The Lallantop
Advertisement

अतीक की हत्या पर मुख्तार अंसारी के भाई क्यों बोले- एक और एनकाउंटर होगा, ताकि…

मुख्तार अंसारी और उसके सहयोगियों के खिलाफ 49 आपराधिक मामले दर्ज हैं

Advertisement
Atique Ahmed Ashraf Murder Mukhtar Ansari Afzal Ansari Encounter
अतीक की 15 अप्रैल की रात को हत्या कर दी गई. (फोटो: इंडिया टुडे)
16 अप्रैल 2023 (Updated: 16 अप्रैल 2023, 14:57 IST)
Updated: 16 अप्रैल 2023 14:57 IST
font-size
Small
Medium
Large
whatsapp share

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में पुलिस कस्टडी में अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ (Atique Ahmed Ashraf Killing) की हत्या के बाद कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं. इस घटना पर BSP से सांसद और गैंगस्टर मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी (Afzal Ansari) ने सवाल उठाए हैं. मुख्तार अंसारी इस समय उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद है.

इंडिया टुडे से बात करते हुए अफजाल अंसारी ने कहा,

‘’प्रयागराज की घटना के बाद लोकतंत्र पर लोगों का विश्वास कैसे बना रहेगा? देश में कानून का राज है, उत्तर प्रदेश में उत्तम कानून व्यवस्था और हमारी भाषा है कि ठोक दो, मिट्टी में मिला देंगे, तो यही सब होगा.’’

अफजाल के इस बयान को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाने के तौर पर देखा जा रहा है. अफजाल अंसारी ने आगे कहा,

"कहीं ऐसा ना हो की इस घटना की जांच किसी एजेंसी को दे दी जाए और सच सामने आने से पहले ही अतीक के हत्यारों का भी एनकाउंटर हो जाए ताकि असली राज दफन हो सकें."

अफजाल अंसारी ने भाई मुख्तार अंसारी की सुरक्षा के सवाल पर कहा,

“साजिश सिर्फ एक जगह पर नहीं, हर जगह हो रही है. जिनके हाथ खुले छोड़ दिए हैं वो करते है, जो उनके ऊपर बैठा है, वो उनको शाबाशी देता है.”

मुख्तार अंसारी इस समय बांदा जेल में बंद है. वो पांच बार विधायक रह चुका है. मुख्तार अंसारी और उसके सहयोगियों के खिलाफ 49 आपराधिक मामले दर्ज हैं. उसकी करोड़ों की संपत्ति को आयकर विभाग जब्त कर चुका है. 

इससे पहले, 15 अप्रैल की रात अतीक अहमद और उनके भाई अशरफ की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. कथित हत्यारे  मीडियाकर्मी बनकर पहुंचे और दोनों भाईयों पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी. फिलहाल तीनों आरोपी पुलिस कस्टडी में हैं. उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हत्याकांड की जांच के लिए 3 सदस्यीय न्यायिक आयोग का गठन किया है. पूरे यूपी में धारा 144 लागू कर दी गई है.

वीडियो: अतीक और अशरफ की हत्या के बाद स्थानीय चश्मदीदों ने पुलिस पर क्या गंभीर आरोप लगाए?

thumbnail

Advertisement