The Lallantop
Advertisement

मम्मी ने कार पर ऐसा भी कौन सा स्टीकर लगा लिया कि स्कूलवालों ने बच्चे को निकाल ही दिया...

Only Fans अकाउंट प्रमोट करने के चक्कर में महिला के बच्चे को स्कूल से निकाल दिया गया.

Advertisement
michelle Cline only fans account
मां के प्रमोशन के चक्कर में बच्ची को स्कूल से निकाल दिया गया(फोटो: आजतक)
13 फ़रवरी 2024 (Updated: 13 फ़रवरी 2024, 13:20 IST)
Updated: 13 फ़रवरी 2024 13:20 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

कार पर स्टीकर लगाना हमारे देश में फैशन है. कोई बड़े शान से अपनी जाति या धर्म का ऐलान करता हुआ स्टीकर लगा लेता है तो कोई पुलिस, सरकार या प्रेस का. फिर ट्रैफिक वाले चालान करते हैं तो रोना धोना शुरु हो जाता है. मगर एक बच्चे को तो उसके स्कूल वालों ने महज इस लिए Rusticate कर दिया क्योंकि उसकी मम्मी की कार पर एक स्टीकर लगा था. आइए जानते हैं पूरा मामला.

ये खबर ओनली फैंस(Only Fans) से जुड़ी है. ओनली फैंस एक वेबसाइट है. अडल्ट वेबसाइट(Adult Website). खोलने पर वेबसाइट पूछती है कि क्या आपकी उम्र 18 साल या उससे ज्यादा है? ये वेबसाइट जो भारत में बैन नहीं है, लेकिन इस पर कंटेंट पोस्ट करना बैन है. इसी वेबसाइट के चक्कर में एक बच्ची को स्कूल से निकाल दिया गया. वजह बच्ची की मां. वो बच्ची के स्कूल के बाहर अपने ओनली फैन अकाउंट को प्रमोट कर रही थी. लेकिन सवाल उठता है कि कैसे? 

किसका अकाउंट है?

आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के फ्लोरिडा में रहने वाली 35 साल की मिशेल क्लाइन (Michelle Cline only fans account ) का पाइपर फॉन नाम से अपना ओनली फैंस अकाउंट है. इस पर वो कंटेंट पोस्ट करती हैं. और कई कंटेंट क्रिएटर अपने अकाउंट को किसी ना किसी तरह से प्रमोट करते हैं. ऐसा ही किया मिशेल ने. उन्होंने अपने कार के बैक ग्लास पर ओनली फैंस का स्टीकर लगाया हुआ था. मिशेल के बच्ची एक मिशनरी स्कूल में पढ़ती थी. वो अपनी बच्ची को उसी कार से स्कूल के मेन गेट तक छोड़ने भी जाती थीं. लेकिन स्कूल को इससे आपत्ति थी. 

ये भी पढ़ें: ट्रंप ने मोदी को फ्रेंडज़ोन किया, कहा-आई लव यू बट ओनली एज ए फ्रेंड

महिला ने क्या कहा? 

स्कूल ने उन्हें चेतावनी दी की वो बच्ची को अपनी कार से स्कूल के मेन गेट तक छोड़ने ना आएं. आरोप था कि मिशेल स्कूल के बाहर अपनी अडल्ट वेबसाइट का प्रचार कर रही हैं. और स्कूल को इससे आपत्ति है. बाद में स्कूल में पढ़ने वाले कई बच्चों के माता-पिता ने भी इस पर आपत्ति जताई. इस पर स्कूल ने उन्हें चेतावनी देते हुए बताया कि या वो अपनी कार से स्टीकर हटा दें या कार को स्कूल से दूर पार्क करें. क्योंकि कार पर लगा स्टिकर उनकी नीतियों के खिलाफ है. इसके लिए स्कूल ने मिशेल और उनके पति को एक लेटर भी भेजा था. लेकिन मिशेल ने स्टिकर हटाने के बजाए कार में और बढ़ा स्टीकर लगा लिया. इसके बाद स्कूल ने उनकी बच्ची को स्कूल से निकाल दिया. घटना को लेकर मिशेल का बयान भी सामने आया है. उन्होंने कहा,

'ये निश्चित रूप से अडल्ट कंटेंट है. मैं और मेरे पति बंद दरवाजे के पीछे वाइल्ड लाइफ जीते हैं और हमने इसे लोगों के साथ शेयर करने का फैसला किया है.'

स्टिकर हटाने वाली बात को लेकर उन्होंने बताया कि इस वेबसाइट पर कंटेंट से मिलने वाले पैसों से उनका घर चलता है. उनका कहना है कि जब ये वेबसाइट लीगल है तो इस पर आपत्ति क्यों? वहीं स्कूल का कहना है कि अगर वो स्टीकर हटा लेती हैं तो बच्ची को स्कूल में वापस रखा जा सकता है.

वीडियो: पॉर्न देखने वेबसाइट पर गए तो भारत सरकार जुर्माना लगा देगी? पूरा सच जानें, वरना होगा बड़ा नुक़सान

thumbnail

Advertisement