The Lallantop
Advertisement

पैराग्लाइडिंग कर रही महिला की सेफ्टी बेल्ट खुली, ऊंचाई से गिरकर मौत

Kullu Paragliding Accident: दुर्घटना कुल्लू के डोभी इलाके की है. बताया जा रहा है कि पैराग्लाइडिंग के दौरान महिला का सेफ्टी बेल्ट खुल गया था.

Advertisement
Kullu paragliding accident
जिस साइट पर हादसा हुआ, वहां फिलहाल पैराग्लाइडिंग रोक दी गई है. (सांकेतिक तस्वीर: आजतक)
12 फ़रवरी 2024 (Updated: 12 फ़रवरी 2024, 19:34 IST)
Updated: 12 फ़रवरी 2024 19:34 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू (Kullu, Himachal Pradesh) में पैराग्लाइडिंग के दौरान सेफ्टी बेल्ट खुलने से एक महिला की गिरकर मौत हो गई. दुर्घटना कुल्लू के डोभी इलाके की है, जिसके बाद यहां पैराग्लाइडिंग फिलहाल रोक दी गई है. पुलिस ने पैराग्लाइडर पायलट के खिलाफ लापरवाही का केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं. 

घटना 11 फरवरी की है. आजतक से जुड़े मनमिंदर अरोड़ा की रिपोर्ट के मुताबिक 26 साल की नव्या अपने पति के साथ हिमाचल प्रदेश घूमने आई थीं. पैराग्लाइडिंग करने नव्या डोभी पहुंची थीं. लेकिन इस दौरान सेफ्टी बेल्ट खुल गई. और नव्या आसमान से नीचे एक घर की छत पर गिर गईं. उनकी मौत हो गई. नव्या के शव का कुल्लू के एक हॉस्पिटल में पोस्टमॉर्टम कराया गया. इसके बाद उनका शव परिवार को अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया गया है.

ये भी पढ़ें- हिमाचल परफ्यूम फैक्ट्री में अचानक लगी आग, बचने के लिए छत से कूदीं महिलाएं, 5 की मौत

बढ़ रहे हैं पैराग्लाइडिंग हादसे

जिला पर्यटन विकास अधिकारी सुनयना शर्मा ने बताया कि जिस साइट से पैराग्लाइडर ने उड़ान भरी थी, वो साइट और पैराग्लाइडर विभाग के पास रजिस्टर्ड हैं और पैराग्लाइडिंग पायलट के पास लाइसेंस भी था. कुल्लू के कलेक्टर तोरुल एस रवीश ने मामले की मजिस्ट्रेट जांच शुरू कर दी है.

इससे पहले भी कुल्लू जिला से पैराग्लाइडिंग के दौरान हादसा होने के मामले सामने आए हैं. इनमें से अधिकतर मामलों में हवा के रुख को न भांपना और अधिक उड़ानों का दबाव मुख्य वजह है. 2018 से अब तक कुल्लू की अलग-अलग पैराग्लाइडिंग साइट में हुए हादसों में 8 लोगों की जान जा चुकी है. इसके अलावा कांगड़ा जिले की बीड़ बिलिंग साइट से उड़ान भरने वाले 11 लोगों की मौत इस अवधि में हो चुकी है. पैराग्लाइडिंग के दौरान प्रदेश में लगातार हो रहे हादसों से नियमों पर सवाल उठने लगे हैं.

कुल्लू में पैराग्लाइडिंग संघ के अध्यक्ष पवन शर्मा ने महिला पर्यटक की मौत पर संवेदना जाहिर की है. उन्होंने बताया कि पैराग्लाइडर हमेशा नियमों का पालन करते हैं. आने वाले समय में इस तरह का हादसा ना हो, इसके लिए पैराग्लाइडर पायलट को भी विशेष दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे. पर्यटन विभाग की ओर से भी पैराग्लाइडिंग संगठन के साथ एक बैठक की जाएगी और नियमों का पालन हो सके इसके लिए जरूरी निर्देश दिए जाएंगे.

ये भी पढ़ें- हरदा हादसा: हरकत में है प्रशासन, 4 पटाखा गोदाम सील, कई जगहों पर चल रही है जांच

वीडियो: महिला ने पैराग्लाइडिंग शुरू ही की थी कि ऐसा भयानक हादसा हो गया

thumbnail

Advertisement