The Lallantop
Advertisement

'मुख्तार अंसारी के घरवालों से मुलाकात के बाद असदुद्दीन ओवैसी को मिली धमकी', AIMIM का दावा

Asaduddin Owaisi ने यूपी के ग़ाज़ीपुर जाकर Mukhtar Ansari के परिवार से मुलाकात की थी. अब उनकी पार्टी AIMIM का कहना है कि इंटरनेशनल नंबर से कॉल करके ओवैसी को धमकाया जा रहा है.

Advertisement
Asaduddin Owaisi and Mukhtar Ansari
ओवैसी ने मुख्तार के परिवार से मुलाकात की थी. (फाइल फोटो: PTI)
pic
अब्दुल बशीर
font-size
Small
Medium
Large
4 अप्रैल 2024 (Updated: 4 अप्रैल 2024, 08:07 IST)
Updated: 4 अप्रैल 2024 08:07 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

गैंगस्टर और पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की मौत के बाद AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) उनके घर गए थे. UP के गाजीपुर में ओवैसी ने मुख्तार के परिजनों से मुलाकात की थी. अब खबर है कि इस मुलाकात के बाद उनको धमकियां मिल रही हैं.

इंडिया टुडे से जुड़े अब्दुल बशीर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, AIMIM ने दावा किया है कि ओवैसी को अज्ञात पते से धमकी भरे पत्र भेजे जा रहे हैं. साथ ही इंटरनेशनल नंबर्स से कॉल भी किया जा रहा है. पार्टी के प्रतिनिधियों ने कहा है कि मुख्तार के परिवार से मुलाकात के बाद से AIMIM प्रमुख को सोशल मीडिया पर भी धमकियां मिल रही हैं.

बीते 1 अप्रैल को ओवैसी ने मुख्तार अंसारी के परिवार से मुलाकात की थी. सोशल मीडिया X पर उन्होंने इस बात की जानकारी दी थी. उन्होंने लिखा था,

"मरहूम मुख्तार अंसारी के घर गाजीपुर जाकर उनके खानदान को पुरसा (सांत्वना) दिया. इस मुश्किल वक्त में हम उनके खानदान, समर्थक और चाहने वालों के साथ खड़े हैं. इंशा अल्लाह इन अंधेरों का जिगर चीरकर नूर आएगा. तुम हो 'फिरौन' तो 'मूसा' भी जरूर आएगा."

ये भी पढ़ें: 'मुख्तार अंसारी ही नहीं खाना चेक करने वाला बैरक इंचार्ज भी... ' अफजाल अंसारी ने बड़ा दावा कर दिया

इस मुलाकात के बाद ओवैसी ने कहा था कि मुख्तार की मौत के लिए राज्य सरकार जिम्मेदार है. उन्होंने लिखा,

“मुख्तार अंसारी की मौत न्यायिक हिरासत में हुई है इसके लिए राज्य सरकार जिम्मेदार है. उत्तर प्रदेश में जो भी हमारा मुखालिफ (विरोधी) है हम उनसे मुकाबला करेंगे. पिछले निकाय चुनाव में AIMIM का प्रदर्शन अच्छा था और 100 से ज्यादा पार्षदों ने जीत हासिल की थी.”

28 मार्च को मुख्तार अंसारी की मौत हो गई थी. बांदा जेल में हार्ट अटैक के बाद उसे बांदा मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. जहां उसकी मौत हो गई. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण हार्ट अटैक को बताया गया. लेकिन मुख्तार ने परिवार ने आरोप लगाया कि जेल में उसको जहर दिया गया था. मुख्तार ने कोर्ट को भी बताया था कि जेल में उसे जहर देकर मारने का प्रयास किया गया था. 

वीडियो: मुख्तार अंसारी की मौत के बाद किसे मिली जान से मारे जाने की धमकी?

thumbnail

Advertisement