट होना होता है. इसलिए मैं अभी अपनी डाइट और रिकवरी पर फ़ोकस कर रहा हूं.'

अब भई मयंक ने तो बता दिया कि उनका फ़ोकस कहां है. लेकिन उनके सामने आने वाली टीम्स को कौन बताएगा कि उनका फ़ोकस कहां होना चाहिए. क्योंकि ये भाईसाब तो गेंद की शक्ल में आग फेंक रहे हैं. और आग से कोई कहां तक बच पाएगा.

वीडियो: मयंक यादव ने RCB के खिलाफ जो गेंद डाली देखी क्या?

thumbnail

Advertisement