The Lallantop
Advertisement

जिस सीट पर नरेंद्र मोदी चुनाव लड़ते थे, वहां एक लाख वोट से कौन जीता?

कभी विजय रूपाणी भी इसी सीट पर करते थे फाइट!

Advertisement
gujarat assembly election 2022 rajkot west seat
बीजेपी नेता डॉ. दर्शिता शाह, AAP नेता दिनेश जोशी और कांग्रेस उम्मीदवार मनसुख कलारिया. (फोटो: फेसबुक)
8 दिसंबर 2022 (Updated: 8 दिसंबर 2022, 16:46 IST)
Updated: 8 दिसंबर 2022 16:46 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

गुजरात की राजकोट पश्चिम (Rajkot West) सीट पर भारतीय जनता पार्टी को बंपर जीत मिली है. बीजेपी उम्मीदवार डॉ. दर्शिता शाह (Dr. Darshita Shah) ने कांग्रेस के मनसुखभाई कलारिया (Kalariya Mansukhbhai Jadavbhai) को एक लाख से अधिक वोटों के अंतर से हराया है.

चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, दर्शिता शाह को एक लाख 38 हजार 687 वोट मिले हैं. जबकि कांग्रेस प्रत्याशी मनसुखभाई कलारिया को 32 हजार 712 वोट मिले. तीसरे नंबर पर रहे आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी दिनेशकुमार मोहनभाई जोशी को कुल 26 हजार 319 वोट मिले हैं.

यदि मत प्रतिशत देखें तो बीजेपी प्रत्याशी शाह को करीब 68 फीसदी वोट मिले हैं. जबकि दूसरे स्थान पर रहे कांग्रेस उम्मीदवार को 16 फीसदी और AAP उम्मीदवार को 12.9 फीसदी वोट मिले हैं.

इस सीट पर कुल 13 प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा था. इसमें से अगर पहले तीन प्रत्याशियों को छोड़ दें तो तो बाकी उम्मीदवारों को NOTA से भी कम वोट मिले हैं. राजकोट पश्चिम विधानसभा सीट पर कुल 3419 वोट NOTA पर पड़े हैं.

राजकोट पश्चिम सीट का फाइनल रिजल्ट.
यहां बीजेपी को हराना मुश्किल!

यह विधानसभा सीट बीजेपी का गढ़ रही है. साल 1980 से बीजेपी ने इस सीट पर एक बार भी चुनाव नहीं हारा है. पार्टी के कई बड़े नेताओं ने यहां से चुनाव लड़ा है. इसमें नरेंद्र मोदी, वाजूभाई वाला और विजय रूपाणी शामिल है. मोदी ने फरवरी 2002 का उपचुनाव इसी सीट से जीता था.

यह विधानसभा सीट राजकोट लोकसभा के क्षेत्र में आती है. इस सीट पर साल 2019 का लोकसभा चुनाव बीजेपी ने ही जीता था. पार्टी के कुंदरिया मोहनभाई कल्याणजीभाई ने कांग्रेस के कगाथारा ललितभाई को 3 लाख 68 हजार 407 वोटों से हराया था.

पिछले चुनाव में क्या हुआ था

साल 2017 के विधानसभा चुनाव में राजकोट पश्चिम सीट पर कुल 15 उम्मीदवार उतरे थे. यहां बीजेपी को जीत मिली थी. पार्टी उम्मीदवार विजय रूपाणी ने कांग्रेस के इंद्रनील राजगुरु को 53 हजार 755 वोटों से हराया था. विजय रूपाणी को कुल एक लाख 31 हजार 586 वोट मिले थे. वहीं कांग्रेस के इंद्रनील राजगुरु को 77 हजार 831 वोट मिले थे.

तीसरे स्थान पर रहे बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार परमार विजयभाई सोमाभाई को 1,198 वोटों से संतोष करना पड़ा था.

इससे पहले साल 2012 के विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी को जीत मिली थी. तब पार्टी के वाजूभाई रुदाभाई वाला ने कांग्रेस के अतुल रसिकभाई रजनी को 24 हजार 978 वोटों से हराया था. 

इसी तरह साल 2007 के विधानसभा चुनाव में भी राजकोट पश्चिम सीट से बीजेपी जीती थी. उस वक्त वजुभाई वाला ने कांग्रेस के नथवानी कश्मिरा बकुलभाई को 9 हजार 856 वोटों से हराया था.

वीडियो: गुजरात बीजेपी अध्यक्ष सी आर पाटिल के प्रचार में शामिल ना होने की वजह नेतानगरी में पता चल गई

thumbnail

Advertisement