The Lallantop
Advertisement

रोहित शर्मा ने बता दिया, टीम इंडिया में किन खिलाड़ियों को मिलेगी जगह

इंग्लैंड से मिली टेस्ट सीरीज में जीत के बाद रोहित शर्मा ने स्पष्ट तौर पर बता दिया कि अब टीम इंडिया में किस तरह के टैलेंट को जगह मिलने वाली है. रोहित शर्मा ने आगे का प्लान भी बताया है.

Advertisement
captain rohit sharma says those who are hungry will only get the test cap
इंग्लैंड से मिली जीत के बाद रोहित शर्मा ने प्रेस कॉफ्रेंस में आगे का प्लान बताया. (तस्वीर:PTI)
26 फ़रवरी 2024 (Updated: 26 फ़रवरी 2024, 22:37 IST)
Updated: 26 फ़रवरी 2024 22:37 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने टीम इंडिया में शामिल होने का सपना देख रहे खिलाड़ियों को लेकर साफ शब्दों में संदेश दिया है. संदेश, जिसमें कहा गया है कि मौका उन्हीं को मिलेगा, जिसके अंदर भूख होगी. इंग्लैंड से मिली टेस्ट सीरीज में जीत के बाद रोहित शर्मा ने ऐसा बयान दिया है. स्पष्ट तौर पर बता दिया कि अब टीम इंडिया में किस तरह के टैलेंट को जगह मिलने वाली है. रोहित ने अपने बयान में किसी का नाम नहीं लिया है, लेकिन बयानों के मायने निकालने वाले लोग अपने काम में जुट गए हैं.

क्या बोले रोहित?

इंग्लैंड के खिलाफ रांची टेस्ट में मिली जीत के बाद रोहित शर्मा ने पत्रकारों से बातचीत की. इस दौरान उन्होंने अपने आगे के इरादे साफ़ कर दिए. रोहित ने कहा, 

“टेस्ट क्रिकेट सबसे कठिन फॉर्मैट है. अगर कोई खिलाड़ी इसमें सफल होना चाहता है तो उसके अंदर भूख होनी चाहिए. हम केवल उन्हीं खिलाड़ियों को मौका देंगे, जिनके अंदर वो भूख है.”

रोहित ने आगे कहा कि वे बहुत जल्दी भांप लेते हैं कि किन खिलाड़ियों के भीतर खेलने को लेकर भूख है और कौन टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहता. इस कारण तरजीह उन्हीं को दी जाएगी जो माकूल परिस्थितियों में खेलना चाहते हैं.  

चयन के कड़े मानदंडों की तरफ इशारा

कप्तान रोहित शर्मा ने अपने बयान में किसी का नाम नहीं लिया. लेकिन रोहित के बयान से पहले यहां एक और बात गौर करने वाली है. वो ये कि अभी कुछ दिन पहले ही खबर आई कि ईशान किशन, दीपक चाहर और श्रेयस अय्यर ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड के आदेश को नजरअंदाज कर दिया है. आदेश, जिसमें इन खिलाड़ियों को रणजी ट्रॉफी मुकाबले में खेलने के लिए कहा गया था. लेकिन इन खिलाड़ियों ने रणजी की जगह IPL खेलने को तरजीह दी है.  

इसी से जुड़ा सवाल रोहित से किया गया. सवाल ये कि क्या आईपीएल जैसी लीग के कारण खिलाड़ियों के बीच टेस्ट क्रिकेट खेलने की इच्छा प्रभावित हो रही है. इसपर रोहित ने साफ तौर पर कहा कि आईपीएल खिलाड़ियों के लिए एक अच्छा फॉर्मैट है लेकिन टेस्ट क्रिकेट सबसे कठिन है. उन्होंने आगे कहा, 

“हमने टीम में कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं दिखा जो भूखा नहीं हो. वो सभी लड़के जो यहां खेल रहे हैं और जो नहीं खेल रहे हैं, वे सभी खेलना चाहते हैं. लेकिन खेल के इस प्रारूप (टेस्ट क्रिकेट) में मौके बहुत कम मिलते हैं. अगर कोई उन मौके का फायदा नहीं उठा पाता तो वे चले जाते हैं."

नए खिलाड़ियों की जमकर की तारीफ

रोहित शर्मा ने अपनी कप्तानी में टीम इंडिया को पांच में से चौथी बार टेस्ट सीरीज़ में जीत दिलाई है. रांची टेस्ट में कठिन परिस्थितियों में मिली जीत के बाद रोहित ने अपने साथी और खासकर नए खिलाड़ियों की भी तारीफ़ की. कप्तान शर्मा ने कहा कि उनका और राहुल द्रविड का काम खिलाड़ियों को वो माहौल देना है जिसमें वह अच्छा करना चाहते हैं. रोहित ने कहा, 

"अपना दूसरा टेस्ट मैच खेल रहे ध्रुव जुरेल ने बढ़िया प्रदर्शन किया. जुरेल ने अपनी पारी के दौरान संयम दिखाया. उसके पास विकेट के चारों तरफ खेलने के लिए शॉट्स हैं. पहली पारी में 90 रन बनाने के अलावा उसने शुभमन गिल के साथ काफी धैर्य के साथ बैटिंग की.”

रांची के क्रिकेट मैदान में मिली इस जीत के साथ ही भारत ने सीरीज भी अपने नाम कर ली है. पांच मैचों की सीरीज का अंतिम मैच हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में खेला जाएगा.

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement