The Lallantop
Advertisement

मुंबई हिट एंड रन: आरोपी ने जहां पी शराब वहां चला बुलडोजर, अब विपक्ष ने क्या सवाल उठाए?

Worli Hit and Run: विपक्ष के नेता कह रहे हैं कि आरोपी को 3 दिन तक छिपाकर रखा गया ताकि मेडिकल टेस्ट में उसके शरीर में एल्कोहल ना पाई जाए.

Advertisement
mumbai hit and run case accused mihir shah bulldozer action on bar bmc
Mumbai Hit and Run Case में Bulldozer एक्शन. (फोटो: इंडिया टुडे)
font-size
Small
Medium
Large
10 जुलाई 2024
Updated: 10 जुलाई 2024 14:08 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

मुंबई के वर्ली हिट एंड रन मामले में मुख्य आरोपी मिहिर शाह को गिरफ्तार किया जा चुका है. इस बीच BMC ने एक बड़ी कार्रवाई की है. BMC ने उस बार के कुछ हिस्सों को तोड़ा है, जहां पर आरोपी ने अपने दोस्तों के साथ शराब पी थी. BMC के कर्मचारी 10 जुलाई की सुबह बुलडोजर (Mumabi Hit and Run Bulldozer) के साथ जुहू स्थिर बार पहुंचे. बार के जिन हिस्सों को तोड़ा गया, BMC ने उन्हें अवैध बताया है.

इस मामले में आरोपी मिहिर शाह की गिरफ्तारी घटना के तीन दिन बाद हुई है. इस बीच कांग्रेस और शिवसेना (उद्धव गुट) ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने जानबूझकर तीन दिन तक आरोपी लड़के को छिपाकर रखा ताकि मेडिकल जांच में उसके शरीर में एल्कोहल ना पाई जाए.

सवाल यह भी किया जा रहा है कि हादसे के बाद मिहिर तीन दिन तक कैसे छिपा रहा और आखिर वो पुलिस को मिला कैसे? इधर, पुलिस का कहना है कि मिहिर के दोस्त ने जैसे ही फोन ऑन किया वैसे ही जांच टीम ने लोकेशन ट्रेस कर ली और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

इससे पहले, 7 जुलाई को वर्ली के एट्रिया मॉल के पास एक तेज रफ्तार BMW ने स्कूटी सवार पति-पत्नी को टक्कर मार दी थी. टक्कर के बाद आरोपी मिहिर शाह ने कार नहीं रोकी और करीब 100 मीटर तक महिला बोनट पर लटकी रही.  फिर सड़क पर गिर गई. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस टक्कर से पति-पत्नी की मौत हो गई. वहीं आरोपी के बगल में ड्राइवर भी बैठा था.

रिपोर्ट्स के अनुसार, टक्कर मारने के बाद आरोपी ने अपने पिता को फोन किया और कार को बांद्र इलाके में छोड़कर फरार हो गया. आरोपी के पिता पालघर इलाके में शिवसेना (शिंदे गुट) के पदाधिकारी हैं.

ये भी पढ़ें- 'दोस्तों के साथ मर्सिडीज़ से आया, बियर पी और चला गया...', मुंबई हिट एंड रन केस और उलझा!

इस बीच विपक्ष लगातार हमलावर है. शिवसेना (उद्धव गुट) के नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि सरकार की तरफ से आरोपी को बचाने की कोशिश हो रही है. उन्होंने कहा कि आरोपी लड़का नशे में था और यह बात मेडिकल रिकॉर्ड में ना आए, इसलिए उसे तीन दिन तक छिपाकर रखा गया.

इधर, कांग्रेस नेता बालासाहेब थोराट ने भी देर से हुई गिरफ्तारी पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि आखिर ऐसा कैसे हुआ कि तीन दिन तक आरोपी लड़का फरार रहा और अब जाकर वो लड़का मिला है. उन्होंने कहा कि आरोपी के शरीर में शराब ना पाई जाए इसलिए उसको छिपाकर रखा गया. उन्होंने कहा कि पूरे महाराष्ट्र में हिट एंड रन केस हो रहे हैं.

वीडियो: Hit and Run Case: घटना के तुरंत बाद बदली ली सीट, मुंबई हिट-एंड-रन केस में नया खुलासा

thumbnail

Advertisement

Advertisement