The Lallantop
Advertisement

लोकसभा की सुरक्षा से जुड़ा ये बड़ा पद अक्टूबर से खाली था, घुसपैठ हुई तो जागी सरकार

संसद में हुई सुरक्षा चूक (Sansad Security Breach) के एक दिन बाद ही गृह मंत्रालय ने राज्य सरकारों को चिट्ठी लिखी. लिखा कि संयुक्त सचिव (सुरक्षा) का पद खाली है, नाम सुझाइए.

Advertisement
MHA asked states to send nominations for joint secretary security in Lok Sabha Secretariat.
संसद में 13 दिसंबर को सागर और मनोरंजन नाम के 2 आरोपी अचानक सार्वजनिक गैलरी से सांसदों के बीच कूद गए. (फोटो क्रेडिट - रॉयटर्स)
font-size
Small
Medium
Large
18 दिसंबर 2023 (Updated: 18 दिसंबर 2023, 17:51 IST)
Updated: 18 दिसंबर 2023 17:51 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

संसद में हुई सुरक्षा चूक (Parliament Security Breach) के एक दिन बाद ही गृह मंत्रालय ने राज्य सरकारों के सभी मुख्य सचिवों को एक चिट्ठी लिखी. इसमें उन्होंने लोकसभा सचिवालय में संयुक्त सचिव (सुरक्षा) के पद के लिए नामांकन भेजने को कहा है. ये पद पिछले 48 दिनों से खाली है.

इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गृह मंत्रालय ने 14 दिसंबर को अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मिजोरम और केंद्र शासित प्रदेशों को छोड़कर सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को ये चिट्ठी लिखी. इस बारे में अंडर सेक्रेटरी संजीव कुमार ने बताया कि लोकसभा सचिवालय में संयुक्त सचिव(सुरक्षा) के पद को प्रतिनियुक्ति पर भरा जाना है. लोकसभा सचिवालय में वेतन मैट्रिक्स पर लेवल-14 में इस पद को भरने की प्रक्रिया चल रही है.

संजीव कुमार ने आगे ये भी बताया कि लोकसभा सचिवालय में संयुक्त सचिव(सुरक्षा) के लिए केंद्र में IG स्तर के पदों पर रह चुके भारतीय पुलिस सेवा(IPS) के अधिकारियों को नियुक्त किया जाएगा. इसके लिए राज्य सरकारों से कहा गया है कि वे पात्र और इच्छुक IPS अधिकारियों के नामंकन भेजें. साथ ही, इन्हें 20 दिसंबर तक गृह मंत्रालय में ई-मेल के जरिए भेजा जाए.

नवंबर से खाली है संयुक्त सचिव का पद

रिपोर्ट में एक अधिकारी के हवाले से बताया गया कि लोकसभा सचिवालय में नवंबर 2023 के पहले हफ्ते से संयुक्त सचिव(सुरक्षा) का पद खाली है. इससे पहले IPS रघुबीर लाल संयुक्त सचिव(सुरक्षा) थे. वे उत्तर प्रदेश कैडर से 1997 बैच के IPS अधिकारी हैं. नवंबर के पहले हफ्ते में उनका ट्रांसफर उत्तर प्रदेश में ही अतिरिक्त महानिदेशक(Additional DG) के पद पर हो गया था. IPS रघुबीर लाल के प्रतिनियुक्ति कार्यकाल को पिछले साल 20 अक्टूबर तक के लिए बढ़ाया गया था.

ये भी पढ़ें- संसद की सुरक्षा चूक पर क्या बड़ा एक्शन लिया गया?

IPS रघुबीर लाल के ट्रांसफर के बाद से एक डायरेक्टर स्तर के अधिकारी अस्थायी तौर पर संयुक्त सचिव(सुरक्षा) का कार्यभार देख रहे हैं. संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान 13 दिसंबर को शून्यकाल में 2 घुसपैठिए सार्वजनिक गैलरी से लोकसभा कक्ष में कूद गए. ये घटना दोपहर डेढ़ बजे के करीब हुई. सदन में रोज की तरह कार्यवाही चल रही थी. तभी अचानक दो लोग सांसदों के बीच कूद गए. इनकी पहचान सागर और मनोरंजन नाम के व्यक्तियों के रूप में हुई है. संसद में घुसपैठ करने वाले आरोपियों ने अपने जूतों में कलर स्मोक कैन छिपा रखे थे. उन्होंने अपने जूतों से ये कलर स्मोक कैन निकाले और लोकसभा कक्ष में उन्हें उड़ाने लगे.

ये देखकर सदन में अफरा-तफरी मच गई. कई सांसदों ने मिलकर इन दोनों को पकड़ा. तब तक सुरक्षाबल के जवान भी अंदर आ गए. फिलहाल इस घटना में शामिल सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. दिल्ली पुलिस ने बताया है कि गिरफ्तार हुए 4 आरोपियों पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की ट्रेसपासिंग की धारा 452, आपराधिक साजिश की धारा 120-B, 153, 186, 353 और UAPA की धाराओं 16 और 18 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है.

ये भी पढ़ें- संसद में घुसपैठ करने वालों पर लगा UAPA का केस

वीडियो: संसद के आरोपी ललित झा की तस्वीरों को लेकर BJP विपक्ष से सवाल कर रही

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement