The Lallantop
Advertisement

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

सीजन बदला पर पंजाब की हालत नहीं.

Advertisement
Img The Lallantop
राशिद खान ने किंग्स इलेवन पंजाब की जीत की छिटपुट उम्मीदों को भी ढेर कर दिया.
font-size
Small
Medium
Large
8 अक्तूबर 2020 (Updated: 8 अक्तूबर 2020, 20:32 IST)
Updated: 8 अक्तूबर 2020 20:32 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share
18 दिन पहले तक किंग्स इलेवन पंजाब की खूब तारीफ हो रही थी. दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच में अंपायरों की गलती से एक रन कम होने पर कई सवाल उठे थे. कहा गया था कि मान लीजिए अगर इस एक रन की वजह से पंजाब प्लेऑफ से बाहर हो गई तो? पर महीना बदलने के साथ ही केएल राहुल की टीम की कहानी भी बदल गई.
टीम लगातार चार मैच हार चुकी है. 8 अक्टूबर को सनराइजर्स हैदराबाद ने भी पंजाब की हवा निकाल दी. 69 रन से हारकर किंग्स इलेवन पंजाब अंक तालिका के पैंदे में हैं.

वॉर्नर-बेयरस्टो ने मिलकर जीती आधी जंग

दुबई में सनराइडर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर ने टॉस जीता और बैटिंग चुन ली. फिर तो वॉर्नर ने बेयरस्टो के साथ मिलकर पंजाब के गेंदबाजों की धज्जियां उड़ा दीं. दोनों ने आतिशी अर्धशतक लगाए. बेयरस्टो ने खासतौर से ज्यादा तोड़फोड़ मचाई. वे शतक के करीब थे. लेकिन 97 रन पर आउट हो गए.
19 साल के लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने वॉर्नर और बेयरस्टो को चार गेंदों के अंदर आउट कर दिया. हालांकि आउट होने से पहले हैदराबाद की सलामी जोड़ी ने 160 रन ठोक दिए. वो भी केवल 15 ओवर में. लेकिन दोनों के जाते ही रनों पर ब्रेक लग गए और विकेटों की झड़ी लग गई. हालांकि हैदराबाद ने अंत में 6 विकेट पर 201 रन का स्कोर खड़ा कर दिया.
जॉनी बेयरस्टो और डेविड वॉर्नर आईपीएल में 1000 रन से ज्यादा रन की साझेदारी कर चुके हैं.
जॉनी बेयरस्टो और डेविड वॉर्नर आईपीएल में 1000 रन से ज्यादा रन की साझेदारी कर चुके हैं.

पंजाब का खेल तो बॉलिंग में ही बिगड़ गया था. लेकिन बचाखुचा काम मयंक अग्रवाल के रन आउट होने से पूरा हो गया. लेकिन इस मैच में वो कौन सा पलटू मोमेंट आया जिसने किंग्स इलेवन पंजाब का काम तमाम कर दिया?

कप्तानी के बोझ में दबे राहुल

201 के बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब की बोहनी ही खराब हो गई. सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल दूसरे ही ओवर में रन आउट हो गए. उनके आउट होने का दोष कप्तान केएल राहुल पर मढ़ा जा सकता है. लेकिन क्रिकेट में अक्सर ऐसा होता रहा है. फिर राहुल की जिम्मेदारी बढ़ गई.
लेकिन बढ़ी जिम्मेदारी ने नेगेटिव असर डाला और उनकी बैटिंग पर फिर से कप्तानी का बोझ दिखा. 16 गेंद में 11 रन की पैसेंजर ट्रेननुमा पारी खेलकर वे ड्रेसिंग रूम में आराम करने चले गए. उनसे पहले प्रभसिमरन सिंह भी अच्छे रंग में होने के बाद आउट हो चुके थे.
निकोलस पूरन ने आईपीएल 2020 की सबसे तेज फिफ्टी लगाई.
निकोलस पूरन ने आईपीएल 2020 की सबसे तेज फिफ्टी लगाई.

पूरन ने अकेले लिया लोहा

ऐसे समय में वेस्ट इंडीज के युवा बल्लेबाज निकोलस पूरन ने मोर्चा लिया. उन्होंने अब्दुल समद के एक ही ओवर में 28 रन सूत दिए. और 17 गेंद में फिफ्टी लगा दी. यह आईपीएल 2020 की सबसे तेजतर्रार फिफ्टी थी. वे खूब लड़े. लेकिन ग्लेन मैक्सवेल, मंदीप सिंह जैसे बल्लेबाजों ने न तो रन बनाए और न क्रीज पर टिकने का जज्बा दिखाया. नतीजा यह रहा कि पंजाब की पारी में पूरन भी आउट हो गए.
इसी बीच आया राशिद खान का ओवर मैच का टर्निंग पॉइंट रहा. उन्होंने पहली चार गेंदों पर कोई रन नहीं दिया. दबाव में आए पूरन ने पांचवीं गेंद पर बल्ला चलाया और कवर्स में लपके गए. यही पर पंजाब की हार पर आखिरी मुहर भी लग गई. यही वो ओवर था, जिसने हैदराबाद की तरफ मैच को पूरी तरह मोड़ दिया. राशिद ने यह ओवर मेडन डाला और दो विकेट लिए. उनका स्पैल चार ओवर एक मेडन 12 रन और तीन विकेट के साथ समाप्त हुआ.
पंजाब की टीम मैच में पूरे 20 ओवर भी नहीं खेल सकी. 16.5 ओवर में 132 रन पर उसका बोरिया बिस्तर बंध गया. जीत के साथ हैदराबाद की टीम अंक तालिका में तीसरे नंबर पर चली गई.

thumbnail

Advertisement

Advertisement