The Lallantop
Advertisement

मशहूर एक्ट्रेस के पति हैं गगनयान एस्ट्रोनॉट प्रशांत नायर, शादी के 40 दिन बाद हुआ खुलासा

मलयालम एक्ट्रेस Lena ने खुलासा किया है कि ग्रुप कैप्टन Prashant B Nair उनके पति हैं. एक्ट्रेस ने इस बात को सार्वजनिक नहीं किए जाने के पीछे का कारण भी बताया है.

Advertisement
lena, Gaganyaan, astronaut Prasanth Nair
मलयालम एक्ट्रेस लीना ने खुलासा किया है कि ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर उनके पति हैं (फोटो: lenaasmagazine)
28 फ़रवरी 2024 (Updated: 28 फ़रवरी 2024, 12:31 IST)
Updated: 28 फ़रवरी 2024 12:31 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने गगनयान मिशन के चारों एस्ट्रोनॉट्स (Gaganyaan Mission Astronauts) से मुलाकात कर उनके नाम सार्वजनिक कर दिए. भारत के पहले मानवयुक्त मिशन गगनयान में जो एस्ट्रोनॉट्स मिशन पर जाने वाले हैं, उन्हें PM मोदी ने एस्ट्रोनॉट्स विंग पहना दिए हैं. जिसके बाद से ही चारों एस्ट्रोनॉट्स ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर (Prashant B Nair), अंगद प्रताप, अजित कृष्ण और विंग कमांडर शुभांशु शुक्ला को लेकर काफी चर्चा हो रही है. इस बीच मलयालम एक्ट्रेस लीना (Lena) ने खुलासा किया है कि ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर उनके पति हैं.

एक्ट्रेस लीना ने 27 फरवरी को शादी के करीब 40 दिन बाद इस बात को सार्वजनिक किया है. उनके इस एलान के बाद से दोनों की शादी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. लीना के मुताबिक उन्हें PM मोदी की तरफ से अपने पति के नाम का एलान किए जाने का इंतजार था. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर शादी की तस्वीरें शेयर कर लिखा,

“27 फरवरी 2024 को हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी ने भारतीय वायु सेना के लड़ाकू पायलट ग्रुप कैप्टन प्रशांत बालकृष्णन नायर को प्रथम भारतीय अंतरिक्ष यात्री विंग से सम्मानित किया है. यह हमारे देश, हमारे केरल राज्य और व्यक्तिगत रूप से मेरे लिए एक ऐतिहासिक क्षण है. मुझे लंबे समय से इसका इंतजार था और आज वो दिन आ गया है. आधिकारिक तौर पर मिशन की संवेदनशीलता के नजरिए से गोपनीयता बनाए रखना जरूरी था. लेकिन अब बता सकती हूं कि मैंने 17 जनवरी, 2024 को पारंपरिक समारोह में प्रशांत के साथ अरेंज मैरिज की.”

एक्ट्रेस लीना की बात करें तो वो कई मलयालम और तमिल सिनेमा में अभिनय कर चुकी हैं. उनकी कुछ प्रमुख फिल्मों में 'कुट्टू', 'दे इंगोट्टू नोक्किये', 'बिग बी' और 'स्नेहम' शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: एस्ट्रोनॉट बनने की ट्रेनिंग कैसे होती है?

क्या है गगनयान मिशन?

इस मिशन के तहत अंतरिक्ष यात्रियों को 400 किलोमीटर की कक्षा में भेजा जाएगा और तीन दिन बाद उन्हें वापस पृथ्वी में सफलतापूर्वक लाया जाएगा. ये मिशन कई चरणों में होगा. सबसे पहले एक मानव रहित मिशन को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा. इसके सफल होने के बाद ही एस्ट्रोनॉट्स को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा. इस मिशन में जिस क्रू मॉड्यूल में बैठकर यात्री स्पेस में जाएंगे, उसी हिस्से को गगनयान कहा जा रहा है. क्रू मॉड्यूल दोहरी दीवार वाला केबिन है, जिसमें कई प्रकार के नेविगेशन सिस्टम, हेल्थ सिस्टम, फूड हीटर, फूड स्टोरेज, टॉयलेट आदि लगे हैं. गगनयान मिशन के सफल होने पर भारत दुनिया का ऐसा चौथा देश बन जाएगा, जिसने अंतरिक्ष में मानवयुक्त मिशन भेजा हो. इससे पहले अमेरिका, रूस और चीन ये उपलब्धि हासिल कर चुके हैं.




 

वीडियो: ISRO ने गगनयान के लिए मोदी सरकार से कितना पैसा मांगा और मिला कितना?

thumbnail

Advertisement

election-iconचुनाव यात्रा
और देखे

Advertisement

Advertisement