The Lallantop
Advertisement

हिमाचल में पंजाबी NRI से मारपीट, नेताओं ने कहा कंगना का 'बदला', 'पूरी बात' फिर पुलिस ने बताई

Himachal pradesh के डलहौजी (Dalhousie) में एक पंजाबी NRI के साथ मारपीट का मामला सामने आया है. पंजाब के नेताओं ने इस मामले को कंगना रनौत के थप्पड़ कांड से जोड़ा. फिर पुलिस ने बताया कि हुआ क्या था.

Advertisement
Kawaljit Singh Punjabi nri assaulted in himachal pradesh
NRI से मारपीट के बाद उसका हालचाल लेने पहुंचे बिक्रम सिंह मजीठिया | फोटो क्रेडिट: @bsmajithia और इंडिया टुडे
16 जून 2024 (Updated: 16 जून 2024, 19:00 IST)
Updated: 16 जून 2024 19:00 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

हिमाचल प्रदेश के डलहौजी में एक NRI से मारपीट का मामला सामने आया है. पंजाबी NRI कंवलजीत सिंह घूमने डलहौजी पहुंचे थे. यहां पार्किंग को लेकर हुए विवाद में कुछ लोगों ने उनके साथ मारपीट की. अमृतसर के एक अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है. उन्होंने दावा किया कि पंजाबी होने के कारण उन्हें निशाना बनाया गया. वहीं शिरोमणि अकाली दल और कांग्रेस ने इसको कंगना थप्पड़ कांड से जोड़ते हुए आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, पंजाब के NRI मामलों के मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल, अमृतसर के सांसद गुरजीत सिंह औजला और अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने हिमाचल प्रदेश सरकार से कार्रवाई की मांग की है. मजीठिया और औजला ने कहा कि ये मामला मंडी से सांसद और एक्ट्रेस कंगना रनौत के साथ हुई घटना से जुड़ा है. हाल ही में चंडीगढ़ हवाई अड्डे पर एक CISF जवान ने कथित तौर पर कंगना को थप्पड़ मारा था.
 
कंवलजीत सिंह का हालचाल लेने अस्पताल पहुंचे गुरजीत सिंह औजला ने दावा किया,  

हमलावरों ने कंगना का नाम लिया और कंवलजीत सिंह से कहा कि आपने उसके साथ जो किया, हमने आपके साथ किया. 

औजला ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण और गलत है. और इस मामले में वो हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहेंगे. वहीं अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया ने इस घटना की निंदा की. और आरोप लगाया कि कंगना के बयान के कारण ही हिमाचल प्रदेश में लोग पंजाब से आने वाले पर्यटकों को निशाना बना रहे हैं. पंजाब के NRI मामलों के मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने कहा कि वह इस मामले में कार्रवाई के लिए हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखेंगे.

ये भी पढ़ें - कंगना थप्पड़ कांड से जुड़े पोस्ट पर ऋतिक रोशन का रिएक्शन

कंवलजीत सिंह और उनकी स्पेनिश पत्नी 25 साल से स्पेन में रह रहे थे. और हाल ही में पंजाब लौटे थे. वो अपनी पत्नी और एक रिश्तेदार के साथ दो दिन पहले डलहौजी गए थे. सिंह का आरोप है कि पार्किंग के मुद्दे पर हुए विवाद के बाद करीब 100 लोगों के एक समूह ने उन पर हमला कर दिया. साथ ही उन्होंने पुलिस पर भी उदासीनता का आरोप लगाया. लेकिन हिमाचल के एक सीनियर IPS ऑफिसर ने उनके दावों को खारिज कर दिया.

आईजी (नॉर्थ रेंज) संतोष पटियाल ने 15 जून को पीटीआई को बताया, 

NRI कंवलजीत सिंह चंबा जिले के खजियार में कुछ महिलाओं की हस्तरेखा देख रहे थे. वहां मौजूद लोगों को यह पसंद नहीं आया. जिसके बाद उनके बीच हाथापाई हो गई. बाद में दोनों पक्षों ने पुलिस के सामने समझौता कर लिया.

संतोष पटियाल ने आगे बताया कि कंवलजीत सिंह ने लिखित में दिया था कि वह कोई कानूनी कार्रवाई नहीं चाहते. पटियाल के मुताबिक इसमें दो राज्यों या दो समुदायों के बीच विवाद जैसा कुछ भी नहीं है.

वीडियो: थप्पड़ कांड को लेकर कंगना की बहन ने पूरे पंजाब को ही लपेट लिया, पोस्ट में क्या-क्या लिखा?

thumbnail

Advertisement

Advertisement