The Lallantop
Advertisement

सेहत: क्या यूटेरिन फाइब्रॉएड यानी बच्चेदानी में गांठें कैंसर बन जाती हैं?

महिलाओं में कई बार गर्भाशय में गांठ बन जाती है. पर ये कैंसर की गांठ नहीं होतीं. इन्हें कहते हैं यूटेरिन फाइब्रॉएड. लल्लनटॉप की कई महिला व्यूअर्स इस समस्या से जूझ रही हैं. आज के एपिसोड में जानेंगे यूटेरिन फाइब्रॉएड क्या होता है, ये क्यों होता है, इनके लक्षण क्या हैं, बचाव और इलाज कैसे किया जाता है?

Advertisement
font-size
Small
Medium
Large
20 मार्च 2024 (Updated: 20 मार्च 2024, 14:22 IST)
Updated: 20 मार्च 2024 14:22 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

जब भी हमें अपने शरीर में कोई गांठ महसूस होती है, या पता चलता है कि गांठ है तब दिमाग सबसे पहले कैंसर पर जाता है. पर हर गांठ कैंसर की गांठ नहीं होती. महिलाओं में कर बार गर्भाशय में गांठ बन जाती है. जिसको कहते हैं यूटेरिन फाइब्रॉएड. ये कैंसर की गांठ नहीं है. पर अक्सर पीरियड्स के दौरान बहुत ज़्यादा ब्लीडिंग होने लगती है. बहुत ज़्यादा दर्द होता है. तब जाकर महिलाएं डॉक्टर के पास जाती हैं. चेकअप करवाती हैं. (pic 6) उससे पता चलता है कि उनके गर्भाशय में गांठ हैं. लल्लनटॉप की कई महिला व्यूअर्स इस समस्या से जूझ रही हैं और चाहती हैं हम अपने शो पर यूटेरिन फाइब्रॉएड के बारे में बात करें. ये क्यों होती हैं? इनके लक्षण क्या हैं? बचाव और इलाज कैसे किया जाता है. डॉक्टर से पूछकर बताएं. तो सबसे पहले ये समझ लीजिए यूटेरिन फाइब्रॉएड है क्या.

thumbnail

Advertisement