The Lallantop
Advertisement

धोनी की जर्सी नंबर 7 हुई रिटायर, पर कुछ देशों में क्यों हुआ था इस जर्सी नंबर पर बवाल

महेंद्र सिंह धोनी को सम्मान देने के लिए उनकी 7 नंबर की जर्सी को रिटायर कर दिया गया है. मगर आपको ये जानकर हैरानी होगी कि खिलाड़ियों की जर्सियां सिर्फ रिटायर ही नहीं होतीं बल्कि एक जर्सी नंबर पर काफी तक बैन भी लगा दिया गया था.

Advertisement
Dhoni jersey number 7
खिलाड़ियों के जर्सी की कहानी (फोटो- इंडिया टुडे)
15 दिसंबर 2023 (Updated: 16 दिसंबर 2023, 12:56 IST)
Updated: 16 दिसंबर 2023 12:56 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के सम्मान में उनकी जर्सी नंबर 7 को रिटायर कर दिया गया है. अपनी कप्तानी में भारत को क्रिकेट वर्ल्डकप (ICC World Cup) चैम्पियन बनाने वाले धोनी से पहले ये सम्मान सिर्फ एक खिलाड़ी को मिला है. वो खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) हैं. मगर क्या आप जानते हैं कि खिलाड़ियों को ये जर्सी नंबर मिलते कैसे हैं और इन्हें किस आधार पर रिटायर किया जाता है. ऐसा नहीं है कि जर्सी नंबर सिर्फ अलॉट और रिटायर होते हैं. एक खास नंबर की जर्सी पहनने में कई देश के क्रिकेटर परहेज करते हैं. यहां तक की एक देश ने तो इस जर्सी नंबर पर काफी समय तक बैन लगा रखा था.

कब-कब रिटायर हुई जर्सी- जर्सी नंबर रिटायर करने का सीधा मतलब ये है कि फिर उस टीम का कोई भी खिलाड़ी उस नंबर की जर्सी नहीं पहन सकता. एम.एस.धोनी (M S Dhoni) भारतीय क्रिकेट में इकलौते उदाहरण नहीं हैं जिनकी जर्सी नंबर को रिटायर किया गया हो.सचिन तेंदुलकर की जर्सी नंबर 10 को भी बीसीसीआई (BCCI) रिटायर कर चुकी है. इसके अलावा आईपीएल (IPL) में भी कई टीमों में खिलाड़ियों को सम्मान देने के लिए ये तरीका अपनाया है. हाल ही में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) ने एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) और क्रिस गेल की जर्सी को रिटायर कर दिया. डिविलियर्स 17 नंबर की जर्सी पहनते थे, जबकि क्रिस गेल (Chris Gayle) 333 नंबर की. अब ये दोनों ही नंबर RCB की ओर से नहीं दिखेंगे.

कैसे जारी होता है जर्सी नंबर- क्रिकेट में जर्सी नंबर चुनने और उनके अलॉटमेंट का भी एक कायदा है. जो जर्सी नंबर रिटायर नहीं होता या जिसे कोई दूसरा खिलाड़ी पहन नहीं रहा होता, वही नए खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध होता है. हां उपलब्ध जर्सी नंबर में से खिलाड़ी को अपनी पसंद का नंबर चुनने का हक होता है. कौन सा खिलाड़ी क्या नंबर चुनता है इसके पीछे की कहानियां भी बड़ी दिलचस्प है. मिसाल के तौरपर भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) 45 नंबर की जर्सी न्यूमरोलॉजी की वजह से पहनते हैं. हिटमैन की जर्सी नंबर 45 का योग 9 है. जो कि रोहित का लकी नंबर भी है.

जर्सी नंबर और ज्योतिष- इसी तरह सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने अपने क्रिकेट करियर में 1, 24 और 99 अंक की जर्सियां पहनीं और सबके कारण ज्योतिष से जुड़े थे. सचिन तेंदुलकर शुरुआत में 99 नंबर की जर्सी पहनते थे. मगर ज्योतिषी की सलाह पर उन्होंने 10 नंबर की जर्सी का चयन किया. वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) 44 और 46 नंबर की जर्सी पहनते थे क्योंकि उनकी मां और बीवी ऐसा चाहते थे. वैसे कुछ दिन तक उन्होंने बिना नंबर की भी जर्सी पहनी, जो यह बताने के लिए थी कि नंबर से उनकी परफॉर्मेंस पर कोई असर नहीं पड़ता। द वॉल के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) 19 नंबर की जर्सी इसलिए पहनते थे ताकि उन्हें पत्नी का जन्मदिन याद रहे.

ये भी पढ़ें- (विराट ने खुद बता दी 18 नंबर की जर्सी पहनने की इमोशनल वजह!)

बैन था ये जर्सी नंबर- न्यूजीलैंड के तेज़ गेंदबाज लॉकी फर्ग्यूसन (Lockie Ferguson)इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू के वक्त 69 नंबर की जर्सी पहनना चाहते थे. मगर न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने उन्हें इसकी इजाजत नहीं दी. वजह है 69 नंबर के नाम से एक सेक्स पोजीशन का होना. ये बात ये है कि लॉकी, न्यूजीलैंड (New Zealand) के घरेलू क्रिकेट में ऑकलैंड की टीम से 69 नंबर की जर्सी पहनकर खेलते रहे थे. यही नहीं, IPL में वो कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की तरफ से भी 69 नंबर की जर्सी पहनकर ही मैदान पर उतरे. हालांकि साल 2021 में उनके करिश्माई प्रदर्शन के बाद न्यूजीलैंड ने भी उनका लकी नंबर उन्हें दे दिया.

 

वीडियो: सोशल लिस्ट : महेंद्र सिंह धोनी के जर्सी नंबर 7 की ट्रोलिंग क्यों, किसका उड़ाया मजाक?

thumbnail

Advertisement