The Lallantop
Advertisement

रेलवे अधिकारी की बेटी के जूते 'चोरी', पुलिस ने रात-दिन एक किया, आरोपी मिली तो सब हैरान रह गए

जूतों की कीमत क्या है?

Advertisement
railway police drm daughter shoe stolen
सांकेतिक फोटो. (इंडिया टुडे और Unsplash.com)
15 फ़रवरी 2023 (Updated: 15 फ़रवरी 2023, 09:47 IST)
Updated: 15 फ़रवरी 2023 09:47 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तर प्रदेश के बरेली में गवर्नमेंट रेलवे पुलिस (GRP) ने कमाल कर दिया. उसने ओडिशा के डिविजनल रेलवे मैनेजर (DRM) की बेटी के खोए हुए जूते ढूंढ निकाले हैं. बीती 4 जनवरी को DRM विनीत सिंह की बेटी के जूते ट्रेन यात्रा के दौरान खो गए थे. आरोप लगाया गया कि बगल वाली सीट पर बैठी महिला ने अधिकारी की बेटी के जूते चुराए हैं. इसके बाद ओडिशा स्थित संबलपुर GRP में घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई गई. खोया सामान किसी आम आदमी का होता तो उसका मिलना किस्मत के भरोसे होता. लेकिन यहां मामला सीनियर रेलवे अधिकारी से जुड़ा था, इसलिए जूते ढूंढने के लिए पुलिस ने रात-दिन एक कर दिया. बाकायदा दो मंडलों की रेलवे पुलिस लगाई गई. करीब डेढ़ महीने की कड़ी मशक्कत के बाद जूते ढूंढ लिए गए.

जूता ले जाने वाली निकली डॉक्टर

आजतक से जुड़े कृष्ण राज की रिपोर्ट के मुताबिक गायब हुए जूतों की कीमत दस हजार रुपए है. इन्हें पहनने वाली मानवी सिंह बीती 3 जनवरी को दिल्ली से लखनऊ की यात्रा कर रही थीं. उनके साथ दूसरी बर्थ में एक अन्य महिला भी थी. मानवी ने बताया कि 4 जनवरी को सुबह पौने चार बजे के आसपास वो महिला बरेली जंक्शन पर उतर गई. उसके कुछ देर बाद मानवी को जब अपने जूते नहीं मिले तो उन्हें उसी महिला पर शक हुआ. ये जानकारी उन्होंने अपने पिता विनीत सिंह को दी जो संबलपुर ईस्ट कोस्ट रेलवे में DRM के पद पर कार्यरत हैं. उन्होंने अगले ही दिन अपने इलाके की GRP पुलिस को रिपोर्ट किया.

इसके बाद संबलपुर की GRP ने बरेली की रेलवे पुलिस के साथ मिलकर एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया. उन्होंने उस महिला को ढूंढ निकाला जो मानवी सिंह की बाजू वाली सीट पर रेल यात्रा कर रही थी. महिला के रेलवे टिकट से मिली जानकारी के जरिये पुलिस महिला तक पहुंची. तब पता चला कि वो पेशे से डॉक्टर है. मूल रूप से ओडिशा की रहने वाली है. बरेली में चिकित्सा सेवाएं देती है.

आरोपी एक डॉक्टर है ये जान सभी हैरान रह गए. रिपोर्ट के मुताबिक इस महिला ने मानवी सिंह के जूते पहनकर निकल जाने की बात कबूली है. लेकिन ये भी बताया कि उसने कोई चोरी नहीं की, बल्कि गलती से मानवी सिंह के जूते पहन लिए. पुलिस ने महिला से जूते बरामद कर लिए हैं. फिलहाल पुलिस उसकी पहचान उजागर नहीं कर रही है. ऐसा बताया गया है कि मानवी सिंह और आरोपी डॉक्टर के बीच बातचीत के बाद सहमति बन गई है. वहीं पुलिस कह रही है कि वो मामले की जांच कर रही है.

वीडियो: वायरल वीडियो में लड़की ने जूते से ज़ोमैटो वाले को पीटा, लोग बोले - 'छूट दोगे, तो ऐसा ही होगा'

thumbnail

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स

Advertisement

Advertisement