The Lallantop
Advertisement

'शवों की कतार...'- गाजा के सबसे बड़े रिफ्यूजी कैंप पर इजरायल का हमला, दर्जनों की मौत

उत्तरी गाजा में जबालिया के एक रिफ्यूजी कैंप पर इजरायल के हमले में 50 से अधिक लोगों की मौत का दावा किया जा रहा है. इजरायली डिफेंस फोर्स के मुताबिक हमले में हमास के सेंट्रल जबालिया बटालियन के कमांडर इब्राहिम बियारी मारा गया है.

Advertisement
Palestinians search for casualties at the site of Israeli strikes on houses in Jabalia refugee camp in the northern Gaza Strip
हवाई हमलों के बाद लोगों की भीड़ (तस्वीर साभार: Reuters)
font-size
Small
Medium
Large
1 नवंबर 2023 (Updated: 19 नवंबर 2023, 10:41 IST)
Updated: 19 नवंबर 2023 10:41 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

हमास से चल रहे युद्ध में इजरायल (Israel Hamas War) ने गाजा पट्टी में जबालिया के एक रिफ्यूजी कैंप पर हवाई हमले (Gaza Jabalia Airstrike) किए हैं. यह गाजा का सबसे बड़ा रिफ्यूजी कैंप है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन हमलों में दर्जनों लोगों की मौत हो गई है. साथ ही अपार्टमेंट की बिल्डिंग को भी नुकसान हुआ है. हमास का कहना है कि इस हमले में 50 से अधिक लोग मारे गए हैं, वहीं 150 से अधिक घायल हुए हैं.

अंतरराष्ट्रीय न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इजरायली डिफेंस फोर्स (IDF) ने दावा किया है कि हमले में इब्राहिम बियारी (Ibrahim Biari) की मौत हो गई है. इब्राहिम हमास की सेंट्रल जबालिया बटालियन का कमांडर था. उसे 7 अक्टूबर को हुए हमले से जोड़ कर देखा जा रहा है. इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इब्राहिम 2004 में अशदोद बंदरगाह पर हुए आतंकवादी हमले से भी जुड़ा था. इस हमले में 13 इजरायलियों की हत्या कर दी गई थी. बियारी पर इन हमलावरों को अशदोद बंदरगाह भेजने का आरोप लगा था.

हालांकि, रॉयटर्स की रिपोर्ट में बताया गया है कि हमास के प्रवक्ता हाजेम कासिम ने कैंप में किसी भी सीनियर कमांडर के होने से इंकार किया है. 

ये भी पढ़ें: हमास के सामने सरेंडर करेगा इजरायल? नेतन्याहू ने दिया बड़ा मेसेज, अमेरिका ने बनाया प्लान!

ब्रिटिश मीडिया संस्थान द गार्जियन ने हमले के बाद का एक वीडियो डाला है. इसमें अस्पताल में घायलों की भीड़ और शवों की कतार दिख रही है. विस्फोट के कारण इस इलाके में बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं. आस-पास की टूटी हुई इमारतों में फिलिस्तीनी रेड क्रिसेंट के सदस्यों ने खोजबीन की. जिसके बाद कई लोगों को मृत मान लिया गया.

इससे पहले, हमास ने 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमला किया था. इसके बाद इजरायल ने गाजा पट्टी में बमबारी शुरू कर दी था. इजरायल ने जमीनी रास्ते से भी गाजा पट्टी में हमला किया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस लड़ाई में अब तक गाजा में 8 हजार से अधिक लोग मारे जा चुके हैं. मरने वालों में 3 हजार से अधिक बच्चे भी शामिल हैं. वहीं इजरायल में 1400 से अधिक लोगों के मारे जाने की जानकारी है.

ये भी पढ़ें: इजरायल-हमास जंग अब खत्म होगी? हमास ने दुनिया को अपनी शर्त बता दी!

thumbnail

Advertisement