The Lallantop
Advertisement

ममता की राह पर केजरीवाल, क्या दिल्ली में कांग्रेस को एक भी सीट नहीं देंगे?

Lok Sabha Election News: अरविंद केजरीवाल ने एक ऐसा बयान दिया है, जिससे INDI गठबंधन की मुश्किलें और बढ़ती नजर आ रही हैं. केजरीवाल पहले ही पंजाब में सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का ऐलान कर चुके हैं.

Advertisement
Arvind Kejriwal, Congress, Lok Sabha
अरविंद केजरीवाल का हालिया बयान INDIA गठबंधन के लिए चिंताएं बढ़ा सकता है. (फाइल फोटो-PTI)
11 फ़रवरी 2024
Updated: 11 फ़रवरी 2024 19:12 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Election 2024) से पहले INDI गठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर माथापच्ची चल रही है. ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पहले ही बंगाल की सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी हैं. आम आदमी पार्टी ने पंजाब में अकेले चुनाव लड़ने की बात कही है. अब अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के तरनतारन में एक रैली के दौरान कहा कि उनकी पार्टी दिल्ली में सभी सात सीटें जीतेगी.

केजरीवाल ने कहा,

“दिल्ली के लोगों ने इस बार ठान लिया है कि वहां की सातों लोकसभा सीटें इस बार आम आदमी पार्टी को देंगे. एक छोटी सी पार्टी की 10 साल के अंदर पंजाब और दिल्ली में सरकार बन गई. गुजरात और गोवा में विधायक बन गए. जहां चुनाव लड़ते हैं, वहां खूब सारे वोट आते हैं. आज बीजेपी को डर है कि ये (AAP) इसी तरह आगे बढ़ते रहे तो एक दिन केंद्र में आम आदमी पार्टी की सरकार बन जाएगी.”

पंजाब में अकेले लड़ेगी AAP

इससे पहले केजरीवाल ने पंजाब में ही एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए घोषणा की थी कि उनकी पार्टी राज्य में सभी सीटों पर उम्मीदवार उतारेगी. केजरीवाल के मुताबिक आम आदमी पार्टी अगले 10-15 दिन में राज्य की सभी 13 लोकसभा सीट और चंडीगढ़ संसदीय सीट के लिए अपने उम्मीदवारों की घोषणा करेगी.

पंजाब की बात करें तो 13 लोकसभा सीटें हैं. कांग्रेस के छह मौजूदा सांसद हैं. राज्य में AAP का केवल एक सांसद है, जालंधर से सुशील कुमार रिंकू. ये सीट कांग्रेस सांसद संतोख चौधरी के निधन के बाद सीट खाली हुई थी, इसके बाद हुए लोकसभा उपचुनाव में सुशील ने सीट अपने नाम की थी.

ये भी पढ़ें: INDIA गठबंधन में टूट? ममता बनर्जी का ऐलान- 'लोकसभा चुनाव अकेले लड़ूंगी', कांग्रेस को खूब सुनाया

ममता दे चुकी हैं झटका

वहीं 24 जनवरी को बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने रुख साफ़ कर दिया था. ममता ने कहा था कि 2024 का चुनाव अकेले लड़ेंगी, गठबंधन में नहीं. कांग्रेस समेत 28 विपक्षी दलों के गठबंधन के लिए ये बहुत बड़ा झटका माना गया.  TMC प्रमुख ने सीट के बंटवारे को लेकर कांग्रेस पर मनमानी के आरोप लगाए थे. 

वीडियो: 'मुगलों से हमारा कोई संबंध नहीं'...योगी आदित्यनाथ ने बताया कैसे बदले गए म्यूजियम के नाम

thumbnail

Advertisement