The Lallantop
Advertisement

UP: गंगा स्नान करने जा रहे थे, ट्रैक्टर-ट्रॉली तालाब में गिरी, 22 की मौत

UP की Kasganj पुलिस के मुताबिक एक कार के चलते ट्रैक्टर-ट्रॉली तालाब में जा गिरी और क्या पता लगा?

Advertisement
uttar pradesh kasganj tractor trolley fell in pond 22 devotees dead accident
गंगा में डुबकी लगाने जा रहे थे श्रद्धालु (फोटो- सोशल मीडिया)
24 फ़रवरी 2024 (Updated: 24 फ़रवरी 2024, 14:50 IST)
Updated: 24 फ़रवरी 2024 14:50 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तर प्रदेश के कासगंज (Kasganj) में एक बड़े हादसे की खबर सामने आई है (Truck Accident). जानकारी है कि श्रद्धालुओं से भरी एक ट्रैक्टर ट्रॉली अचानक तालाब में गिर गई. घटना में अब तक 22 लोगों की मौत हो चुकी है. कई लोग हादसे में घायल भी हुए हैं.

घटना 24 फरवरी की है. माघ पूर्णिमा के मौके पर स्नान करने श्रद्धालु गंगा नदी की ओर जा रहे थे. तभी ट्रैक्टर ट्रॉली असंतुलित होकर 7 से 8 फीट गहरे तालाब में गिर गई और पलट गई. आसपास मौजूद लोगों ने श्रद्धालुओं को रेस्क्यू कर पास के जिला अस्पताल में भर्ती कराया. 

मरने वालों में 13 महिलाएं

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, दुर्घटना में आठ बच्चों और 13 महिलाओं समेत 22 लोगों की जान चली गई. शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. कासगंज में मुख्य चिकित्सा अधिकारी राजीव अग्रवाल ने मरने वालों की संख्या की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि लगभग दस लोग घायल हुए हैं. 

अलीगढ़ रेंज के IG शलभ माथुर ने हिंदुस्तान टाइम्स के साथ बातचीत में बताया कि सड़क पर एक कार से टक्कर से बचने की कोशिश में ट्रैक्टर के ड्राइवर ने कंट्रोल खो दिया. हादसे पर कासगंज की DM सुधा वर्मा ने जानकारी दी,

एटा से कुछ श्रद्धालु आज सुबह कासगंज जा रहे थे तभी ट्रॉली पलट गई. जब हादसा हुआ तो ट्रॉली में करीब 25-30 लोग बैठे थे. ग्रामीणों ने पीड़ितों को बचाया. ग्रामीणों को एक बच्चे के कीचड़ में फंसे होने की आशंका है. 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीड़ित परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की है. लिखा- ‘प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को शांति तथा घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें.’

ये भी पढ़ें- लखनऊ: मंदिर जा रहे थे लोग, ट्रैक्टर तालाब में पलटा, बचाओ-बचाओ चिल्लाते रहे, 10 की मौत

CM ने अधिकारियों को तुरंत मौके पर पहुंचने और राहत प्रयासों में तेजी लाने को भी कह दिया है. उन्होंने घायलों को समय पर उचित चिकित्सा उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए है. मरने वालों के परिवार के लिए 2-2 लाख रुपये और घायलों के लिए 50,000 रुपये के मुआवजे की घोषणा की गई है. 

कैबिनेट मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी और राज्य मंत्री अनूप प्रधान वाल्मीकि को घटनास्थल पर पहुंचने के निर्देश भी दिए गए हैं.

वीडियो: सोशल लिस्ट: ये ड्राइवर है या अजूबा! एक्सीडेंट हुआ ट्रक जिस हाल में ड्राइवर ने चलाया भरोसा नहीं होगा

thumbnail

Advertisement