The Lallantop
Advertisement

पाकिस्तान में भयानक दंगा - इमरान के साथियों ने मेट्रो स्टेशन में आग लगा दी!

पुल से गिरकर कार्यकर्ता की मौत हुई, जानिए और क्या क्या हुआ पाकिस्तान में?

Advertisement
Imran Khan long march
लॉन्ग मार्च के दौरान पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (बाएं) और आगजनी की तस्वीर (दाएं)
26 मई 2022 (Updated: 26 मई 2022, 15:11 IST)
Updated: 26 मई 2022 15:11 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने पाकिस्तान सरकार से जल्द नए चुनाव कराने की मांग की है. उन्होंने चेताया है कि सरकार अगले छह दिनों के अंदर चुनाव की घोषणा करे, नहीं तो वे फिर से लाखों लोगों के साथ मार्च करेंगे. इसी मांग को लेकर 25 मई को इमरान खान और उनके समर्थकों ने लॉन्ग मार्च किया. हिंसा भड़कने की खबरें भी आई हैं. रिपोर्ट्स हैं कि इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक ए इंसाफ (PTI) के समर्थकों ने कथित तौर पर एक मेट्रो स्टेशन में आग लगा दी.

पाकिस्तान में क्या-क्या हुआ, एक नजर

1 - अप्रैल में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद से हटाए गए इमरान खान की मांग है कि देश में नये सिरे से जल्द चुनाव कराए जाएं. उन्होंने अपने समर्थकों से इस्लामाबाद के डी-चौक पर एक 'शांतिपूर्ण' विरोध रैली के लिए इकट्ठा होने का आह्वान किया था. पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि इमरान की विरोध रैली को मंजूरी दी जाए. इसके साथ ही कोर्ट ने इमरान खान की गिरफ्तारी पर भी रोक लगाई थी.

2 - 25 मई को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी जमा होने लगे. उन्होंने बैरिकेड्स हटाना शुरू कर दिया, जिससे पुलिस से उनकी झड़प हो गई.

3 - पाकिस्तान के सत्तारूढ़ दल के मुताबिक डी-चौक पर रैली करने का इमरान खान का फैसला सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन है क्योंकि कोर्ट ने उनकी पार्टी को राजधानी शहर के एच-9 सेक्टर के एक मैदान में रैली करने को कहा था.

4 - लॉन्ग मार्च के दौरान झड़प शुरू होने के बाद, पुलिस ने सैकड़ों पीटीआई कार्यकर्ताओं और उसके कुछ नेताओं को गिरफ्तार किया. पाकिस्तान के टीवी चैनलों ने पंजाब प्रांत में पुलिस को आंसू गैस के गोले दागते और पीटीआई समर्थकों की पिटाई करते हुए दिखाया. लाहौर के लिबर्टी चौक इलाके में पुलिस फायरिंग में कई महिलाओं और बच्चों के भी घायल होने की खबर है.

5 -  डी-चौक की ओर बढ़ रहे कथित तौर पर पीटीआई समर्थकों के एक ग्रुप ने चाइना चौक मेट्रो स्टेशन में आगजनी की और कई पेड़ों को उखाड़ दिया.

6 - हिंसा के दौरान कई पेड़ों और झाड़ियों को भी आग के हवाले करने का दावा किया जा रहा है.

7 - इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक इस बीच एक पीटीआई कार्यकर्ता फैसल अब्बास चौधरी की मौत की भी खबर है. बताया जा रहा है कि कार्यकर्ता की मौत लाहौर के बत्ती चौक के पास एक पुल से गिरने के कारण हुई. पार्टी नेता शफकत महमूद का आरोप है कि पुलिस ने कार्यकर्ता को पुल से धक्का दिया.

8 - प्रदर्शनकारियों के हथियार ले जाने की खबरें भी सामने आईं, जिससे सत्ताधारी पार्टी के नेताओं में अटकलें तेज हो गई हैं कि प्रदर्शनकारियों ने हिंसा की योजना बनाई थी.

9 - इमरान खान ने 26 मई की सुबह हजारों प्रदर्शनकारियों को संबोधित किया और पाकिस्तान की सरकार को छह दिनों में चुनाव की तारीखों के ऐलान का अल्टीमेटम दिया है.

thumbnail

Advertisement

Advertisement