The Lallantop
Advertisement

Sandeshkhali: शाहजहां शेख को बंगाल पुलिस ने किया गिरफ्तार, संदेशखाली हिंसा का था मुख्य आरोपी

Sandeshkhali हिंसा के मुख्य आरोपी और TMC नेता Shahjahan Sheikh को गिरफ्तार कर लिया गया है. शाहजहां को मिनाखन इलाके से गिरफ्तार किया गया.

Advertisement
Shahjahan Sheikh, Sandeshkhali, TMC leader
संदेशखाली हिंसा के मुख्य आरोपी और टीएमसी नेता शाहजहां शेख को गिरफ्तार कर लिया गया (फोटो:X)
29 फ़रवरी 2024 (Updated: 29 फ़रवरी 2024, 08:28 IST)
Updated: 29 फ़रवरी 2024 08:28 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

 पश्चिम बंगाल (West Bengal) का संदेशखाली (Sandeshkhali) हिंसा के मुख्य आरोपी और TMC नेता शाहजहां शेख (Shahjahan Sheikh) को गिरफ्तार कर लिया गया है. शाहजहां शेख को 28-29 फरवरी की दरम्यानी रात मिनाखन इलाके से गिरफ्तार किया गया है. TMC नेता की गिरफ्तारी कोलकाता हाई कोर्ट के आदेश के बाद हुई है. 29 फरवरी सुबह करीब पांच बजे शाहजहां को बशीरहाट में पुलिस लॉकअप में लाया गया है.  

मिनाखन के SDPO अमीनुल इस्लाम खान ने गिरफ्तारी की पुष्टि की. उन्होंने कहा कि बंगाल पुलिस ने TMC नेता शेख शाहजहां को नॉर्थ 24 परगना के मिनाखन इलाके से गिरफ्तार किया है. उसे 29 फरवरी को ही बशीरहाट कोर्ट में पेश किए जाने की खबर है. शाहजहां शेख  5 जनवरी 2024 से ही फरार चल रहा है. 

ED की टीम जैसे ही 5 जनवरी के दिन शाहजहां के घर पहुंची तो स्थानीय लोगों ने हमला कर दिया. ईडी के अधिकारियों को दौड़ाकर मारा गया. ईडी के तीन अधिकारी घायल हो गए. इस पूरी कवायद का फायदा उठाकर शाहजहां धामाखाली से भाग गया. 

BJP-TMC के बीच क्रेडिट वॉर

शाहजहां शेख की गिरफ्तारी को लेकर BJP और TMC आमने-सामने आ चुकी है. शेख शाहजहां की गिरफ्तारी पर पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांता मजूमदार ने कहा,

“BJP के लगातार आंदोलन के चलते यह सरकार शेख शाहजहां की गिरफ्तारी के लिए बाध्य हुई. पहले तो यह सरकार मान ही नहीं रही थी कि ऐसा कुछ हुआ है. आज हमारे और संदेशखाली की माताओं-बहनों के आंदोलन के वजह से सरकार और ममता बनर्जी, शेख शाहजहां की गिरफ्तारी के लिए बाध्य हुईं.”

जबकि उनकी गिरफ्तारी पर TMC नेता शांतनु सेन ने कहा कि TMC के इस राजधर्म से भाजपा को सीखना चाहिए. उन्होंने कहा,

“शेख शाहजहां की गिरफ्तारी यह साबित करती है कि हमारी सरकार प्रशासनिक तरीके से राजधर्म का पालन करती है. एक तरफ भाजपा शासित राज्यों में जहां आरोपी नेता खुले आम घूमते हैं वहीं आरोपी TMC नेता के खिलाफ अगर सबूत है तो हमारी प्रशासन उसे नहीं छोड़ती. TMC के इस राजधर्म से भाजपा को सीखना चाहिए.”

इससे पहले नंदीग्राम से विधायक सुवेंदु अधिकारी ने 28 फरवरी को ही ट्वीट कर शाहजहां शेख की गिरफ्तारी का दावा किया था. उन्होंने  सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर लिखा, 

“शाहजहां शेख 27 फरवरी की देर रात 12 बजे से ही पुलिस की कस्टडी में है. शाहजहां शेख ने प्रभावशाली मध्यस्थों के जरिए समझौता कर लिया कि पुलिस और न्यायिक हिरासत में उसकी पूरी सुरक्षा की जाएगी. इसके बाद उसे बरमाजुर ग्राम पंचायत से उठा लिया गया. जेल में रखे जाने के दौरान शाहजहां शेख को फाइव स्टार सेवाएं दी जाएंगी और उसे मोबाइल फोन मुहैया कराया जाएगा, जिसके जरिए वह वर्चुअल तरीके से टीएमसी का नेतृत्व करेगा. भाजपा नेता ने कहा कि अगर शाहजहां शेख का मन होगा तो सरकारी एसएसकेएम अस्पताल के वुडबर्न वार्ड में उसके लिए एक बेड खाली और तैयार रखा जाएगा, ताकि वह बाहर कुछ समय बिता सके.”

जबकि शांतनु सेन ने सुवेंदु अधिकारी के इस दावे को झूठा बताया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक TMC नेता शांतनु सेन ने कहा कि सुवेंदु खबरों में बने रहने के लिए ऐसे दावे करते हैं, जो झूठा है.

वीडियो: कौन है शाहजहां शेख, जिसकी वजह से ममता सरकार की भद्द पिट रही है?

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement