The Lallantop
Advertisement

KXIP के बॉलर चिल्ला-चिल्लाकर कह रहे होंगे- अगले बरस मोहे इस टीम में न कीज्यो

सैकड़ों गेदों के बाद आखिरकार मिल गया KXIP को विकेट.

Advertisement
Img The Lallantop
जॉनी बेयरस्टो ने पंजाब के गेंदबाजों की जमकर कुटाई की.
font-size
Small
Medium
Large
8 अक्तूबर 2020 (Updated: 8 अक्तूबर 2020, 17:05 IST)
Updated: 8 अक्तूबर 2020 17:05 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share
किंग्स इलेवन पंजाब. IPL की सबसे नाकाम टीमों से एक. पिछले 12 सीजन में टीम ने केवल एक बार टूर्नामेंट का फाइनल खेला है. IPL 2020 शुरू होने से पहले इस टीम के बारे में काफी बातें कही गईं. कहा जा रहा था कि केएल राहुल और अनिल कुंबले के नेतृत्व में टीम अबकी बार कमाल कर देगी. लेकिन अब तक के टूर्नामेंट में टीम की हालत खराब ही दिख रही है. 8 अक्टूबर को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में टीम के नाम एक बदनामी वाला रिकॉर्ड हो गया. पंजाब के गेंदबाजों को तीन मैचों में 220 गेंदों और 408 रनों के बाद जाकर विकेट मिला. यह आंकड़ा टीम के खेल और उसकी गेंदबाजी की हालत को बयां करता है. मुंबई ने शुरू की थी कुटाई पंजाब की टीम ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैच में आखिरी 3.5 ओवर में 67 रन लुटाए थे. इस दौरान उन्हें एक भी विकेट नहीं मिला था. फिर अगले मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स ने बिना विकेट गंवाए 181 रन ठोक दिए थे. CSK ने 17.4 ओवर में ही यह रन बना दिए थे. शेन वॉटसन और फाफ डु प्लेसी ने मिलकर यह कमाल किया था. अब सनराइजर्स हैदराबाद के ओपनर्स ने पंजाब के गेंदबाजों के धुर्रे उड़ा दिए. डेविड वॉर्नर और जॉनी बेयरस्टो ने मिलकर शतकीय साझेदारी की. दोनों ने पंजाब के गेंदबाजों की जमकर खबर ली. और 15 ओवर यानी 90 गेंदों में ही 160 रन उड़ा दिए. वॉर्नर और बेयरस्टो दोनों ने अर्धशतक जमाए. अंतत: युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने आखिरकार टीम को कामयाबी दिलाई. बिश्नोई ने डेविड वॉर्नर को आउट किया. वॉर्नर ने हवाई शॉट खेला और गेंद सीधे ग्लेन मैक्सवेल के पास गई, जिन्होंने उसे कैच कर वॉर्नर की पारी का अंत किया. आउट होने से पहले वॉर्नर ने 40 गेंद में 52 रन बनाए. उन्होंने अपनी पारी में पांच चौके और एक छक्का लगाया. वॉर्नर ने अपनी पारी के दौरान एक तगड़ा कारनामा भी किया. उन्होंने पंजाब के खिलाफ लगातार नौ मैचों में फिफ्टी लगाई है. यह किसी भी बल्लेबाज का एक टीम के खिलाफ बेस्ट रिकॉर्ड है. आखिरी पांच ओवरों में फिसला पंंजाब वॉर्नर के आउट होने के बाद जॉनी बेयरस्टो भी आउट हो गए. वे शतक से चूक गए. उनके नाम के आगे 55 गेंद में 97 रन लिखे गए. यह पारी सात चौकों और छह छक्कों से सजी थी. वे भी रवि बिश्नोई के शिकार बने. वॉर्नर और बेयरस्टो के आउट होने हैदराबाद की कुलांचे भरती पारी पर ब्रेक लगे. 15 ओवर में टीम के नाम बिना विकेट के 160 रन थे. लेकिन 20 ओवर के बाद टीम छह विकेट पर 201 रन ही बना पाई. हैदराबाद ने आखिरी पांच ओवर में छह विकेट गंवाए. इससे 220-225 का स्कोर दूर रह गया. पंजाब के लिए रवि बिश्नोई सबसे कामयाब रहे. जिन्होंने तीन ओवर में 29 रन देकर तीन विकेट लिए.

thumbnail

Advertisement

Advertisement